समाचार
|| पेड न्‍यूज पर सतत निगरानी हेतु एससीएमसी समिति गठित || मुख्यमंत्री ने भगवान महाकाल के दर्शन कर पूजन-अर्चन किया || जिले में अब तक 732.3 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज || सार्थक परिणाम के लिए सूक्ष्म कार्ययोजना तथा सतत मॉनीटरिंग जरूरी - कलेक्टर || कलेक्टर ने की समय सीमा वाले प्रकरणों की समीक्षा || सद्भावना दिवस पर दिलाई गई प्रतिज्ञा || लीला को राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम ने दी सुन्दर मुस्कान (सफलता की कहानी) || मौसमी बीमारियो से सतर्क रहे || मुख्यमंत्री कृषक उद्यमी योजना का लाभ लेने के लिये कक्षा 10वी उत्तीर्ण व्यक्ति कर सकते है आवेदन || जाति प्रमाण पत्र संबंधी 3 नवीन सेवाएं अब लोक सेवा केन्द्रों से मिलेंगी
अन्य ख़बरें
निर्वाचन के काम में सतर्कता बरती जाये
शिकायतों का त्वरित निराकरण होना चाहिये, गड़बड़ी होने पर सम्बन्धित अधिकारी जिम्मेदार होंगे, ईआरओ और एईआरओ का संभाग स्तरीय प्रशिक्षण सम्पन्न
उज्जैन | 02-मई-2018
 
 
   संभागायुक्त श्री एमबी ओझा की मौजूदगी में सिंहस्थ मेला कार्यालय के सभाकक्ष में ईआरओ और एईआरओ का संभाग स्तरीय प्रशिक्षण सम्पन्न हुआ। इस अवसर पर संभागायुक्त श्री ओझा ने संभाग के समस्त ईआरओ और एईआरओ को निर्देश दिये कि निर्वाचन के काम में सतर्कता बरती जाये। अपने-अपने विधानसभा क्षेत्र की प्राप्त शिकायतों एवं आयोग द्वारा चाही गई जानकारी का त्वरित निराकरण किया जाना चाहिये। निर्वाचन के काम में किसी भी प्रकार की गड़बड़ी होने पर सम्बन्धित अधिकारी जिम्मेदार होंगे।
   संभागायुक्त श्री एमबी ओझा ने समस्त सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश दिये कि निर्वाचन आयोग के दिशा-निर्देशों का कड़ाई से पालन किया जाना सुनिश्चित किया जाये। चुनाव की प्रक्रिया को पूर्ण करने में हम सबकी पूर्ण ईमानदारी से महती भूमिका का निर्वहन होना चाहिये। निर्वाचन का कार्य समय-सीमा में पूरा किया जाये। मतदाता सूची में नाम जोड़ना, हटाने के कार्य में बीएलओ की महत्वपूर्ण भूमिका है। इसलिये अपने-अपने विधानसभा क्षेत्र में काम करने वाले समस्त बीएलओ के कार्य की समय-समय पर मॉनीटरिंग की जाये। मतदाता सूची में नामों का डुप्लीकेशन नहीं होना चाहिये। ईआरओ और एईआरओ निर्वाचन आयोग के द्वारा समय-समय पर दिये गये निर्देशों का पूर्ण मनोयोग से अध्ययन कर पालन किया जाना सुनिश्चित किया जाये। अपने-अपने विधानसभा क्षेत्र में निर्वाचन से सम्बन्धित बैठकों का आयोजन ईआरओ के द्वारा समय-समय पर कर लिया जाये। निर्वाचन के कार्य में अधिकारी अति आत्मविश्वास में न रहें। गंभीरता से निर्वाचन के कार्यों को अंजाम दिया जाये।
   बैठक में संभागायुक्त ने निर्देश दिये कि अपने-अपने विधानसभा क्षेत्र में मतदाता परिचय-पत्रों को सम्बन्धित मतदाता के पास पहुंचाया जाना भी सुनिश्चित किया जाये। इस मामले में कहीं से किसी भी प्रकार की शिकायत न आये। उन्होंने निर्देश दिये कि गत चुनाव में कई प्रकार की शिकायतें प्राप्त हुई होंगी, उन शिकायतों का पुनरावलोकन कर लिया जाये। संभागायुक्त ने बैठक में अवगत कराया कि 4 मई को आयोग द्वारा वीसी ली जायेगी, इसलिये निर्वाचन से सम्बन्धित जानकारी अपडेट की जाये। आने वाले समय में निर्वाचन से सम्बन्धित कार्यों के लिये आयोग के वरिष्ठ अधिकारियों के द्वारा समय-समय पर बैठकें, वीसी आदि लेंगे, इसलिये अधिकारी अपडेट रहें।
   उप जिला निर्वाचन अधिकारी श्रीमती शैली कनाश एवं ई-गवर्नेंस मैनेजर श्री अंकितसिंह ने पॉवर पाइन्ट प्रजेंटेशन के माध्यम से निर्वाचन की प्रक्रिया आदि के बारे में विस्तार से जानकारी दी और मोबाइल एप, ईआरओ नेट, बीएलओ नेट, यूएनपीईआर तथा एनव्हीएसपी आदि के बारे में तकनीकी जानकारी से प्रशिक्षणार्थियों को अवगत कराया। इस दौरान उज्जैन कलेक्टर श्री मनीष सिंह, संयुक्त आयुक्त श्री प्रतीक सोनवलकर, अपर कलेक्टर श्री बसन्त कुर्रे, एडीएम श्री जीएस डाबर सहित उज्जैन संभाग के समस्त एसडीएम एवं तहसीलदार आदि उपस्थित थे।        
(110 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
जुलाईअगस्त 2018सितम्बर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
303112345
6789101112
13141516171819
20212223242526
272829303112
3456789

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer