समाचार
|| पुराने कार्य शीघ्र पूर्ण करें, नहीं तो होगी कार्रवाई || कृषक पुरस्कार की प्रविष्टि 10 अगस्त तक आमंत्रित || वेतन निर्धारण के सम्बन्ध में आ रही समस्याओं का समाधान प्रशिक्षण के माध्यम से किया गया || पर्यटन व स्वच्छता का गहरा नाता-राज्यपाल श्रीमती पटेल || संयुक्‍त कलेक्‍टर ने किया कार्यभार ग्रहण || लेटरल एंट्री से बी.ई, एम.बी.ए. के द्वितीय वर्ष में प्रवेश || टी.एन.सी.पी. ने विशेष पखवाड़ा में निपटाये डेढ़ हजार से अधिक प्रकरण || प्रदेश के 20 जिलों में सामान्य से अधिक, 18 में सामान्य वर्षा दर्ज || सिवनीमालवा विधायक की विधायक निधि से एक निर्माण कार्य के लिए प्रशासकीय स्वीकृति जारी || 10 नवीन प्री-मेट्रिक छात्रावास खुलेंगे
अन्य ख़बरें
कलेक्टर ने भावान्तर भुगतान योजना के पंजीयन केन्द्रो का निरीक्षण किया
-
डिंडोरी | 28-सितम्बर-2017
 
   
    प्रदेश शासन द्वारा किसानों को कृषि उपज का उचित मूल्य प्रदान करने के लिए भावान्तर भुगतान योजना प्रारम्भ की है। भावान्तर भुगतान योजना के अन्तर्गत किसानों को 11 अक्टूबर 17 तक पंजीयन कराना अनिवार्य होगा। किसानों का पंजीयन कराने के लिए जिले में पंजीयन केन्द्र खोले गए है। कलेक्टर श्री अमित तोमर बुधवार को भावान्तर भुगतान योजना के पंजीयन केन्द्र अमरपुर, कोकोमटा और छांटा का निरीक्षण किया। उन्होने भावान्तर भुगतान योजना के अन्तर्गत सभी किसानों का पंजीयन अनिवार्य रूप से कराने के निर्देश दिए। प्रदेश शासन द्वारा भावान्तर भुगतान योजना के अन्तर्गत सोयाबीन, मूंगफली, तिल, रामतिल, मक्का, मूंग, उडद और तुवर को शामिल किया गया है। कलेक्टर ने कहा कि भावान्तर भुगतान योजना का लाभ लेने के लिए मध्यप्रदेश का मूल निवासी होने के साथ-साथ किसान का पंजीयन भावान्तर भुगतान योजना पोर्टल पर दर्ज होना अनिवार्य है। उन्होने कहा कि जिन किसानो का नाम एवं जानकारी उक्त पोर्टल पर निर्धारित अवधि में दर्ज नही होगी। उन्हे योजना में लाभ प्राप्त नही होगा। पोर्टल पर पंजीयन के समय किसान के द्वारा स्वयं का आधार कार्ड क्रमाक, सरल क्रमाक, बैंक खाता क्रमाक दर्ज कराया जाना अनिवार्य होगा।
कलेक्टर ने पकडी सेल्समेन की लापरवाही:-
    कलेक्टर श्री अमित तोमर ने सहकारी उचित मूल्य की दुकान कोकोमटा एवं छांटा का भी निरीक्षण किया। निरीक्षण को दौरान सहकारी उचित मूल्य की दुकान छांटा में उपभोक्ताओ को राषन वितरण में अनियमितता पाई गई। सेल्समेन के द्वारा उपभोक्ताओ को चावल के स्थान पर गेंहू का वितरण किया जा रहा था। सेल्समेन द्वारा की जा रही, इस अनियमितता के संबंध में लोगो ने कलेक्टर को मौखिक शिकायत की। शिकायत मिलने पर कलेक्टर ने तत्काल ही राशन पात्रता पर्ची एवं लोगो की शिकायतों का परीक्षण कराया जिस पर सेल्समेन की लापरवाही उजागर हो गई। कलेक्टर ने निरीक्षण के दौरान उपस्थित सहायक खाद्य आपूर्ति अधिकारी शेख शमीम खान को सेल्समेन पर कार्रवाई करने के निर्देश दिए है। सहकारी उचित मूल्य की दुकान कोकोमटा के निरीक्षण के दौरान खाद्यान्न वितरण की कारवाई दुरूस्त पाई गई। इस अवसर पर परियोजना अधिकारी श्री सीएस सिंह, कलेक्टर स्टेनो श्री धनेन्द्र बिसेन मौजूद थे।
(293 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
जूनजुलाई 2018अगस्त
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
2526272829301
2345678
9101112131415
16171819202122
23242526272829
303112345

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer