समाचार
|| अटेर किला के संरक्षण की दिशा में पहल की जावेगी - श्रीमती पटेल || टीवी के मरीजो को सामाजिक संस्थाएं गोद लें - श्रीमती पटेल || राज्यपाल श्रीमती पटेल ने किया जिला चिकित्सालय का निरीक्षण || जिला स्तरीय योग दिवस कार्यक्रम 21 जून को पुलिस लाइन में होगा || अटेर किला के संरक्षण की दिशा में पहल की जावेगी-श्रीमती पटेल || कलेक्टर श्री गढ़पाले ने अनुसूचित जाति जनजाति कार्यालय का किया निरीक्षण || आरसेटी की जिला स्तरीय सलाहकार समिति की बैठक सम्पन्न || मतदान दलों के गठन के लिए अधिकारी कर्मचारियों की जानकारी भेजें || पर्यटन निगम अध्यक्ष श्री भौमिक अटल सरोवर नागचून का 20 को करेंगे लोकार्पण || पुनरीक्षित क्षय नियंत्रण कार्यक्रम को बेहतर तरीके से संचालित करें - कलेक्टर श्री गढ़पाले
अन्य ख़बरें
जिले में 19 से 21 जनवरी के बीच निकलेगी एकात्म यात्रा तैयारियों के संबंध में बैठक आयोजित
ओंकारेश्वर में आदि गुरू शंकराचार्य की प्रतिमा निर्माण हेतु-जिले के कोने-कोने से पावन मिट्टी एवं धातु का संकलन होगा
हरदा | 05-जनवरी-2018
 
 
   एकात्म यात्रा 19 जनवरी को बैतूल जिले से पूर्वान्ह 11 बजे जिले के गंजाल पुल बैतूल हायवे पहुंचेगी। यहां यात्रा का भव्य स्वागत किया जाएगा। इस यात्रा के दौरान आयोजित होने वाले चारों जनसंवाद कार्यक्रमों में आदि शंकराचार्य के जीवन दर्शन के बारे में नागरिकों को बताया जायेगा। साथ ही आदिशंकराचार्य की 108 फीट ऊँची अष्टधातु की विशाल प्रतिमा के निर्माण के लिए धातु संग्रहण हेतु नागरिकों को प्रेरित किया जायेगा। 21 जनवरी को यात्रा खंडवा जिले में प्रवेश करना।
   कलेक्टर श्री अनय द्विवेदी ने गुरूवार को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित बैठक में सभी अधिकारियों को यात्रा सहित इस दौरान आयोजित होने वाले जनसंवाद कार्यक्रम के लिए सभी आवश्यक व्यवस्था करने के निर्देश दिए। पुलिस अधीक्षक श्री राजेश कुमार सिंह, पूर्व मंत्री श्री कमल पटेल, नपाध्यक्ष श्री सुरेंद्र जैन, श्री अमर सिंह मीणा सहित जनप्रतिनिधिगण मौजूद थे। बैठक में कलेक्टर श्री द्विवेदी ने सभी अधिकारियों को निर्देश दिए कि एकात्म यात्रा आयोजन के लिए अधिकारियों को जो जिम्मेदारियों सौंपी गई है, उन्हे समयावधि में पूरा कर ले।यात्रा आगमन से पूर्व सभी गांवों में यात्रा के प्रचार प्रसार के लिए मुनादी करके भी ग्रामीणों को यात्रा के बारे में बताया जाये। इस दौरान उपस्थित जनप्रतिनिधियों ने कहा कि सभी मिलजुलकर इस यात्रा को अविस्मरणीय बनाये।यह एक ऐतिहासिक आयोजन है। जिले के सभी नागरिकों, जनप्रतिनिधियों, संतजनों, अधिकारी कर्मचारियों, को अपने अपने स्तर से एकात्म यात्रा को सफल बनाने के लिए प्रयास करना चाहिए। जिले में एकात्म यात्रा 19 जनवरी को गंजाल पुल से प्रारम्भ होकर टेमागाँव होते हुए भादूगांव पहुँचेगी। यहां नर्मदा मंदिर में जनसंवाद होगा। उसके बाद बजरंगदास कुटी नांदवा,सिरकंबा,सोडलपुर कान्हा बाबा होते हुए 5 बजे शंकर मंदिर टिमरनी पहुंचेगी। यहां जनसंवाद होगा। टिमरनी में रात्रि विश्राम के बाद 20 जनवरी को यात्रा चारखेड़ा होते हुए उड़ा कालूबाबा समाधि स्थल पहुंचेगी। शाम 5 बजे हरदा के मिडिल स्कूल परिसर में जनसंवाद होगा। हरदा में रात्रि विश्राम के बाद 21 जनवरी को 10 बजे यात्रा मसनगांव पहुंचेगी। फिर मांदला होते हुए दोपहर 3 बजे खिरकिया पहुंचेगी। यहां जनसंवाद होगा। यात्रा प्रभारी श्री सुरेन्द्र जैन हैं। श्री अरविन्द सारण-हरदा, श्री विजयसिंह सावनेर-टिमरनी एवं श्री शिवनारायण साध-खिरकिया को सह यात्रा प्रभारी नियुक्त किया गया है। बताया गया कि प्रतिदिन यात्रा प्रारंभ होने के पूर्व प्रातः 8.30 बजे पादुका पूजन एवं निर्वाण अष्टक का गायन होगा। यात्रा प्रारंभ होने पर सबसे आगे रथ चलेगा, जिसमें पादुका, चार स्थानों के चित्र एवं अखण्ड भारत का चित्र होगा। रथ पर एक निर्धारित ध्वज भी रहेगा। यात्रा में सर्वप्रथम आदि शंकराचार्य एकात्म यात्रा रथ रहेगा। इस रथ के पीछे केरावन वाहन में नेतृत्वकर्ता संतगण एवं यात्रा समन्वयक रहेंगे। यात्रा के साथ जन अभियान परिषद् का कोर ग्रुप भी रहेगा, जो यात्रा की समस्त व्यवस्थाएं एवं आगामी स्थल की व्यवस्थाएं सुनिश्चित करेगा। दोपहर में यह यात्रा चिन्हित स्थानों पर रूकेगी। समय के अनुसार यात्रा मार्ग में आने वाले मठ, मंदिरों एवं ग्रामों में पादुका पूजन एवं स्वागत कार्यक्रम कराए जाएंगे। इसके पश्चात् यात्रा जनसंवाद स्थल पर पहुंचेगी, जहां फायबर बॉक्स में रखी पादुका नेतृत्वकर्ता संत एवं अन्य स्थानीय संतगणों के द्वारा सिर पर रखकर मंच पर ले जायी जाएगी एवं शंकराचार्यजी के चित्र के पास रखी जाएगी। जनसंवाद के पूर्व पंचायतों के प्रतिनिधियों द्वारा लाए जाने वाले धातु पात्रों को मंच पर सामने की ओर निर्धारित स्टेप्स पर रखा जाएगा। जिला कलेक्टर द्वारा उक्त धातु पात्रों को कलेक्टर खण्डवा को उपलब्ध कराया जाना सुनिश्चित किया जाएगा। जनसंवाद के पश्चात् यात्रा दल निर्धारित विश्राम स्थल पर पहुंचेगी। रात्रि विश्राम स्थल पर पादुका पूजन एवं आरती के पश्चात् आदि शंकराचार्य विरचित स्त्रोतों का गायन एवं अन्य भजनों का गायन कला मंडलियों द्वारा किया जाएगा।ग्रामों से धातु पात्र लाने हेतु प्रतिनिधि नामांकित होंगे। उक्त एकात्म यात्रा में आदि शंकराचार्यजी की प्रतिमा निर्माण हेतु धातु संकलन के कार्य हेतु ग्राम की मिट्टी एवं धातु पात्र में (लोहा, पीतल, तांबा, कांसा) जनसंवाद स्थल पर ले जाए जाने हेतु प्रत्येक ग्राम पंचायत से प्रतिनिधि नामांकित किए जाएंगे। यात्रा के दौरान विभिन्न धर्मों के धर्मगुरुओं को सम्मानित भी किया जाएगा एवं मंच से बोलने का अवसर भी दिया जाएगा। साथ ही विभिन्न स्थानों पर समरसता भोज भी आयोजित होंगे। समरसता भोज कराने वाले व्यक्तियों को यथोचित सम्मानित किया जाएगा। जिन गांवों से यात्रा प्रवेश करेगी, वहां स्वागत द्वार-रंगोली इत्यादि बनाकर उत्सवपूर्ण वातावरण तैयार किया जाएगा।
 
(165 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
मईजून 2018जुलाई
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
28293031123
45678910
11121314151617
18192021222324
2526272829301
2345678

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer