समाचार
|| वित्त मंत्री ने ग्राम मुड़िया में छात्रों के साथ किया भोजन || कलेक्टर डॉ. जे.विजय कुमार ने केन्द्रीय विद्यालय में किया ध्वजारोहण || कलेक्टर कार्यालय में कलेक्टर डॉ. जे. विजय कुमार ने फहराया राष्ट्रध्वज || वित्त मंत्री श्री मलैया ने बजरिया वार्ड 5,6 में हाई मास्क लाइट किया लोकार्पित || जिला अस्पताल में ट्रामा आपरेशन थियेटर का हुआ लोकार्पण || जटाशंकर में आयोजित अखाड़ा कार्यक्रम में शामिल हुए वित्त मंत्री जयंत मलैया || आजादी का पर्व स्वतंत्र दिवस बड़े हर्षोल्लास पूर्वक मनाया गया || जिला पंचायत अध्यक्ष ने प्रचार रथों को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया गया || कलेक्टर श्री मोहित बुंदस ने केन्द्रीय विद्यालय में ध्वजारोहण किया || प्रभारी मंत्री श्री सारंग ने ढेकलबडी में स्कूली बच्चो के साथ किया मध्यान्ह भोजन
अन्य ख़बरें
किसान हितैषी सरकार किसानों की सुनती भी है और किसानों की भलाई के काम करती है
किसान महासम्मेलन में मुख्यमंत्री की घोषणाओं पर नीमच जिले के किसानों प्रतिक्रिया
नीमच | 13-फरवरी-2018
 
   
   सरकार किसानों की सुनती भी है और किसानों की भलाई के लिये काम भी करती है। जम्बूरी मैदान में सोमवार को किसान महासम्मेलन में मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा किसानों के लिए की गई घोषणाओं से नीमच जिले के किसान काफी खुश हैं। उनका कहना है कि गेहूँ के समर्थन मूल्य पर 200 रुपये की प्रोत्साहन राशि से उन्हें लाभ मिलेगा।
   नीमच तहसील के गांव जवासा के किसान श्री जगदीशचंद्र बामनिया एवं श्री डम्मरलाल बामनिया किसान सम्मेलन में मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा की गई घोषणाओं को किसानों की भलाई करने वाली सरकार के रूप में देखते हैं। उनका कहना है कि खेती में लागत बढ़ी है, पर सरकार ने गेहूँ समर्थन मूल्य पर प्रोत्साहन राशि देकर बड़ी राहत दी है।
   नीमच तहसील के ग्राम कनावटी के कृषक श्री रामनारायण मेघवाल एवं श्री भगवान जी धनगर किसान सम्मेलन की घोषणाओं से खुश हुए। उन्होंने कहा कि इस साल प्रति क्विंटल गेहूँ के समर्थन मूल्य की घोषणा पर 200 रुपये की प्रोत्साहन राशि किसानों के लिये बहुत बड़ी घोषणा है। श्री भगवान जी कहते हैं कि वह गेहूँ की फसल सबसे ज्यादा में लेते हैं। नीमच तहसील के ग्राम सेमार्डा के किसान श्री सत्यनारायण पाटीदार भी कहते हैं कि सरकार न केवल किसानों की सुनती है बल्कि किसानों की भलाई के लिये काम भी करती भी है।
   मनासा जनपद क्षेत्र के गांव बनडा के किसान नन्दलाल बलाई ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कृषकों के दर्द को समझकर इसे दूर करने की घोषणाएँ की हैं। उन्होंने कहा कि भावांतर भुगतान योजना सही मायने में तभी सफल हो सकेगी जब किसानों को उनके आदान का समय से भुगतान मिले। उन्होंने आदान भंडारण से एक माह के अंतराल का ब्याज सरकार द्वारा दिए जाने की सराहना की। ग्राम सारेल्लया के  किसान श्री नन्दलाल ने कहा कि भगवान देता है तो छप्पर फाड़कर देता है। यह बात किसान सम्मेलन में सही साबित हुई, जिसमें किसानों की हितैषी, किसानों के लिये और किसानों के समर्थन से बनाई जा रही मुख्यमंत्री उत्पादकता योजना, मुख्यमंत्री ऋण समाधान योजना, एक हजार कस्टम हायरिंग सेंटर, कृषक युवा उद्यमी योजना की घोषणा से साबित हुई। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री को हजारों किसान परिवारों की दुआएँ मिलेंगी।
   अनुसूचित जाति के ग्राम कनावटी कृषक देवीलाल सालवी ने कहा कि ‘मुख्यमंत्री ने हमें बहुत कुछ दिया है वे सदा सुखी रहें‘‘। ग्राम कनावटी के किसान राजेश पाटीदार ने बताया कि किसानों को उनकी फसल की बीमा राशि, समय पर खाद आदान सामग्री और उनकी फसल की उपज का वाजिब मूल्य मिलता रहे, हम इसी में सुखी हैं। किसानों को खसरे की नकल, सीमांकन, कृषि उपज मंडियों में ग्रेडिंग व्यवस्था, खेती को लाभ का धंधा बनाना, एक एकड़ में उपज की 25 हजार कीमत की फसल मिलना और सिंचाई का निरंतर रकबा बढ़ाना जैसे अच्छे कार्यों के दूरगामी परिणाम होंगे। यह सम्मेलन किसानों के कल्याण का इतिहास बनेगा।
   भोपाल के जंबूरी मैदान में किसान महा-सम्मेलन में सोमवार को मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने किसानों के हित में सोमवार कई महत्वपूर्ण घोषणाएँ की है। इन पर किसानों ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि किसानों को अपनी उपज के 4 माह तक भण्डारण की सुविधा मिलने से उन्हें अब उपज के वाजिब दाम मिल सकेंगे और भण्डारण का खर्च राज्य सरकार वहन करेगी।
   नीमच जिले के बासखेडा के किसान कंवरलाल मेघवाल ने खेती के साथ गौ-पालन को बढ़ावा देने के लिये मुख्यमंत्री द्वारा की गई घोषणा का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि अब वर्षभर में आचार्य विद्यासागर गौ-संवर्धन योजना में 15 हजार हितग्राहियों को लाभ दिया जायेगा। उन्होंने यह भी कहा कि जन-भागीदारी से ग्राम पंचायत स्तर तक गौ-शालाएँ चलाई जायें, तो उसके अच्छे परिणाम सामने आयेंगे। बासखेडा के किसान मंगलसिंह राजपूत ने किसान क्रेडिट कार्ड को रूपे कार्ड में परिवर्तित करने के निर्णय पर प्रसन्नता व्यक्त की। इस निर्णय से किसानों को जल्द नगदी मिल सकेगी और उसका उपयोग खेती के लिये किया जा सकेगा। दारू गांव के किसान लक्ष्मीनारायण मेघवाल ने प्याज को भावांतर योजना में शामिल करने पर प्रसन्नता व्यक्त की। उन्होंने कहा कि पिछले कुछ वर्षों से प्याज की फसल पर किसानों को सही दाम नहीं मिल पा रहे थे। इस निर्णय से प्याज उत्पादक किसानों को राहत मिलेगी।
    चल्दू के किसान गोपाल शर्मा ने कस्टम प्रोसेसिंग और सर्विसिंग सेंटर संचालन की जिम्मेदारी किसानों को सौंपे जाने पर खुशी व्यक्त की है। इसी तरह बामनबर्डी के किसान कन्हैयालाल कारपेंटर ने बँटाईदार किसानों को राज्य सरकार द्वारा दी गई सुविधाओं को महत्वपूर्ण बताया।
(184 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
जुलाईअगस्त 2018सितम्बर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
303112345
6789101112
13141516171819
20212223242526
272829303112
3456789

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer