समाचार
|| बडे पैमाने पर जल संरचनाओं का निर्माण कर, जलस्तर को बढाने का प्रयास करें-श्रीमती चिटनिस || राज्यपाल श्रीमती आनंदीवेन पटेल ने सर्वा की देखी आंगनबाडी || स्वच्छता के लिए साधन नहीं सोच आवश्यक "सफलता की कहानी" || डेंगू, मलेरिया नियंत्रण के लिए अंतर्विभागीय कार्यशाला आयोजित || समय सीमा वाले प्रकरणों की समीक्षा बैठक आयोजित || वीरांगना लक्ष्मीबाई बलिदान मेला || ललिता बाई का सहारा बनी ‘‘संबल‘‘ योजना "सफलता की कहानी" || ‘‘मुख्यमंत्री बकाया बिजली बिल माफी योजना‘‘ 1 जुलाई से होगी लागू || क्रीड़ा परिसर खालवा में प्रवेश के लिए आवेदन 21 जून तक जमा करायें || आई.टी.आई. खण्डवा में 20 जून को आयोजित होगा रोजगार मेला
अन्य ख़बरें
कृषि को लाभ का धंधा बनाने किसानों तक पहुँचायें आधुनिक कृषि तकनीक -कमिश्नर
किसानों को पशु पालन एवं मुर्गी पालन के लिये भी करें प्रोत्साहित
शहडोल | 09-जनवरी-2018
   
   
   कमिश्नर शहडोल संभाग श्री रजनीश श्रीवास्तव ने शहडोल संभाग के कृषि अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि वे कृषि को लाभ का धंधा बनाने के लिये कृषि क्षेत्र में हुये आधुनिक अनुसंधानों एवं आधुनिक कृषि तकनीक को किसानों तक पहुँचायें तथा किसानों को खेती की आधुनिक तकनीक सिखाकर अधिक पैदावार लेने के लिये प्रेरित करें। कमिश्नर ने कहा है कि शहडोल संभाग में उच्च गुणवत्ता के धान उत्पादन की अच्छी संभावनाएं हैं जिसे दृष्टिगत रखे हुये कृषि वैज्ञानिक संभाग के किसानों का मार्गदर्शन करें। कमिश्नर ने यह भी निर्देश दिये हैं कि किसानों को खेती के साथ-साथ पशु पालन एवं मुर्गी पालन, मत्स्य पालन के लिये भी प्रेरित एवं प्रोत्साहित करें। कमिश्नर ने कहा कि किसानों को शासन द्वारा संचालित पशु पालन, मत्स्य पालन, मुर्गी पालन विभाग की योजनाओं के बारे में समुचित जानकारी दें तथा किसानों को उक्त विभागों की योजनाओं से लाभ लेने के लिये प्रेरित एवं प्रोत्साहित करें। कमिश्नर ने कहा कि खेती के साथ साथ किसानों को मत्स्य पालन, मुर्गी पालन, पशु पालन की गतिविधियों से जोड़कर किसानों को अतिरिक्त लाभार्जन की गतिविधियों से जोड़ें। कमिश्नर शहडोल संभाग श्री रजनीश श्रीवास्तव आज कृषि, पशु चिकित्सा एवं मत्स्य विभाग की संयुक्त समीक्षा बैठक में अधिकारियों को निर्देशित कर रहे थे। बैठक में कमिश्नर द्वारा पशु चिकित्सा सेवा विभाग द्वारा संचालित योजनाओं की समीक्षा करते हुये कहा कि पशु चिकित्सा विभाग द्वारा किसानों को मुर्रा भैसों, जमुनापारी बकरा, कड़कनाथ चूजे आदि मुहैया कराये जा रहे हैं, इन योजनाओं का और अधिक प्रभावी क्रियान्वयन होना चाहिए तथा इन योजनाओं के माध्यम से किसानों की आर्थिक स्थिति में बदलाव आना चाहिए। कमिश्नर ने निर्देश दिये कि शहडोल संभाग में पशुपालन की गतिविधियों को और अधिक बढ़ाने की आवश्यकता है। कमिश्नर ने कहा कि शहडोल संभाग में किसानों उन्नत पशु पालन के लिये प्रेरित एवं प्रोत्साहित करें। समीक्षा के दौरान कमिश्नर ने पशु चिकित्सा विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे शहडोल संभाग में पशुधन की सुरक्षा के लिये समय-समय पर पशुओं का टीकाकरण करायें, शिविर लगाकर पशुधन का स्वास्थ्य परीक्षण करें, पशुओं का समुचित उपचार भी मुहैया करायें। बैठक में मत्स्य पालन विभाग द्वारा संचालित योजनाओं की समीक्षा करते हुये कमिश्नर ने निर्देश दिये कि शहडोल जिले में मत्स्य पालन की गतिविधियों को बढ़ाया जाये तथा जो समितियां मत्स्य पालन हेतु पंजीकृत हैं उन्हें समितियों के मेम्बरों के माध्यम से मत्स्याखेट कराया जाये। बैठक में कमिश्नर ने उद्यानिकी विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे शहडोल संभाग में उद्यानिकी का रकवा बढ़ायें। किसानों को खेतों में फलदार पौधे, सब्जी की खेती करने के लिये प्रोत्साहित करें। कमिश्नर ने निर्देश दिये कि सब्जी की खेती को प्रोत्साहित करने के लिये उद्यानिकी विभाग द्वारा किसानो के लिये कई योजनाएं संचालित की जा रही है, इन योजनाओं का लाभ किसानों को मिलना चाहिए। समीक्षा के दौरान उपसंचालक कृषि श्री जे.एस.पेन्द्राम ने बताया कि शहडोल संभाग के सभी जिलों में रवी के सीजन में मुख्यतः गेंहू और चने की फसल ली जा रही है, वहीं खरीफ में धान, कोदौ, कुटकी और मक्के की फसलें ली जा रही हैं। उन्होंने बताया कि किसानों को खेत पाठशालाओं के माध्यम से आधुनिक एवं सामयिक कृषि तकनीक की जानकारी दी जा रही है। उन्होंने बताया कि शहडोल संभाग में श्री पद्धति से धान की खेती के अच्छे परिणाम मिले हैं। बैठक में उपायुक्त आदिम जाति कल्याण विभाग श्री जगदीश सरवटे, संयुक्त संचालक शिक्षा श्री एम.के.पांडवा, उप संचालक पशु चिकित्सा डॉ.जीतेंद्र सिंह, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.राजेश पाण्डेय, उप संचालक चिकित्सा एवं स्वास्थ्य डॉ.ए.पी.द्विवेदी, उप संचालक कृषि श्री जे.एस.पेन्द्राम एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे।
(160 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
मईजून 2018जुलाई
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
28293031123
45678910
11121314151617
18192021222324
2526272829301
2345678

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer