समाचार
|| मुख्यमंत्री युवा उद्यमीयोजना से लाभान्वित होंगे महिला स्व-सहायता समूह || 29 अगस्त को सभी स्कूलों में होगा "आ-खेलें जरा" कार्यक्रम || आंगनवाड़ी कार्यकर्ता की अनंतिम चयन सूची जारी || मुख्यमंत्री कल्याणी पेंशन योजना में बीपीएल का बंधन आवश्यक नहीं || 23 जुलाई को कृषि मंत्री श्री बिसेन घोटी में || 24 जुलाई तक जनसंख्या स्थिरता पखवाड़ा मनाया जाएगा || स्कूल स्पोर्ट्स प्रमोशन फाउंडेशन में किया जा रहा है शासकीय व अशासकीय विद्यालयों का पंजीयन || लेखा प्रशिक्षण सत्र 1 अगस्त से प्रारंभ होगा || जिले में 502 मि.मी. औसत वर्षा रिकार्ड || सीपीसीटी में हिंदी टाईपिंग अनिवार्य
अन्य ख़बरें
मुख्यमंत्री भावांतर योजना का लाभ किसानों को शत-प्रतिशत प्रदान करे :- प्रमुख सचिव
-
सिंगरौली | 09-नवम्बर-2017
 
  
   कृषि को लाभ का धंधा उच्चकोटि का बनाने हेतु एवं किसानों को उनकी मेहनत का लाभ पूर्ण रूप से प्राप्त हो सके इसके लिए प्रदेश सरकार द्वारा कई किसान से संबंधित हितार्थ की कई योजनाए तैयार कर क्रियान्वन किया जा रहा है, उनमें से एक मुख्यमंत्री भावांतर योजना प्रमुख है इस योजना को आम किसानों तक पहुचाने एवं इसके कठिनाईयो को दूर करने हेतु जहां अधिकारी कर्मचारियों कि जिम्मेदारी वही उतनी ही जिम्मेदारी जन प्रतिनिधियों की भी है, उक्त आशय का उद्बोधन कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित बैठक के दौरान प्रमुख सचिव खद्य नागरिक एवं आपूर्ति माननीया नीलम समी राव के द्वारा व्यक्त किया गया।  इसके पूर्व कलेक्टर श्री अनुराग चौधरी द्वारा प्रमुख सचिव का स्वागत करते हुए भावांतर योजना में जिले में पंजीकृत किसानो की जानकारी एवं जिले में प्रदान की जारही खाद बीज के संबंध में अवगत कराया गया। बैठक के दौरान कृषि मण्डी के अध्यक्ष श्रीमती जागेश्वरी देवी सहित सदस्य गण एवं जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री प्रियंक मिश्रा, संयुक्त कलेक्टर श्री सीताराम प्रधान एसडीएम श्री ऋतुराज श्री विकास सिंह, राजेश शुक्ला, एस.पी मिश्रा  तहसीलदार श्री विवेक गुप्ता, उपसंचालक कृषि अशीष पाण्डेय, उपायुक्त सहकारिता पी.के मिश्रा, सहित जिला के अधिकारी उपस्थित रहें। विदित हो कि भावांतर योजना का लाभ पंजीकृत किसानों को समय पर लाभ दिये जाने एवं इसके भुगतान में आने वाली कठीनाईयों  के साथ साथ उपार्जन के संबंध में प्रमुख सचिव नीलम समी राव द्वारा वृहद रूप से समीक्षा की गयी, एवं जिले में हुए पंजीयन के प्रति संतोष जाहिर करते हुए कहां कि भावांतर योजना के समर्थन मूल्य का भुगतान पंजीकृत किसानों खते में अनिवार्य रूप से एक सप्ताह के अंदर भेजा जाय। एवं इस योजना में अधिक से अधिक किसानो को जोड़ा जाय, आगे उन्होने बैठक मे आए हुए व्यापारियों से भी आने वाली कठीनाईयों की भी जानकारी ली गयी, तथा कठीनाईयो निदान हेतु कलेक्टर को निर्देश दिया गया। साथ ही यह भी कहां कि आप के जिले से सटे हुए तीन प्रदेश है उनके भी मण्डियों के भाव का पता कर प्रदर्शित किया जान सुनिश्चित करे ताकि मण्डी में आने वाले किसानों को अन्य प्रदेशो की भी दर पता हो सके। बैठक के दौरान कलेक्टर श्री चौधरी के द्वारा बताया गया कि जिलें मे स्थापित मण्डी से हमारे दो ब्लाकों की दूरी अधिक होने के कारण किसानो के परेशानियों को मद्दे नजर रखते हुए दो उप मण्डी भी चालू करायी जाएंगी वही जिला के सीमाओं पा चेक पोस्ट भी लगवाए जाएंगे। साथ ही धान उपार्जन हेतु बनाए गए केन्द्रो की जानकारी तथा पंजीकृत किसानों की जानकारी दी गयी जिस पर प्रमुख सचिव के द्वार संतोष जाहिर किया गया। बैठक के अंत में प्रमुख सचिव नीलम समीराव के द्वार कहां गया कि हम सभी मिलकर शासन की इस महत्वाकाक्षीं भावांतर योजना का ज्याद से ज्याद लाभ किसानो को दिलाने में अपनी सहभागिता निभाएगे एवं आने वाली कठीनाईयो को दूर करेंगे तथा सरकार के मंशानुसार किसानों को अपनी फसल के सही बजार मूल्य प्राप्त हो सके।
(255 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
जूनजुलाई 2018अगस्त
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
2526272829301
2345678
9101112131415
16171819202122
23242526272829
303112345

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer