समाचार
|| पशुधन संजीवनी हेल्पलाइन टोल फ्री नंबर ‘‘1962’’ प्रारंभ || उड़द उपार्जन के लिए पंजीकृत कृषकों के उत्पाद का होगा भौतिक सत्यापन || सुपर-100 चयन परीक्षा एक जुलाई रविवार को || मध्यप्रदेश जैव प्रौद्योगिकी परिषद का विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी परिषद में विलय || किसान हित में ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी अपनी हड़ताल वापस लें || राष्ट्रीय कृषि-मनरेगा समिति जुलाई माह तक प्रस्तुत करेगी कार्य-योजना || मुख्यमंत्री श्रमिक सेवा प्रसूति सहायता योजना का प्रभावी क्रियान्वयन करें- कलेक्टर || वीरांगना रानी दुर्गावती को श्रृद्धासुमन अर्पित करने 24 जून को समाधि स्थल आयेंगे मुख्यमंत्री || स्कूलों के विद्यार्थियों की दक्षता आकलन के लिये बेसलाइन टेस्ट 25 जून से || सुपर-100 चयन परीक्षा एक जुलाई रविवार को
अन्य ख़बरें
समर्थन मूल्य पर धान खरीदी की तैयारियों की कलेक्टर ने की समीक्षा
-
बालाघाट | 01-सितम्बर-2017
 
   
    किसानों को उनकी उपज का वाजिब दाम दिलाने तथा बिचौलियों व दलालों के शोषण से किसानों को बचाने के लिए पूर्व वर्षों की भांति इस वर्ष भी समर्थन मूल्य पर धान खरीदी के व्यापक इंतजाम किये जायेंगें। खरीफ विपणन वर्ष 2017-18 में समर्थन मूल्य पर धान की खरीदी के लिए की जा रही तैयारियों की कलेक्टर श्री डी व्ही सिंह ने आज अधिकारियों की बैठक लेकर समीक्षा और उन्हें आवश्यक दिशा निर्देश दिये।
    बैठक में डिप्टी कलेक्टर एवं प्रभारी जिला आपूर्ति अधिकारी श्री गोविंद दुबे, उपायुक्त सहकारी समितियां, जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक की प्रबंधक, नागरिक आपूर्ति निगम के जिला प्रबंधक, जिला विपणन अधिकारी एवं मध्यप्रदेश वेयर हाउस कापोरेशन के जिला प्रबंधक उपस्थित थे।
    बैठक में बताया गया कि गत वर्ष 2016-17 में जिले में समर्थन मूल्य पर धान की खरीदी के लिए कुल 156 केन्द्र तथा मक्का की खरीदी के लिए 8 केन्द्र बनाये गये थे। बैठक में तय किया गया कि गत वर्ष जिन केन्द्रों पर 200 से कम किसानों का पंजीयन धान की खरीदी के लिए किया गया था और कम किसानों ने धान बेचा था ऐसे केन्द्र देवरबेली एवं बोरगांव को इस वर्ष बंद करने का निर्णय लिया गया। इसी प्रकार जिन केन्द्रों पर 800 से अधिक किसान पंजीकृत है ऐसे 15 केन्द्रों के किसानों को पास के केन्द्रों में संलग्न करने का निर्णय लिया गया। बैठक में बताया गया कि मार्केटिंग सोसायटी द्वारा बालाघाट, वारासिवनी, लालबर्रा व कटंगी में धान खरीदी केन्द्र प्रारंभ करने का प्रस्ताव दिया गया है।
    बैठक में बताया गया कि जिले में गत वर्ष मक्का की खरीदी के लिए 8 केन्द्र बनाये गये थे। लेकिन उनमें से किसी भी केन्द्र पर मक्का की खरीदी नहीं हुई। इस पर निर्णय लिया गया कि इस वर्ष मक्का की खरीदी के लिए बैहर में एक केन्द्र बनाया जायेगा।
    कलेक्टर श्री सिंह ने बैठक में अधिकारियों से कहा कि वे सुनिश्चित करें कि जिले में बनाये जाने वाले धान खरीदी केन्द्रों पर किसानों के वाहनों के आने-जाने के लिए पर्याप्त स्थान होना चाहिए। जहां पर वेयर हाउस के 5 हजार मिट्रीक टन क्षमता के गोदाम है वहां पर धान की खरीदी का केन्द्र बनाया जाये। धान खरीदी केन्द्रों की स्थिति ऐसी होना चाहिए कि किसानों को धान की बिक्री के लिए 5 किलोमीटर से अधिक दूर न जाना पड़े। खरीदी केन्द्र पर बिजली, जनरेटर एवं बोरों की सिंलाई के लिए कम से कम तीन मशीन होना चाहिए। नागरिक आपूर्ति निगम द्वारा सहकारी समितियों को धान की खरीदी के लिए जो  बारदाने दिये जायेंगें, उनमें से बारदाने खराब निकलने पर उन्हें नागरिक आूपर्ति निगम को वापस लेना होगा। धान की बिक्री के साथ ही किसान को कम्‍प्यूटर से निकली हुई रसीद मिल जाना चाहिए।
    कलेक्टर श्री सिंह ने अधिकारियों से कहा कि वे धान की खरीदी के दौरान बारदानों के वितरण पर पैनी नजर रखें। बारदाने खरीदी केन्द्र पर धान लेकर आने पर ही किसान को दिये जायेंगें। बारदाने के वितरण में अनियमितता नहीं होना चाहिए। इसी प्रकार खरीदे गये धान का परिवहन व्यवस्थित ढंग से होना चाहिए। सहकारी समिति से गोदाम के लिए धान ले जाने पर परिवहन किये जाने धान की बोरियों एवं वजन का सही हिसाब होना चाहिए और गोदाम में धान खाली करते समय बोरियों की संख्या एवं वजन का सही मिलान होना चाहिए। धान के परिवहन पर कड़ी निगरानी रखने के निर्देश दिये गये।
(293 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
मईजून 2018जुलाई
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
28293031123
45678910
11121314151617
18192021222324
2526272829301
2345678

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer