समाचार
|| राज्यपाल श्रीमती पटेल शाला पहुंची || समर्थन मूल्य पर गर्मी के मूंग खरीदने के लिये इन्दौर जिले में बनाये गये चार केन्द्र || प्रभारी मंत्री श्री मलैया ने विधानसभा क्षेत्र क्रमांक-5 में किया सघन भ्रमण || सरल बिजली बिल एवं बिल माफी स्कीम के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए मास्टर ट्रेनर प्रशिक्षण देंगे || लोकतंत्र सेनानी संघ ने मुख्यमंत्री के प्रति व्यक्त किया आभार || संबल योजना से गरीबों के कल्याण का नया आदर्श स्थापित करेगा मध्यप्रदेश || एक दर्जन बीएलओ को कारण बताओ नोटिस जारी || मुख्यमंत्री ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की संबल योजना की समीक्षा || वीरेन्द्र तिवारी उर्फ अमर नाथ तिवारी, एवं संजय कुमार अग्रहरी को किया गया जिला बदर || अशासकीय विद्यालयों में निःशुल्क प्रवेश हेतु ऑनलाइन आवेदन 23 जून तक
अन्य ख़बरें
परोपकार का दूसरा नाम है प्रसादम (सफलता की कहानी)
-
उमरिया | 14-मार्च-2018
 
   
 
   परोपकार भारतीय सांस्कृतिक की अनुपम देन है। देश की इसी विशेषता का डंका पूरे विश्व मे बजता है। दुखियो एवं पीड़ित मानवता की सेवा ही भारतीय संस्कृति है।
    भूखे को रोटी एवं प्यासे को पानी की सुविधा उपलब्ध कराने के उद्देश्य से जिला प्रशासन उमरिया द्वारा प्रसादम कार्यक्रम संचालित किया जा रहा है। जिला अस्पताल उमरिया में जिले के विभिन्न अंचलों से आने वाले बीमार लोगों तथा उनके परिजनों के लिये भोजन पानी की व्यवस्था प्रसादम से कराई जाती है। यह व्यवस्था बिना शासकीय धन के व्यय किए, जन समुदाय के द्वारा आर्थिक सहयोग से एकत्र की जाती है।
    उमरिया कलेक्टर श्री माल सिंह ने बताया कि प्रसादम कार्यक्रम में जिला अस्पताल मे आने वाले भर्ती मरीजों के परिजनों, रिक्शा चालको या अन्य गरीब जो भोजन के लिए मोहताज रहते है, उन्हें नि:शुल्क रूप से दोनो टाईम का भोजन दिया जाता है। प्रसादम में भोजन व्यवस्था एवं धन संग्रहण का कार्य समिति के माध्यम से किया जाता है । इस कार्य के समन्वय की जवाबदारी जन अभियान परिषद के समन्वयक श्री रवींद्र शुक्ला बखूबी निभा रहें है।
    प्रसादम कार्यक्रम की शुरूआत 29 अप्रैल 2017 को प्रदेश के खाद्य नागरिक आपूर्ति, उपभोक्ता संरक्षण तथा जिला प्रभारी मंत्री श्री ओम प्रकाश धुर्वे की उपस्थिति में की गई थी। प्रसादम कार्यक्रम में प्रतिदिन 6 से 7 हजार लोग निशुल्क भोजन करते है। वर्तमान में प्रसादम कार्यक्रम के संचालन का दायित्व समाजसेवी संस्था उड़ान, साहित्यिक, सामाजिक एवं सांस्कृतिक विकास समिति उमरिया को सौंपा गया है। संस्था प्रमुख श्री राहुल अग्निहोत्री ने बताया कि प्रसादम कार्यक्रम में ग्रामीण क्षेत्रों से विभिन्न प्रयोजनों से जिला मुख्यालय उमरिया आने वाले गरीब परिवारों को नि:शुल्क भोजन उपलब्ध कराया जाता है। इसी तरह सामान्य परिवारों को पांच रूपये थाली के मान से भोजन दिया जाता है। समिति के सदस्य श्री कीर्ति सोनी ने बताया कि प्रसादम कार्यक्रम का संचालन जिला चिकित्सालय परिसर में किया गया है, जहां साफ-सफाई के साथ भोजन तैयार किया जाता है। कार्यक्रम के संचालन का संपूर्ण रिकार्ड संधारित किया जाता है।
    प्रसादम कार्यक्रम के तहत भोजन करने वाले ग्राम मझगवां के भगवान दास, ग्राम बरही के पुन्नू लाल, ग्राम धतूरा से आई दुअसिया बाई, ग्राम रक्सा से आये कैलाश चौधरी, जिला मुख्यालय उमरिया के संतोष विश्वकर्मा, ग्राम परासी से आये राजेंद्र गड़ारी, पाली से आये शुभम महोबिया, देवरी से आये मुकुंदलाल यादव तथा पाली से आये सुदामा यादव आदि ने बताया कि यहां पूरे सम्मान के साथ कुर्सी टेबल में बैठाकर दोनो टाईम का स्वादिष्ट भोजन निशुल्क प्राप्त हो रहा है। समय समय पर इस कार्य को अंजाम देने वाली संस्थाओं द्वारा खाने की देख रेख तथा स्वाद के संबंध में जानकारी भी ली जाती है।  जिला प्रशासन द्वारा गरीबों के भोजन हेतु की गई व्यवस्था की सर्वत्र सराहना हो रही है।
    जिला अस्पताल परिसर गरीब, असहाय व्यक्तियों के लिए सेवा का मिशाल बन चुका है। अब तक दीनदयाल अन्त्योदय रसाई एवं प्रसादम के माध्यम से विगत 11 माह में 1 लाख 40 हजार से अधिक गरीबों को भोजन से संतृप्त कराया गया है।
    प्रसादम में 14 मार्च 2017 को 2017 को प्रदेश के मुख्यमंत्री जी ने प्रसादम कार्यक्रम मे गरीबो को भोजन परोसकर पुण्य लाभ प्राप्त किया। जिला प्रभारी मंत्री श्री ओम प्रकाश धुर्वे तथा तत्कालीन आदिम जाति कल्याण मंत्री श्री ज्ञान सिंह ने भी प्रसादम कार्यक्रम मे सहभागिता निभाई।
(96 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
मईजून 2018जुलाई
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
28293031123
45678910
11121314151617
18192021222324
2526272829301
2345678

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer