समाचार
|| मुख्यमंत्री श्री चौहान ने की महंगाई भत्ते में 8 प्रतिशत वृद्धि की घोषणा || विधानसभा अध्यक्ष द्वारा सामान्य वर्ग कल्याण आयोग के नव-निर्मित भवन का उद्घाटन || किसानों के साथ फर्जीवाड़ा करने वाले बख्शे नहीं जायेंगे - मंत्री श्री पटेल || जल्द पूरी करें पंचायत आम निर्वाचन की तैयारियाँ || स्वाधीनता का अमृत महोत्सव - लोकतंत्र और नवभारत पर व्याख्यान माला आयोजित || क्रेडिट आउटरीच कैम्पेन - 15 नवम्बर तक जिलों में लगेंगे मैगा कैम्प || एमएसएमई विकास नीति से आत्म-निर्भर मध्यप्रदेश || कोरोना टीकाकरण में प्राप्त की महत्वपूर्ण उपलब्धि : स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी || विक्रमोत्सव-2021 - संस्कृति मंत्री सुश्री ठाकुर 24 अक्टूबर को करेगी शुभारंभ || नगरीय विकास मंत्री श्री सिंह 22 अक्टूबर को करेंगे सोन चिरैया आजीविका उत्सव का शुभारंभ
अन्य ख़बरें
अब मुरार क्षेत्र के लोगों को बेहतर इलाज के लिए दूर नहीं जाना पड़ेगा – केन्द्रीय मंत्री श्री सिंधिया
केन्द्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री श्री सिंधिया ने जिला चिकित्सालय मुरार में किया आईसीयू व ऑक्सीजन प्लांट का लोकार्पण और सीटी स्कैन के लिए भूमिपूजन, स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी और ऊर्जा मंत्री श्री तोमर भी हुए कार्यक्रम में शामिल
ग्वालियर | 14-अक्तूबर-2021
      जिला चिकित्सालय मुरार में आधुनिक चिकित्सा सेवाओं के नए आयाम जुड़े हैं। केन्द्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने गुरुवार को जिला चिकित्सालय में ऑक्सीजन प्लांट व 20 बिस्तरीय आईसीयू (गहन चिकित्सा इकाई) का लोकार्पण एवं सीटी स्कैन मशीन की स्थापना के लिए भूमिपूजन किया। इस मौके पर केंद्रीय मंत्री श्री सिंधिया ने कहा जिला चिकित्सालय में स्वास्थ्य सुविधाओं का विस्तार होने से मुरार क्षेत्र के लोगों को अब बेहतर स्वास्थ सेवाओं के लिए दूर नहीं जाना पड़ेगा। खुशी की बात है कि मुरार अस्पताल के उन्नयन के लिए प्रदेश सरकार ने हाल ही में 20 करोड़ रूपए की धनराशि मंजूर की है।
   मुरार जिला चिकित्सालय में आयोजित हुए स्वास्थ्य सेवाओं के लोकार्पण एवं भूमिपूजन कार्यक्रम की अध्यक्षता सांसद श्री विवेक नारायण शेजवलकर ने की। कार्यक्रम में प्रदेश के लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ प्रभूराम चौधरी व ऊर्जा मंत्री श्री प्रद्युम्न सिंह तोमर व विधायक श्री सतीश  सिकरवार बतौर विशिष्ट अतिथि मौजूद थे। साथ ही पूर्व विधायकगण सर्वश्री मुन्नालाल गोयल, रामवरण सिंह गुर्जर व मदन कुशवाह, साडा के पूर्व अध्यक्ष श्री जय सिंह कुशवाह व श्री राकेश जादौन, श्री जितेन्द्र गुर्जर, श्री अशोक जैन व श्री अशोक शर्मा सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण मंचासीन थे।
     केन्द्रीय मंत्री श्री सिंधिया ने कहा कि अगले 50 वर्षों को ध्यान में रखकर जिला चिकित्सालय में ऑक्सीजन प्लांट की स्थापना की गई है। साथ ही आधुनिक गहन चिकित्सा इकाई व सीटी स्कैन सहित अन्य सुविधायें जुटाई गई हैं। अस्पताल में बिस्तरों की संख्या भी बढ़ाई जा रही है, जिसके लिये धनराशि मंजूर हो चुकी है। उन्होंने कहा लगभग 45 वर्ष पहले मुरार में शुरू हुए इस छोटे से अस्पताल ने अब वटवृक्ष की तरह विशाल रूप ले लिया है। केन्द्रीय मंत्री श्री सिंधिया ने इस अवसर पर यह भी कहा कि जनसेवा के पथ पर सभी जनप्रतिनिधि मिलकर ग्वालियर के विकास के लिये कार्य करेंगे।
     प्रदेश के लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी ने कहा कि जिला चिकित्सालय मुरार के उन्नयन के लिये प्रदेश सरकार ने 20 करोड़ रूपए की धनराशि स्वीकृत की है। चिकित्सालय में बच्चों के लिये भी गहन चिकित्सा इकाई का निर्माण कराया गया है। अगले दो महीने के भीतर सीटी स्कैन मशीन लग जायेगी। इस अवसर पर उन्होंने यह भी कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा राज्य में 230 ऑक्सीजन प्लांट स्वीकृत किए गए थे, जिनमें से 166 ऑक्सीजन प्लांट शुरू हो गए हैं। जिनमें ग्वालियर के 4 ऑक्सीजन प्लांट शामिल हैं। डॉ. चौधरी ने कहा कि सिविल हॉस्पिटल हजीरा का भी आधुनिकीकरण और उन्नयन प्रदेश सरकार करा रही है।
   सांसद श्री विवेक नारायण शेजवलकर ने कहा कि मुरार जिला चिकित्सालय में आधुनिक चिकित्सा सुविधाओं के विस्तार से मुरार एवं उससे जुड़े ग्रामीण इलाके के लोगों के लिए उपयोगी सिद्ध होगा। उन्होंने कहा खुशी की बात है कि केन्द्र एवं राज्य सरकार स्वास्थ्य सुविधाओं के विस्तार पर विशेष ध्यान दे रही है।
   ऊर्जा मंत्री श्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने जिला चिकित्सालय मुरार एवं सिविल हॉस्पिटल हजीरा में स्वास्थ्य सुविधाओं के विस्तार हेतु धनराशि स्वीकृत करने के लिए स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी के प्रति आभार जताया।  
   क्षेत्रीय विधायक डॉ. सतीश सिकरवार ने कहा कि जिला चिकित्सालय में स्वास्थ्य सुविधाओं के नए आयाम जुड़ने से मुरार क्षेत्र के निवासियों के लिए खुशी की बात है। उन्होंने कहा कोरोना संकट के समय सभी ने ऑक्सीजन की कमी को महसूस किया है। यहां ऑक्सीजन प्लांट लगने से अब यह समस्या नहीं रहेगी। डॉ. सिकरवार ने केन्द्रीय मंत्री श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया से इसी तरह आगे भी क्षेत्र के विकास में सहयोग देने का आग्रह किया।  
   कार्यक्रम में कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह, पुलिस अधीक्षक श्री अमित सांघी व मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मनीष शर्मा समेत अन्य संबंधित अधिकारी मौजूद थे।

गंभीर मरीजों को मिलेगा बेहतर इलाज और जेएएच से दबाव कम होगा
   अत्याधुनिक आईसीयू के बनने से जिला चिकित्सालय मुरार में गंभीर मरीजों के बेहतर इलाज के लिए नया आयाम जुड़ा है। यहाँ पर गहन चिकित्सा इकाई शुरू होने से ग्वालियर- चंबल क्षेत्र के सबसे बड़े अस्पताल जेएएच से भी मरीजों का दबाव कम होगा। गहन चिकित्सा इकाई वार्ड में गंभीर मरीजों के इलाज के लिए 20 पलंग का इंतजाम किया गया है।

अब ऑक्सीजन की नहीं रहेगी कमी
   ऑक्सीजन प्लांट की स्थापना से जिला चिकित्सालय में अब ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं रहेगी और निर्वाध रूप से जरूरतमंद मरीजों को ऑक्सीजन की आपूर्ति हो सकेगी। प्लांट से प्रति मिनिट 200 लिटर अर्थात हर घण्टे 12 हज़ार लिटर ऑक्सीजन का उत्पादन होगा।

सीटी स्कैन मशीन से कमजोर परिवारों को फायदा-
   इसी तरह जिला चिकित्सालय में स्थापित होने जा रही आधुनिक सीटी स्कैन मशीन से खासतौर पर आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों को बड़ा फायदा होगा। यहाँ पर  सीटी स्कैन शुरू होने पर मरीजों को जाँच के लिए जेएएच या प्रायवेट सेंटर पर जाने की जरूरत नहीं रहेगी।
 
(7 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
सितम्बरअक्तूबर 2021नवम्बर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
27282930123
45678910
11121314151617
18192021222324
25262728293031
1234567

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer