समाचार
|| वित्त मंत्री ने ग्राम मुड़िया में छात्रों के साथ किया भोजन || कलेक्टर डॉ. जे.विजय कुमार ने केन्द्रीय विद्यालय में किया ध्वजारोहण || कलेक्टर कार्यालय में कलेक्टर डॉ. जे. विजय कुमार ने फहराया राष्ट्रध्वज || वित्त मंत्री श्री मलैया ने बजरिया वार्ड 5,6 में हाई मास्क लाइट किया लोकार्पित || जिला अस्पताल में ट्रामा आपरेशन थियेटर का हुआ लोकार्पण || जटाशंकर में आयोजित अखाड़ा कार्यक्रम में शामिल हुए वित्त मंत्री जयंत मलैया || आजादी का पर्व स्वतंत्र दिवस बड़े हर्षोल्लास पूर्वक मनाया गया || जिला पंचायत अध्यक्ष ने प्रचार रथों को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया गया || कलेक्टर श्री मोहित बुंदस ने केन्द्रीय विद्यालय में ध्वजारोहण किया || प्रभारी मंत्री श्री सारंग ने ढेकलबडी में स्कूली बच्चो के साथ किया मध्यान्ह भोजन
अन्य ख़बरें
कार्य में रूचि ना ली, तो होंगी सेवाएं समाप्त
चांचौड़ा, आरोन, गुना के बी.सी. को जारी होंगे नोटिस, कलेक्टर ने विकास कार्यों की निर्माण गति बढ़ाने के सी.ई.ओ. को दिए कड़े निर्देश
गुना | 14-फरवरी-2018
 
   
 
   कलेक्टर श्री राजेश जैन ने विकास कार्यों की धीमी गति पर मुख्य कार्यपालन अधिकारियों जनपद को आड़ेहाथों लिया है और विकास कार्यों के निर्माण की गति बढ़ाने के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों जनपदों को कड़े निर्देश दिए हैं। कलेक्टर ने ये निर्देश यहां सम्पन्न हुई जिले के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों जनपद एवं विकास कार्यों से जुड़े विभिन्न अधिकारियों को दिए। बैठक में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्रीमती नीतू माथुर एवं कार्यपालन यंत्री ग्रामीण यांत्रिकी सेवा श्री अश्विनी जायसवाल भी उपस्थित थे।
    कलेक्टर ने कार्य के प्रति उदासीनता दिखाने पर चांचौड़ा, आरोन एवं गुना बी.सी. को बर्खास्त करने हेतु कारण बताओ नोटिस जारी कर जवाब तलब करने के मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत को निर्देश दिए। कलेक्टर ने गुना, चांचौड़ा, बमौरी, गुना के बी.सी. से साफ शब्दों में कहा कि वे 15 फरवरी 2018 तक प्रधानमंत्री आवास योजना के नए लक्ष्य की पूर्ति के लिए पंजीयन करना सुनिश्चित करें, अन्यथा उनकी सेवाएं समाप्त कर दी जाएंगी। कलेक्टर ने मुख्य कार्यपालन अधिकारियों जनपद समेत ए.पी.ओ., बी.सी. एवं उपयंत्रियों को निर्देश दिए कि वे फील्ड में जाकर जमीनी हकीकत जानें और विकास कार्यों को द्रुत गति से पूरा कराना सुनिश्चित करें।
    कलेक्टर ने कपिलधारा योजना के तहत कूप निर्माण की गति बढ़ाने पर जोर दिया और कहा कि लोगों को पानी एवं सिंचाई के लिए कुओं की जरूरत है और अगर कुए मंजूर हो गए हैं, तो लोगों को प्रेरित कर उनका जल्द निर्माण कराना सुनिश्चित करें। इसमें किसी प्रकार की कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। कलेक्टर ने कपिलधारा के अपूर्ण कूपों का निर्माण जल्द पूर्ण कराने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने कार्यपालन यंत्री ग्रामीण यांत्रिकी सेवा को निर्देश दिए कि वे उपयंत्रियों की बैठकें लेकर उन्हें ताकीद करें कि वे सी.सी. जारी करने में तनिक भी विलंब ना करें और नाहीं सी.सी. जारी करने के लिए किसी को परेशान करें।
    कलेक्टर ने कार्यपालन यंत्री ग्रामीण यांत्रिकी सेवा को हिदायत दी कि वे फील्ड में जाकर मानीटरिंग करें। कलेक्टर ने मोक्षधामों की समीक्षा के दौरान मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत से कहा कि जो उपयंत्री कार्य नहीं कर रहे हैं, उनकी सेवाएं समाप्त करने की कार्रवाई करें। उन्होंने साफ शब्दों में कहा कि जिन मोक्षधामों का निर्माण पूर्ण हो जाए, उनकी सी.सी. तत्परता से जारी की जाए। कलेक्टर ने कार्य न करने वाले डिफाल्टर उपयंत्रियों की जानकारी लेते हुए उनके विरूद्ध अनुशासनात्मक कार्रवाई करने के निर्देश दिए। मोक्षधामों की प्रगति प्रस्तुत ना करने पर कलेक्टर ने बमौरी ए.पी.ओ. को कारण बताओ नोटिस जारी करने के मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत को निर्देश दिए। कलेक्टर ने उदासीनता बरतने पर चांचौड़ा एवं गुना के ए.पी.ओ. के विरूद्ध कार्रवाई करने की हिदायत दी।
    कलेक्टर ने तालाबों के निर्माण एवं उनके जीर्णोद्धार की समीक्षा करते हुए मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत से कहा कि वे एक-एक जनपद पंचायत की बैठकें लेकर वन-टू-वन समीक्षा करें। उन्होंने कहा कि योजनाओं के जिला प्रभारी एवं ए.पी.ओ. के आंकड़ों में एकरूपता होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि उपयंत्रियों को मोक्षधाम, खेल मैदान, कपिलधारा आदि योजनाओं की अपडेट जानकारी के साथ बुलाया जाए और एक-एक करके उनके कार्यो की समीक्षा की जाए। कलेक्टर ने सी.सी. की स्थिति की रोजाना समीक्षा करने के मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत को निर्देश दिए।
    कलेक्टर ने कहा कि वित्तीय वर्ष समाप्ति की ओर है। लिहाजा लक्ष्य पूर्ण करने के लिए अधिक मेहनत किए जाने की जरूरत है। इसलिए मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद, ए.पी.ओ. वी.सी. एवं उपयंत्री फील्ड में जाएं और निर्माण कार्यों की ढंग से मानीटरिंग कर उनको समय पर पूर्ण करना सुनिश्चित करें। कलेक्टर ने मंजूरशुदा आंगनबाड़ी केन्द्र भवनों का निर्माण जल्द पूर्ण कराने के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों जनपद को निर्देश दिए। कलेक्टर ने अधिकारियों से साफ शब्दों में कहा कि विकास कार्यों की सूक्ष्मता एवं गहराई से समीक्षा होगी, इसलिए वे विकास कार्यों की गति में तेजी लाते हुए पूरी तैयारी के साथ अगली बैठकों में उपस्थित होना सुनिश्चित करें।
(182 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
जुलाईअगस्त 2018सितम्बर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
303112345
6789101112
13141516171819
20212223242526
272829303112
3456789

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer