समाचार
|| पैसों के अभाव में कोई बच्चा शिक्षा से वंचित नहीं रहेगा : मुख्यमंत्री श्री चौहान || राजस्व विभाग से संबंधित कार्यों की कलेक्टर ने की समीक्षा || योग कार्यक्रम में अधिकाधिक संख्या में शामिल हों प्रदेशवासी || प्रदेशभर में 21 जून को होंगे अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस कार्यक्रम || आपत्ति आमंत्रित || प्रधानमंत्री श्री मोदी 23 जून को इंदौर में 4,713 करोड़ के कार्यों का लोकार्पण करेंगे || आर्थिक सहायता स्वीकृत || मत्स्याखेट पर प्रतिबंध || सौभाग्य योजना से साढ़े सोलह लाख घर हुए बिजली से रोशन || चयनित पटवारियों के सत्यापन एवं कॉउन्सलिंग 25 जून को
अन्य ख़बरें
मध्यान्ह भोजन एवं सांझा चूल्हा कार्यक्रम के अंतर्गत बच्चों को गुणवत्ता पूर्ण खाद्यान्न मुहैया करायें - कलेक्टर
मध्यान्ह भोजन कार्यक्रम का सभी अनुविभागीय अधिकारी निरंतर मॉनीटरिंग करें
शहडोल | 05-फरवरी-2018
 
 
    कलेक्टर श्री नरेश पाल ने जिले में मध्यान्ह भोजन एवं सांझा चूल्हा कार्यक्रम का क्रियान्वयन करने वाले विभागों को निर्देश दिये हैं कि वे मध्यान्ह भोजन कार्यक्रम एवं सांझा चूल कार्यक्रम के अंतर्गत बच्चों को गुणवत्तापूर्ण भोजन मुहैया करायें। कलेक्टर ने जिले के सभी अनुविभागीय राजस्व अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि वे मध्यान्ह भोजन कार्यक्रम की निरंतर मॉनीटरिंग करें तथा प्रतिवेदन प्रस्तुत करे। कलेक्टर ने यह भी निर्देश दिये हैं कि जो स्वसहायता समूह मध्यान्ह भोजन कार्यक्रम एवं सांझा चूल्हा कार्यक्रम के अंतर्गत अच्छा कार्य नहीं कर रही है उनके विरूद्ध सख्त कार्यवाही करायें तथा ऐसे स्वसहायता समूह को हटाकर अच्छा कार्य करने वाली स्वसहायता समूह को मध्यान्ह भोजन एवं सांझा चूल्हा कार्यक्रम का कार्य मुहैया करायें। कलेक्टर ने उक्त निर्देश आज विकास कार्यों की समीक्षा बैठक में अधिकारियो को दिये। बैठक में कलेक्टर द्वारा सीएम हेल्प लाईन की शिकायतों की विभागवार समीक्षा करते हुये अधिकारियों को निर्देशित किया गया कि 100 दिवस से अधिक की लंबित शिकायतों का संबंधित विभाग के अधिकारी सर्वोच्च प्राथमिकता के साथ निराकरण सुनिश्चित करायें। कलेक्टर ने संस्थागत वित्त पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग, राजस्व विभाग, वन विभाग एवं अन्य विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे 100 दिवस से अधिक के लंबित शिकायतों का प्राथमिकता के साथ निराकरण सुनिश्चित करायें। बैठक में कलेक्टर ने लंबित पेशन प्रकरणों का प्राथमिकता के साथ निराकरण करने के निर्देश देते हुये कहा कि सभी विभागीय अधिकारी लंबित पेशन प्रकरणों का निराकरण सुनिश्चित करायें। कलेक्टर ने यह भी निर्देश दिये कि जिला कोषालय में कई विभागों के असफल ट्रांजेक्सन हैं। कलेक्टर ने निर्देश दिये कि जिला कोषालय अधिकारी से संबंधित विभाग तत्काल सम्पर्क स्थापित कर असफल ट्रांजेक्सनों का निराकरण करायें। कलेक्टर ने तहसीलदार सोहागपुर, सहायक आयुक्त आदिवासी विकास, उप संचालक कृषि, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, जिला शिक्षा अधिकारी, जिला योजना अधिकारी, जल संसाधन विभाग, औद्यौगिक प्रशिक्षण केंद्र शहडोल, जनपद पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि वे शीघ्र जिला कोषालय से सम्पर्क स्थापित कर असफल ट्रांजेक्सनों का निराकरण सुनिश्चित करायें। बैठक में कलेक्टर ने बताया कि शहडोल जिले में 12 फरवरी से 12 मार्च तक भावांतर भुगतान योजना के अंतर्गत पंजीयन होगा। कलेक्टर ने सभी अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे इसका प्रचार प्रसार करायें तथा भावांतन भुगतान में पंजीयन हेतु किसानों को प्रेरित एवं प्रोत्साहित करें। बैठक में कलेक्टर द्वारा जनसुनवाई की शिकायतों की भी विभावार समीक्षा की गई। बैठक में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री एस.कृष्ण चैतन्य, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व श्री लोकेश कुमार जांगीड़, एसडीएम ब्यौहारी श्री जी.सी.डहेरिया, जिला शिक्षा अधिकारी श्री उमेश कुमार धुर्वे, सहायक आयुक्त आदिवासी विकास श्री नरोत्तम वरकड़ें, अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री जी.एस.टेकाम एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे।
 
(135 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
मईजून 2018जुलाई
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
28293031123
45678910
11121314151617
18192021222324
2526272829301
2345678

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer