समाचार
|| इजराइली जल प्रबंधन विशेषज्ञ खजुराहो पहुंचे || राज्यपाल श्री पटेल तीन दिवसीय प्रवास पर आज आएंगे रीवा || तीन चरणों में होंगे पंचायत चुनाव - राज्य निर्वाचन आयुक्त श्री सिंह || कृषि मंत्री श्री कमल पटेल ने नेमावर में किये नर्मदा मैया के दर्शन || मंत्री डॉ. मिश्रा ने बाबा महाकाल, मंगलनाथ और शनिदेव के किये दर्शन || निःशुल्क चिकित्सा शिविर में दो दिन में लगभग 65 हजार लोग हुए लाभान्वित || तीन चरणों में होंगे पंचायत चुनाव - राज्य निर्वाचन आयुक्त श्री सिंह || जल जीवन मिशन में प्रशिक्षण और जन-जागरूकता का दौर जारी || राज्यपाल श्री पटेल एवं मुख्यमंत्री श्री चौहान ने चित्र प्रदर्शनी का किया अवलोकन || गरीबों और जनजातीय वर्ग की जिंदगी बदलने का अभियान चलाएँगे - मुख्यमंत्री श्री चौहान
अन्य ख़बरें
प्रधानमंत्री स्‍वरोजगार सृजन कार्यक्रम के तहत रोजगार हेतु आवेदक कर सकते है आवेदन
-
अशोकनगर | 21-अक्तूबर-2021
   मध्यप्रदेश शासन के सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम विभाग अन्तर्गत जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र, अशोकनगर द्वारा भारत सरकार की स्वरोजगार योजना प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम का संचालन संपूर्ण जिले के शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्र में किया जा रहा है। उक्‍ताशय की जानकारी देते हुए महाप्रबंधक जिला व्‍यापार एवं उद्योग केन्‍द्र श्री प्रकाश कुमार इंदोरे ने बताया कि योजना का उद्येश्‍य  परंपरागत कारीगरों एवं शिल्पियों को रोजगार उपलब्ध कराना एवं स्वयं का रोजगार स्थापित करने के इच्छुक व्यक्यिों को प्रोत्साहित करना है। योजनान्तर्गत स्वंय का उद्योग/सेवा क्षेत्र की इकाई हेतु बैको के माध्यम से ऋण उपलब्ध कराया जाता है। योजनान्तर्गत विनिर्माण क्षेत्र (मैन्युफैक्चरिंग) की इकाई स्थापित किये जाने हेतु परियोजना लागत रशि रू. 25 लाख तक की परियोजना प्रस्तुत की जा सकती है। इसी प्रकार सेवा क्षेत्र की इकाई स्थापित किये जाने हेतु परियोजना लागत राशि रू. 10 लाख तक की परियोजना प्रस्तुत की जा सकती है। आवेदक की आयु 18 वर्ष से अधिक होना चाहियें। विनिर्माण गतिविधि हेतु राशि रू. 10 लाख एवं सेवा गतिविधि हेतु राशि रू. 5 लाख से अधिक की परियोजना प्रस्तुत करने पर आवेदक की शैक्षणिक योग्यता कम से कम 8वीं पास होना आवश्‍यक है। योजनान्तर्गत सामान्य वर्ग के पुरूष को शहरी क्षेत्र मे परियोजना लागत का 15 प्रतिशत एवं ग्रामीण क्षेत्र में 25 प्रतिशत अनुदान की पात्रता होगी एवं आवेदको स्वंय का अंशदान स्वीकृत परियोजना लागत का 10 प्रतिशत जमा कराना होगा।
   इसके अतिरिक्त विशेष वर्ग-महिला/ अजा/ अजजा/ पिछडावर्ग/ अल्पसंख्यक/ दिव्यांग /एक्स-सर्विसमैनको शहरी क्षेत्र में परियोजना लागत का 25 प्रतिशत एवं ग्रामीण क्षेत्र में 35 प्रतिशत अनुदान की पात्रता होगी एवं आवेदको स्वयं का अंशदान स्वीकृत परियोजना लागत का 5 प्रतिशत जमा कराना होगा। योजनान्तर्गत स्थापित की जा सकने वाली इकाईयों में आटा निर्माण, दाल मिल, मसाला निर्माण, बेसन प्लांट, डिस्पोजेबल आइटम निर्माण, कृषि उपकरण निर्माण एवं फेब्रीकेशन, रेडीमेड वस्त्र निर्माण सीमेंट आर्टिकल्स निमार्ण, पेवर ब्लॉक निर्माण, पशु आहार निर्माण, मिल्क उत्पाद निर्माण, स्टोन कटिंग/पॉलिशिंग, लकडी फर्नीचर निर्माण, ढाबा/रेस्टोरेन्ट, सेंट्रिंग वर्क, टेंट हाउस केटरिंग सहित, ब्यूटी पार्लर, वाहन रिपेरिंग एवं सर्विसिंग, साइकिल रिपेंरिंग, विद्युत उपकरण रिपेरिंग, विद्युतमोटर/पम्प मरम्मत आदि है।योजनान्तर्गत आवेदन की www.kviconline.gov.in साइट से या एम.पी.ऑनलाईन के माध्यम से किया जा सकता है, हार्ड कॉपी में आवेदन स्वीकार नही होगें। वाहन, पशुपालन एवं व्यावसायिक गतिविधि से संबंधित प्रकरण स्वीकार नही किये जावेंगे।
(45 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
नवम्बरदिसम्बर 2021जनवरी
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
293012345
6789101112
13141516171819
20212223242526
272829303112
3456789

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer