समाचार
|| राष्‍ट्रीय पशुधन मिशन के उद्यमिता विकास कार्यक्रमों में आवेदन की तिथि बढ़ी || मछुआ कल्याण और मछली पालन के लिए जल्द लाई जाएगी संशोधित मछुआ नीति || स्व-सहायता समूहों को ऋण दिलाने के कार्य को गति दी जाए: पंचायत मंत्री श्री सिसोदिया || मुख्यमंत्री श्री चौहान की मंशा के अनुरूप प्रदेश में नई शिक्षा नीति का प्रभावी क्रियान्वयन किया जाएगा- राज्यमंत्री श्री परमार || हैण्डलूम एक्सपोर्ट प्रमोशन काउंसिल की सदस्यता लेगा मध्यप्रदेश एच.एस.व्ही.एन || बीओटी शर्तों का उल्लंघन करने वालों के ठेके होंगे निरस्त: लोक निर्माण मंत्री श्री भार्गव || सभी शासकीय कार्यालयों में कम से कम 10 प्रतिशत विद्युत बचत सुनिश्चित करें - ऊर्जा मंत्री || संभावित निवेशकों से मिला मध्य प्रदेश सरकार का प्रतिनिधि-मंडल “दुबई वर्ल्ड एक्सपो-2020” || मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सशस्त्र झंडा दिवस पर प्रदान की सहयोग राशि || मुख्यमंत्री श्री चौहान ने स्मार्ट उद्यान में गूलर और पिथोरिया का पौधा रोपा
अन्य ख़बरें
पुलिस स्मृति दिवस पर शहीदों को दी गई शोक सलामी और श्रृद्धा सुमन की गई अर्पित
पुलिस स्मृति दिवस कर्तव्य पराणयता एवं देश की रक्षा का देता है संदेश-एडीजीपी
शहडोल | 21-अक्तूबर-2021
   पुलिस स्मृति दिवस पर आज पुलिस लाइन स्थित पुलिस शहीद स्मारक के परिसर में कार्यक्रम आयोजित किया गया। कार्यक्रम में पुलिस बल ने शोक संदेश, सलामी एवं श्रृद्धासुमन उन शहीद पुलिस कर्मियों को दी गई जो देश के सीमा सुरक्षा एवं आंतरिक सुरक्षा के लिए कर्तव्य पराणयता का पालन करते हुए शहीद हो गए।

   कार्यक्रम में विधायक जयसिंहनगर श्री जयसिंहनगर मरावी, अतिरिक्त उप पुलिस निदेशक श्री दिनेश चन्द्र सागर, कलेक्टर शहडोल श्रीमती वंदना वैद्य, पुलिस अधीक्षक श्री अवधेश कुमार सागर, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री मुकेश वैश्य, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व सोहागपुर श्री नरेद्र सिंह, उप पुलिस अधीक्षक यातायात श्री अखिलेश तिवारी, उप पुलिस अधीक्षक अजाक सुश्री सोनाली गुप्ता, उप पुलिस अधिक्षक श्री सचिन धुर्वे, रक्षित निरीक्षक श्री दिनेश मर्सकोले, शहीद श्री देवेन्द्र सोनी के पिता श्री विजय सोनी, समाजसेवी श्री कमल प्रपात सिंह, श्री आजाद बहादुर सिंह एवं श्री प्रदीप सिंह सहित पुलिस विभाग के अन्य अधिकारी, पुलिस के जावानों ने भी शहीद स्मारक में पुष्प चक्र चढ़ाकर सभी शहीदों को नमन किया।

  कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए अतिरिक्त उप पुलिस निदेशक श्री दिनेश चन्द्र सागर ने कहा कि यह पुलिस स्मृति दिवस कर्तव्य पराणयता, देश एवं समाज के लिए सब कुछ न्यौछावर करके देश की बाह्य एवं आंतरिक सुरक्षा करने के साथ हर कीमत पर अपनी मातृभूमि की अस्मिता की रक्षा करना सिखाता है। उन्होंने कहा कि 21 अक्टूबर 1959 के दिन भारतीय तिब्बत सीमा, पुलिस एवं केन्द्रीय रिजर्व पुलिस के बल के सैनिक भारतीय सीमा की गस्त में थे, तभी चीनी सैनिकों द्वारा भारतीय सैनिकों पर हमला कर 11 भारतीय वीर सपूतों को शहीद कर दिए। उनके स्मृति में समूचे भारत में प्रत्येक वर्ष आज के दिन पुलिस स्मृति दिवस के रूप में मनाया जाता है और पूरे भारत में शहीद हुए वीर जवानों को श्रृद्धासुमन अर्पित किया जाता है।

   कार्यक्रम को पुलिस अधीक्षक श्री अवधेश गोस्वामी ने संबोधित करते हुए कहा कि मातृ भूमि की रक्षा करते हुए अपना त्याग एवं बलिदान देने वाले पुलिस कर्मियों की जानकारी देते हुए बताया कि आज के दिन उनके किए गए बलिदान को आत्मसात कर देश की रक्षा एवं सुरक्षा का सबक लेना होगा। उन्होंने कहा कि जो शहीद हुए है वो हमें मातृ भूमि के रक्षा के लिए सब कुछ न्यौछावर करने का संदेश देता है। साथ ही सभी को यह प्रण लेना होगा कि हम देश की रक्षा तन-मन से करेंगे और शहीद पुलिस कर्मियों की शहादत को अमर बनाएंगे।


 
(48 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
नवम्बरदिसम्बर 2021जनवरी
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
293012345
6789101112
13141516171819
20212223242526
272829303112
3456789

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer