समाचार
|| विकासखण्ड स्तरीय अधिकारी-कर्मचारी नियुक्त || जिला स्तरीय दल का गठन || कृषि यंत्रों के लिए ऑनलाइन आवेदन करें || किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग में निविदा आमंत्रित || जुलाई से अक्टूबर तक होंगी जनजातीय विद्यालयों की खेल प्रतियोगिताएँ || 6 वर्ष से 18 वर्ष तक के बालक/बालिकाओं की बहादुरी के करनामों की दे जानकारी || एनसीटीई के पाठ्यक्रमों के लिये इस वर्ष एम.पी. ऑनलाइन से होगा प्रवेश || मध्यप्रदेश आनंद विवाह रजिस्ट्रीकरण नियम-2018 प्रकाशित || प्रधानमंत्री फसल बीमा करवाना ऋणी कृषकों के लिए अनिवार्य || एम.बी.ए. एम.सी.ए. और बी.एच.एम.सी.टी. के काउंसलिंग का कार्यक्रम जारी
अन्य ख़बरें
समर्थन मूल्य पर धान खरीदी में गड़बड़ी करने का मामला
पांच केन्द्रों के खरीदी प्रभारियों को कारण बताओ नोटिस जारी
बालाघाट | 30-दिसम्बर-2017
 
     किसानों को उनकी उपज का वाजिब दाम दिलाने के लिए जिले में समर्थन मूल्य पर धान खरीदी के लिए कुल 161 केन्द्र बनाये गये है। इन केन्द्रों पर किसानों से एफएक्यू गुणवत्ता की धान ही खरीदी जाना है। धान की खरीदी के तौल करते समय प्रति बोरी 40 किलोग्राम 600 ग्राम धान ही तौलना है। धान खरीदी केन्द्रों की आकस्मिक जांच के दौरान पांच केन्द्रों में गड़बड़ी पाये जाने पर कलेक्टर श्री डी व्ही सिंह ने सहकारी समिति के प्रबंधक एवं वहां के धान खरीदी प्रभारी को कारण बताओ नोटिस जारी किया है कि क्यों न उनके विरूद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही की जाये। समिति प्रबंधकों ण्वं धान खरीदी प्रभारियों को तीन दिनों के भीतर जवाब प्रस्तुत करने कहा गया है। समय सीमा में संतोषजनक जवाब नहीं मिलने पर एक पक्षीय कार्यवाही की चेतावनी दी गई है।
     कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी द्वारा 11 दिसंबर 2017 को किरनापुर विकासखंड की सेवा सहकारी समिति चिखला के धान खरीदी केन्द्र का आकस्मिक निरीक्षण किया गया तो पाया गया कि वहां पर एक किसान द्वारा कुल 41 क्विंटल 11 किलोग्राम धान विक्रय के लिए लाई गई थी। जिसमें 31 क्विंटल 31 किलोग्राम धान पुरानी होने के संदेह में जप्त की गई थी। पुरानी धान क्रय करने के लिए उसे सहकारी समिति के बोरों में भर दिया गया था। धान खरीदी की इस अनियमितता के लिए सेवा सहकारी समिति चिखला के प्रबंधक श्री एम के क्षीरसागर एवं धान खरीदी प्रभारी दिलीप नगपुरे को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है।
     जिला आपूर्ति अधिकारी श्री गोविंद दुबे द्वारा 27 दिसंबर 2017 को धान खरीदी केन्द्र का उकवा, बैहर तहसील के मोहगांव एवं आमगांव का आकस्मिक निरीक्षण किया गया तो पाया गया कि उकवा के दो तौलकाटों में एक नापतौल विभाग द्वारा सत्यापित नहीं है और तौल किये गये बोरों की जांच में पाया गया कि प्रत्येक बोरे में धान 40 किलोग्राम 600 ग्राम न होकर 36 से 41 किलोग्राम 930 ग्राम तक था। इस गड़बड़ी पर उकवा समिति के प्रबंधक श्री प्रदीप शुक्ला एवं खरीदी प्रभारी आर डी जैसवाल को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। इसी प्रकार आमगांव के केन्द्र में नापतौल विभाग से सत्यापित किये गये तौलकांटा का उपयोग करने एवं निर्धारित से अधिक मात्रा में धान तौलने पर आमगांव समिति के प्रबंधक श्री के एस पटले एवं धान खरीदी प्रभारी चयनलाल केनार को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। मोहगांव के खरीदी केन्द्र की जांच में पाया गया कि वहां पर किसानों से निर्धारित से अधिक मात्रा में धान तौला गया है। मोहगांव में किसानों से शिकायत भी की कि हम्मालों द्वारा पैसों की मांग की जाती है। इस पर मोहगांव समिति के प्रबंधक श्री डी के रामटेके एवं खरीदी प्रभारी बिरज मेरावी को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है।
     28 दिसंबर को सेवा सहकारी समिति खुरसोड़ी के धान खरीदी केन्द्र का निरीक्षण करने पर पाया गया कि वहां पर भी किसानों से अधिक मात्रा में धान की खरीदी की जा रही है। इस पर वहां के समिति प्रबंधक श्री कंकर लिल्हारे एवं खरीदी प्रभारी तोमेश्वर कटरे को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है।
(176 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
मईजून 2018जुलाई
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
28293031123
45678910
11121314151617
18192021222324
2526272829301
2345678

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer