समाचार
|| सीएम हेल्प लाईन, लोकसेवा गारंटी, प्रशासनिक प्रकोष्ठ तथा वरिष्ठ कार्यालयों से प्राप्त पत्रों का निराकरण नहीं करने पर अधिकारियों पर होगी कार्यवाही || समाधान एक दिन, आय व मूल निवासी प्रमाण पत्र हाथों हाथ पाकर बहुत खुश हुए घीसालाल "सफलता की कहानी" || 28 जुलाई तक पटवारी पद के लिए आदिम जनजाति के आवेदन भरे जायेंगे || स्वच्छ भारत मिशन शहडोल की पहल || समाधान एक दिन, हाथों हाथ आय प्रमाण पत्र पाकर बहुत खुश हुई खुशबू "सफलता की कहानी" || सुदामा प्री मैट्रिक छात्रवृत्ति योजना || उर्दू में 90 प्रतिशत से अधिक अंक लाने वाले विद्यार्थियों को मिलेगा पुरस्कार || दिव्यांगजन अधिकार अधिनियम में 21 प्रकार की दिव्यांगताएं शामिल || ऑनलाइन प्रवेश प्रक्रिया में महाविद्यालयों को सीट/पाठ्यक्रम अद्यतन के निर्देश || फसल गिरदावरी के निर्देश
अन्य ख़बरें
मुख्य कार्यपालन अधिकारी ने किया नि:शक्त बच्चों के सांस्कृतिक कार्यक्रम का समापन
नि:शक्त बच्चों ने नृत्य एवं गायन से सभी का मनमोहा, नि:शक्त बच्चों को प्रमाण पत्र एवं पुरूस्कार प्रदान किये गये
होशंगाबाद | 03-दिसम्बर-2017
 
   
    विश्व विकलांग दिवस 3 दिसंबर को नि:शक्त बच्चों की नृत्य एवं गायन प्रतियोगिता का आयोजन शासकीय एसएनजी स्कूल में किया गया। प्रतियोगिता का समापन जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री पी.सी.शर्मा की उपस्थिति में किया गया। समापन से पूर्व मां सरस्वती के चित्र पर दीप प्रज्जवलन कर सांस्कृतिक कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। इस अवसर पर नि:शक्त बच्चों को संबोधित करते हुए मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री शर्मा ने कहा कि वे नि:शक्त बच्चों के प्रदर्शन से अभिभूत है। इन बच्चों की प्रस्तुति से ऐसा नहीं लग रहा है कि ये नि:शक्त बच्चे है। बल्कि ये नि:शक्त बच्चे किसी से भी कम नहीं है। श्री शर्मा ने कहा कि बच्चों का उत्साह देखते ही बनता है। उन्होने कहा कि ऐसे कई उदाहरण है जिनमे नि:शक्त कहलाने वाले व्यक्तियो ने उंचाईयों को छूआ है। उन्होने बताया कि पूर्व में पदस्थ जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी नि:शक्त थे किन्तु उन्होने अपने दायित्व के निर्वहन में एवं अपने कार्यो से एक मिशाल कायम की है। उन्होने इस अवसर पर सभी बच्चों को उज्जवल भविष्य की शुभकामनाएं प्रेषित की।
    श्री शर्मा ने सांस्कृतिक कार्यक्रम में प्रस्तुति देने वाले सभी नि:शक्त बच्चों को प्रमाण पत्र एवं पुरूस्कार देकर सम्मानित किया।
    विश्व विकलांग दिवस के अवसर पर सांस्कृतिक कार्यक्रम के तहत मातृछाया मूकबधिर विशेष विकलांग विद्यालय के नि:शक्त छात्र-छात्राओ ने राजस्थानी स्वागत लोकनृत्य की प्रस्तुति दी। इसी विद्यालय के विद्यार्थियों ने मुझें माफ करना ओम सार्इं राम के गाने पर आकर्षक सामूहिक नृत्य की प्रस्तुति दी। भविष्य नि:शक्त विशेष विद्यालय के बच्चों ने राजस्थानी फोक डांस प्रस्तुत किया। वहीं सदभाव सीडब्लूएसएन बालिका छात्रावास की छात्राओं ने स्वागत गीत पर मनमोहक सामूहिक नृत्य की प्रस्तुति दी। सहयोग विशेष आवासीय विद्यालय दृष्टि बाधित के दृष्टि बाधित छात्र-छात्राओं ने सामूहिक नृत्य प्रस्तुत किया। इसी विद्यालय के विद्यार्थियो ने मुरलिया वाले की धुन पर सामूहिक गायन की प्रस्तुति दी। इसी विद्यालय के नि:शक्त छात्र-छात्राओ ने एक अनाथ बच्चे की कहानी को प्रस्तुत करते हुए आकर्षक नृत्य नाटिका की प्रस्तुति दी।
    डॉ ऐनीबीसेंट विशेष विद्यालय के मन्दबुद्धि बच्चों ने माई तेरी चुनरिया लहराई पर ग्रुप डांस की प्रस्तुति दी। वहीं छात्रा तनु शर्मा ने राजस्थानी डांस की, कीर्ति यादव ने एकल गायन की तथा मन्दबुद्धि बालकों की टीम ने सामूहिक लोकनृत्य की प्रस्तुति दी।
    दलितसंघ सोहागपुर के छात्र-छात्रा ने एकल गायन एवं समूह गायन की प्रस्तुति दी। बालिका सरिता चौरे ने देश रंगीला पर एकल नृत्य एवं छात्राओं ने स्कूल चलें हम पर सामूहिक नृत्य की प्रस्तुति दी।
    संकल्प बधिर विशेष विद्यालय मालाखेड़ी के नि:शक्त बच्चों ने राजस्थानी घूमर डांस की प्रस्तुति दी तथा एक सामूहिक नृत्य की प्रस्तुति भी दी। इटारसी की छात्रा प्रिया मेहरा ने एकल नृत्य एवं कल्पना उईके ने बेटी है तो कल है पर कविता का वाचन किया।
    चित्र कलां एवं रंगोली प्रतियोगिता का आयोजन :- इस अवसर पर प्रात: 11 बजे से नि:शक्त बच्चो ने रंगोली एवं चित्रकलां की प्रतियोगिता में अपनी सहभागिता निभाई । चित्रकलां एवं रंगोली प्रतियोगिता के विजेता नि:शक्त बच्चों को प्रमाण पत्र प्रदान किये गये।
    मातृछाया के बच्चों द्वारा मिट्टी की कलाकृतियां बनाई गयी :- इस अवसर पर मातृछाया मूकबधिर विशेष विद्यालय के बच्चों द्वारा बनाई गई मिट्टी एवं गोबर की आकर्षक कलाकृतियों की प्रदर्शनी लगाई गई। बच्चो द्वारा बनाई गई कलाकृतियों की सभी ने सराहना की।
    समापन अवसर पर उपसंचालक सामाजिक न्याय श्रीमती प्रमिला वाईकर, समर्पण संस्था के श्री संजीव गौर, श्री वी.के.परसाई, श्री राजपूत, श्री रजक, श्री आशीष चटर्जी, शिक्षकगण, प्रिंट एवं इलेक्ट्रानिक मीडिया के प्रतिनिधिगण मौजूद थे। कार्यक्रम का संचालन श्री दीपक यादव ने किया।
(232 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
जूनजुलाई 2018अगस्त
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
2526272829301
2345678
9101112131415
16171819202122
23242526272829
303112345

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer