समाचार
|| अटेर किला के संरक्षण की दिशा में पहल की जावेगी - श्रीमती पटेल || टीवी के मरीजो को सामाजिक संस्थाएं गोद लें - श्रीमती पटेल || राज्यपाल श्रीमती पटेल ने किया जिला चिकित्सालय का निरीक्षण || जिला स्तरीय योग दिवस कार्यक्रम 21 जून को पुलिस लाइन में होगा || अटेर किला के संरक्षण की दिशा में पहल की जावेगी-श्रीमती पटेल || कलेक्टर श्री गढ़पाले ने अनुसूचित जाति जनजाति कार्यालय का किया निरीक्षण || आरसेटी की जिला स्तरीय सलाहकार समिति की बैठक सम्पन्न || मतदान दलों के गठन के लिए अधिकारी कर्मचारियों की जानकारी भेजें || पर्यटन निगम अध्यक्ष श्री भौमिक अटल सरोवर नागचून का 20 को करेंगे लोकार्पण || पुनरीक्षित क्षय नियंत्रण कार्यक्रम को बेहतर तरीके से संचालित करें - कलेक्टर श्री गढ़पाले
अन्य ख़बरें
आजीविका मिशन के समूहों के माध्यम से महिलाए बनी आत्मनिर्भर - श्रीमती सिंधिया
महिला स्वसहायता समूहों को दी 36 लाख से अधिक की राशि
शिवपुरी | 05-मई-2018
 
  
  खेल एवं युवा कल्याण, धार्मिक न्यास एवं धर्मस्व मंत्री श्रीमती यशोधरा राजे सिंधिया ने कहा कि देश के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी एवं मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चैहान के नेतृत्व में महिला सशक्तिकरण की दिशा में जो कार्य किया जा रहा है, उसी का परिणाम है कि आजीविका मिशन के समूहों के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्र की महिलाएं अपने पैरो पर खड़े होकर आत्मनिर्भर बनी है। मंत्री श्रीमती सिंधिया ने समूह की महिलाओं को संकल्प दिलाते हुए कहा कि जिस प्रकार समूह की महिलाओं ने अपने जीवन में बदलाव लाया है, उसी प्रकार हम ग्रामीण क्षेत्र की अन्य महिलाओं के जीवन स्तर में भी बदलाव लाए।
    खेल एवं युवा कल्याण मंत्री श्रीमती यशोधरा राजे सिंधिया ने उक्त आशय के विचार आज जिला मुख्यालय पर राष्ट्रीय ग्राम स्वराज अभियान के तहत आयोजित आजीविका एवं कौशल विकास दिवस के कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में व्यक्त किए। कार्यक्रम में मछुआ कल्याण बोर्ड के उपाध्यक्ष श्री राजू बाथम, पूर्व विधायक श्री माखनलाल राठौर, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री राजेश कुमार जैन, आजीविका मिशन के जिला परियोजना प्रबंधक डॉ.अरविंद भार्गव सहित स्वसहायता समूह की महिला सदस्य आदि उपस्थित थे।
    इस मौके पर 30 स्वसहायता समूहों की महिलाओं को 26 लाख की राशि नगद साख सीमा के तहत, 9 लाख की राशि आजीविका निधि के तहत और 1 लाख 50 हजार की राशि चक्रीय निधि के तहत प्रदाय की गई। बैंक ऑफ इंडिया के प्रबंधक श्री अरूण खेमराज द्वारा समूहों को एक करोड़ 11 लाख की राशि वितरण करने पर उन्हें सम्मानित किया गया।
    श्रीमती सिंधिया ने इस मौके पर स्वसहायता समूह की महिलाओं द्वारा उत्पादित वस्तुओं की प्रदर्शनी का भी अवलोकन किया। इस दौरान उन्होंने उत्कृष्ट कार्य करने वाली महिलाओं एवं कॉमन सर्विस सेंटर के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रों में जानकारी देने हेतु लेपटॉप प्रदाय किए। इस मौके पर स्वसहायता समूहों की महिलाओं एवं रोजगार प्राप्त कर चुके युवाओं ने अपने अनुभवों को साझा किया।
    श्रीमती सिंधिया ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि आजीविका मिशन के स्वसहायता समूहों की महिलाओं द्वारा ग्रामीण क्षेत्र की चुनौतियों को सामना कर दृढ़संकल्प, लगन एवं मेहनत के साथ समूहों के माध्यम से आत्मनिर्भर बनी है, सभी महिलाएं बधाई की पात्र है। मंत्री ने कहा कि केन्द्र एवं राज्य सरकार द्वारा महिला सशक्तिकरण की दिशा में अनेको कार्य किए गए है, स्वसहायता समूहों की महिलाए सरकारों द्वारा संचालित सैकड़ो कल्याणकारी एवं हितग्राही मूलक योजनाओं की जानकारी ग्रामीण क्षेत्र की अन्य महिलाओं को प्रदाय कर उन्हें इन योजनाओं का लाभ लेने हेतु भी प्रेरित करें। उन्होंने कहा कि स्वसहायता समूहों के माध्यम से ही महिलाओं की सोच में भी बदलाव लाए। जिससे महिलाए भी आत्मनिर्भर बन सके।
    श्रीमती सिंधिया ने उपस्थित महिलाओं को संकल्प दिलाते हुए कहा कि वे आज संकल्प लेकर जाए कि वे अपने गांव को स्वच्छता के क्षेत्र के साथ-साथ गांव की तस्वीर बदलने में भी अपना योगदान देंगी। जिससे समाज में भी बदलाव आएगा। यह कार्य शिवपुरी जिले से ही शुरू करें। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत देश के सभी आवासहीन परिवारों को 2022 तक आवास उपलब्ध कराए जाएगें।
    कार्यक्रम के शुरू में जिला प्रबंधक डॉ.अरविंद भार्गव ने स्वागत भाषण देते हुए कहा कि अजीविका मिशन शिवपुरी में 1 लाख 2 हजार महिलाएं समूहो के माध्यम से जुड़ी हुई है। प्रतिमाह दो हजार महिलाए जुड़ रही है। उन्होंने कहा कि आजीविका मिशन द्वारा विभिन्न नियोजकों के पास जिले के शिक्षित बेरोजगारों को रोजगार उपलब्ध कराया है। सिक्योरिटी गार्ड के लिए जिले के 170 युवक विभिन्न जिलों में अपनी सेवाए दे रहे है। जिसमें शिवपुरी मे भी 08 युवक सिक्योरिटी गार्ड के रूप में सेवाए दे रहे है। इन युवाओं को 8 से 10 हजार रूपए का प्रतिमाह वेतन भी प्राप्त हो रहा है। डॉ.भार्गव ने बताया कि उत्तरप्रदेश के आजीविका मिशन की मांग पर जिले की 220 कृषि सखियों द्वारा उत्तरप्रदेश के विभिन्न जिलों में जाकर जैविक खेती का प्रशिक्षण प्रदाय किया है।
प्रारंभिक ग्रामीण उद्यमिता कार्यक्रम का किया शुभारंभ
    खेल एवं युवा कल्याण मंत्री श्रीमती यशोधरा राजे सिंधिया ने इस मौके पर भारत सरकार द्वारा संचालित प्रारंभिक ग्रामीण उद्यमिता कार्यक्रम का भी शुभारंभ किया। यह कार्यक्रम प्रदेश के शिवपुरी सहित 6 जिलों में पायलेट परियोजना के तहत 4 वर्ष के लिए संचालित किया जाएगा। इस कार्यक्रम के तहत परम्परागत उद्योगों के साथ-साथ ग्रामीण कुटीर उद्योगों को भी बढ़ावा देना है। इस कार्यक्रम के माध्यम से 1 हजार 800 महिलाओं को विभिन्न रोजगारमुखी व्यवसायों से जोडा जाएगा। योजना में लगभग 2 करोड़ 50 लाख रूपए की राशि खर्च की जाएगी। कार्यक्रम का संचालन आजीविका मिशन शिवपुरी की जिला प्रबंधक श्रीमती कामना सक्सेना द्वारा किया गया।
(44 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
मईजून 2018जुलाई
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
28293031123
45678910
11121314151617
18192021222324
2526272829301
2345678

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer