समाचार
|| आधारशिला के समापन पर मलिक बंधुओं के ध्रुपद गायन ने बांधा समां राग जोग, महाकाल पद के साथ ही अन्य रचनाओं की दी सुरमयी प्रस्तुति श्रोता हुये मंत्रगुग्ध || विद्यालयों में सभी कक्षाएँ 50% क्षमता के साथ संचालित होगी :राज्य मंत्री श्री परमार || बनेगी बसई से भैरेश्वर तक सड़क - मंत्री डॉ. मिश्रा || स्वतंत्रता के बाद राष्ट्रीय पुनर्निर्माण के उद्देश्य से हुई एनसीसी की स्थापना-राज्य मंत्री श्री परमार || भोपाल को देश के प्रमुख शहरों की विमान सेवाओं से जोड़ने की माँग || मुख्यमंत्री श्री चौहान ने महात्मा फुले को पुण्य-तिथि पर किया नमन || मुख्यमंत्री श्री चौहान ने उर्वरक वितरण की समीक्षा की || प्रधानमंत्री श्री मोदी ने जनजातीय समुदाय के योगदान का किया स्मरण || मुख्यमंत्री श्री चौहान ने स्मार्ट उद्यान में लगाया पिंकेशिया और पीपल का पौधा || कोरोना के नए वेरिएंट से सिर्फ चिंतित नहीं सावधान भी रहें
अन्य ख़बरें
कलेक्टर ने पशु चिकित्सालयों का निरीक्षण कर व्यवस्थाओं को देखा
-
शाजापुर | 22-अक्तूबर-2021
      कलेक्टर श्री दिनेश जैन ने आज शाजापुर जिला मुख्यालय तथा गुलाना तहसील स्थित पशु चिकित्सालयों का निरीक्षण कर व्यवस्थाओं को देखा। कलेक्टर ने सर्वप्रथम शाजापुर के पशु चिकित्सालय का निरीक्षण करते हुए यहां बनाई गई पॉलिक्लिनिक में चल रहे पशुओं के उपचार का अवलोकन किया। इस दौरान उन्होंने पशु चिकित्सालय भवन का निरीक्षण कर शल्यक्रिया, टीकाकरण, औषधी भण्डार, अनुसंधान केन्द्र आदि कक्षों का निरीक्षण किया। इस अवसर पर उपसंचालक पशु चिकित्सा डॉ. ए.के. सिंह, सिविल सर्जन डॉ. एसके श्रीवास्तव, डॉ. लता घनघोरिया, डॉ. इंदिरा टाटावत, डॉ. रितिका सिंह, डॉ. महेश जारोलिया, डॉ. एनके सिंघल, डॉ. राजकुमार गामी, तहसीलदार श्री राजाराम करजरे सहित पशु चिकित्सा पैरामेडिकल स्टाफ भी मौजूद थे।
   शाजापुर चिकित्सालय के निरीक्षण के दौरान कलेक्टर ने जीर्ण-शीर्ण भवनों को डिस्मेंटल करने के प्रस्ताव बनाने और चिकित्सालय के पीछे की ओर भी बाउण्ड्रीवाल बनाने के लिए कहा। साथ ही उन्होंने तहसीलदार को चिकित्सालय के पीछे चिकित्सालय की भूमि का सीमांकन करने के लिए भी कहा। सिविल सर्जन डॉ. श्रीवास्तव ने चिकित्सालय की गतिविधियों से अवगत कराया। चिकित्सालय में उपचार की समुचित व्यवस्थाएं उपलब्ध होने पर कलेक्टर ने चिकित्सकों सहित स्टाफ की सराहना की।
   गुलाना में पशु चिकित्सालय का निरीक्षण करते हुए कलेक्टर ने ओपीडी में आने वाले पशुओं की जानकारी ली। साथ ही उन्होंने पूछा कि पशुओं में किसी तरह की महामारी के लक्षण तो नहीं आ रहे हैं। यदि संक्रामक रोगों के लक्षण दिखते हैं तो विभाग क्या करता है यह भी पूछा। यहां उपस्थित प्रभारी चिकित्सक डॉ. कौसर कादरी ने बताया कि वर्तमान में पशुओं में किसी तरह की महामारी नहीं है। वे दौरा कार्यक्रम बनाकर ग्रामों का भ्रमण कर पशुओं का मौके पर उपचार करते हैं।
   कलेक्टर ने पशु चिकित्सकों को निर्देश दिये कि सभी पालतु पशुओं को टेग लगाएं। साथ ही उन्होंने तहसीलदार श्री करजरे को निर्देश दिये कि जिन पशु पालकों द्वारा पशुओं को सड़कों पर आवारा छोड़ दिया गया है, उनके विरूद्ध कार्रवाई करें।

गौशाला का निरीक्षण
   कलेक्टर श्री दिनेश जैन ने गुलाना में संचालित गौशाला का निरीक्षण करते हुए यहां कि व्यवस्थाओं को देखा। गौशाला में पशुओं के लिए पर्याप्त चारा उपलब्ध था। कलेक्टर ने गौशाला के पीछे बने गड्ढों को भरने के निर्देश दिये। साथ ही उन्होंने पशुओं को खुला छोड़ने के लिए नायब तहसीलदार श्री संदीप इवने को निर्देश दिये कि चरनौई की भूमि खाली कराकर गौशाला के संचालकों को सुपुर्द करें। साथ ही उन्होंने कहा कि ग्रामवासी पशुओं को चराने के लिए चरनौई की भूमि का उपयोग करें। चरनौई की भूमि से पशु इधर-उधर नहीं जाए, इसके लिए बाउण्ड्री पर तार फैंसिंग जन सहयोग से कराएं।

कृषि उपज मंडी एवं महाविद्यालय के लिए आवंटित भूमि का अवलोकन
   गुलाना में महाविद्यालय के लिए आवंटित भूमि का निरीक्षण करते हुए कलेक्टर ने भूमि से अतिक्रमण हटाने के निर्देश तहसीलदार को दिये। इसी तरह कृषि उपज मंडी के लिए भी आवंटित भूमि का निरीक्षण कलेक्टर ने किया। कलेक्टर ने गुलाना में चिकित्सालय भवन निर्माण के लिए वर्तमान में संचालित महाविद्यालय की भूमि आवंटित करने के निर्देश दिये। साथ ही उन्होंने तहसीलदार को निर्देश दिये कि यहां स्थित जर्जर भवनों की सूची बनाएं और डिस्मेंटल करने के लिए प्रस्ताव तैयार करें। इस दौरान पीआईयू कार्यपालन यंत्री श्री कोमल भूतड़ा भी मौजूद थे।
 
(38 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
अक्तूबरनवम्बर 2021दिसम्बर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
25262728293031
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
293012345

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer