समाचार
|| गाँव के विकास के लिए हर कदम आपके साथ : गृह मंत्री डॉ. मिश्रा || "घुमन्तू समुदाय वाचिक परम्पराएँ" विषय पर तीन दिवसीय संगोष्ठी 19 अक्टूबर से || प्रथम हॉकी इंडिया जूनियर बालक इंटर अकादमी नेशनल हॉकी चैंपियनशिप-2021 || स्व-सहायता समूह की महिलाओं में स्व-रोजगार के प्रति बढ़ता जुनून || राष्ट्रीय चैंपियनशिप में सैलिंग खिलाड़ियों ने 8 पदक जीते || मुख्यमंत्री श्री चौहान ने वरिष्ठ पत्रकार श्री चंद्रभान सक्सेना के निधन पर शोक व्यक्त किया || मुख्यमंत्री श्री चौहान ने नारियल का पौधा रोपा || राज्यपाल श्री पटेल ने हलाली डेम का किया भ्रमण || मतदाता जागरूकता हेतु स्वीप गतिविधियों का हो रहा आयोजन || लोकसभा उप निर्वाचन के लिए मतगणना 2 नवम्बर को सम्पन्न होगी
अन्य ख़बरें
आदर्श आचार संहित और कोविड प्रोटोकाल की गाइडलाइन का पालन करें
प्रेक्षकों ने ली अभ्यर्थियों की बैठक
सतना | 14-अक्तूबर-2021
   रैगांव विधानसभा उपनिर्वाचन 2021 के लिए भारत निर्वाचन आयोग द्वारा नियुक्त सामान्य प्रेक्षक, व्यय लेखा प्रेक्षक एवं पुलिस प्रेक्षक ने गुरुवार को रैगांव विधानसभा चुनाव लड़ने वाले सभी 16 अभ्यर्थियों एवं उनके निर्वाचक अभिकर्ताओं की परिचयात्मक बैठक लेकर उन्हें भारत निर्वाचन आयोग के दिशा-निर्देशों, आदर्श आचार संहिता, कोविड प्रोटोकाल की गाइडलाइन और व्यय लेखा संधारण संबंधी जानकारियां विस्तारपूर्वक दी। जिला निर्वाचन अधिकारी अजय कटेसरिया की अध्यक्षता में संपन्न बैठक में सभी अभ्यर्थियों से भारत निर्वाचन आयोग के दिशा निर्देशों और आदर्श आचार संहिता का कड़ाई से पालन करने की अपील की गई। इस मौके पर पुलिस अधीक्षक धर्मवीर सिंह रिटर्निंग ऑफिसर रैगांव नीरज खरे सहायक व्यय प्रेक्षक अशोक मिश्रा एवं व्यय लेखा टीम उपस्थित थी।
   भारत निर्वाचन आयोग द्वारा नियुक्त सामान्य प्रेक्षक जे0 रंजीत कुमार, पुलिस प्रेक्षक धर्मेंद्र सिंह और व्यय लेखा प्रेक्षक आशीष सिन्हा ने अपने-अपने ई-मेल, मोबाइल और व्हाट्सएप नंबर अभ्यर्थियों को उपलब्ध कराते हुए किसी शिकायत एवं समस्या के लिए संपर्क करने की सलाह दी। प्रेक्षकों ने कहा कि पूरी निर्वाचन प्रक्रिया में प्रेक्षक भारत निर्वाचन आयोग के आंख और कान की भूमिका में रहेंगे और हर गतिविधि पर अपनी नजर बनाए रखेंगे। आदर्श आचार संहिता और भारत निर्वाचन आयोग के दिशा-निर्देशों का उल्लंघन कदापि नहीं करें।
   जिला निर्वाचन अधिकारी श्री कटेसरिया ने कहा कि निर्वाचन की घोषणा के साथ ही जिले में आदर्श आचरण संहिता को प्रभावी रूप से क्रियान्वित करने पूरे जिले में धारा 144 के तहत प्रतिबंधात्मक आदेश लागू है। इसके साथ ही कोरोना से बचाव के लिए कोविड-19 प्रोटोकॉल संबंधी निर्देश भी लागू है। इस दौरान जिले में जो भी राजनैतिक गतिविधियां हो वह भारत निर्वाचन आयोग के दिशा निर्देशों के दायरे में होनी चाहिए। उल्लंघन पर कार्यवाही की जाएगी। सभी अभ्यर्थी अपना व्यय लेखा सही तरीके से तैयार करें और मतदान अवधि तक तीन बार रोस्टर की  तिथि के अनुसार रिटर्निंग ऑफिसर के पास प्रस्तुत कर अवलोकन कराएं। उन्होंने कहा कि प्रचार वाहन, लाउड स्पीकर, सभा इत्यादि की विधिवत सक्षम प्राधिकारी से पूर्व अनुमति लें और वाहन की अनुमति की मूल प्रति विंडस्क्रीन पर चस्पा करें
   जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि इस बार साइलेंस पीरियड 48 घंटे के बजाय 72 घंटे का होगा। चुनाव प्रचार प्रतिदिन सायं 7 बजे बंद कर दिया जाएगा और प्रातः 10 बजे के बाद ही शुरू हो सकेगा। पुलिस अधीक्षक धर्मवीर सिंह ने बताया कि आदर्श आचार सहिता का भली-भांति अध्ययन कर कड़ाई से पालन करें। प्रचार वाहनों का काफिला 5 वाहनों से ज्यादा नहीं होगा। पहले 5 वाहनों के बीच का गैप 100 मीटर की दूरी होती थी जिसे अब आधा घंटा पश्चात कर दिया गया है। घर-घर जाकर संपर्क करने, नुक्कड़ सभा, आम सभा आयोजित करने के लिए मापदंड और व्यक्तियों की संख्या निर्धारित है, इनका पालन करें।
   रिटर्निंग ऑफिसर नीरज खरे ने अभ्यर्थियों के निर्वाचन व्यय सीमा 30 लाख 80 हजार की जानकारी देते हुए बताया कि एक अभ्यर्थी को पूरे विधानसभा क्षेत्र में कुल 20 प्रचार वाहनों की अनुमति रहेगी। स्टार प्रचारकों के लिए तीन वाहनों को अनुमति दी जाएगी। उन्होंने बताया कि प्रत्येक अभ्यर्थी या उसके एजेंट को निर्धारित रोस्टर अनुसार  व्यय लेखा मतदान होने तक की अवधि में तीन बार रिटर्निंग ऑफिसर को अवलोकन कराना होगा। इसी प्रकार परिणाम घोषित होने के बाद 30 दिवस के भीतर निर्वाचन व्यय लेखा निर्वाचन कार्यालय में जमा करना होगा। इसी प्रकार अपराधिक पृष्ठभूमि वाले अभ्यर्थी अपने ऊपर चल रहे प्रकरणों के बारे में मतदान होने की तिथि तक तीन बार सर्वाधिक प्रचलित संख्या वाले समाचार पत्र और इलेक्ट्रॉनिक चौनल में प्रकाशन, प्रसारण सुनिश्चित कराएंगे और उसकी प्रकाशित प्रति सीडी रिटर्निंग ऑफिसर को प्रस्तुत करेंगे। सहायक व्यय लेखा प्रेक्षक एवं नोडल अधिकारी व्यय अशोक मिश्रा ने अभ्यर्थियों को निर्वाचन व्यय लेखा संधारित करने का प्रशिक्षण दिया।
(4 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
सितम्बरअक्तूबर 2021नवम्बर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
27282930123
45678910
11121314151617
18192021222324
25262728293031
1234567

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer