समाचार
|| राज्यपाल श्रीमती आनंदी बेन पटेल ने सूर्य नमस्कार स्थल का अवलोकन किया || राष्ट्रीय कृषि विस्तार प्रबंधन संस्थान (मैनेज) द्वारा एसीएबीसी प्रशिक्षण हेतु कृषि विषय के युवाओं से आवेदन आमंत्रित || राज्यपाल का दो दिवसीय खरगोन भ्रमण || कलेक्टर सिंह ने 25 हजार रूपये की आर्थिक सहायता की स्वीकृत || बेसहारा बच्चों का सहारा बनी फॉस्टर केयर योजना "सफलता की कहानी" || रोजगार निर्माण अब मोबाईल में एक क्लिक पर || सातवें वेतनमान व डीए का एरियर 3 दिवस में भुगतान करें || मध्यप्रदेश पर्यटन क्विज प्रतियोगिता-2018 || मुख्यमंत्री तीर्थदर्शन योजनान्तर्गत आवेदन पत्र आमंत्रित || शासकीय विद्यालयों के कक्षा-8 तक के छात्रों को गणवेश वितरण
अन्य ख़बरें
माँ तुझे प्रणाम योजना के तहत नाथुला दर्रा बार्डर की अनुभव यात्रा के लिए युवाओं का दल रवाना
-
मन्दसौर | 17-मई-2018
 
   
    मध्य प्रदेश सरकार की महत्वाकांक्षी एवं अभिनव "माँ तुझे प्रणाम" योजना के अंतर्गत सिक्किम स्थित अंतर्राष्ट्रीय सीमा नाथुला दर्रा की अनुभव यात्रा के लिए आज युवाओं के 72 सदस्यीय दल ने प्रस्थान किया। संचालक खेल और युवा कल्याण डॉ. एस.एल. थाउसेन ने दल प्रभारी जोसफ बक्सला, डी.एस.ओ. इंदौर को राष्ट्र ध्वज सौंपकर इस दल को रवाना किया। राष्ट्रीय ध्वज नाथुला दर्रा की बार्डर पर फहराया जायेगा। इस दल में शिवपुरी, गुना, राजगढ़, सीहोर, विदिशा, रायसेन, होशंगाबाद और ग्वालियर जिले के युवा शामिल हैं। हबीबगंज-अगरतला एक्सप्रेस टे्रन से रवाना होने वाला यह दल 21 मई, 2018 को भोपाल वापसी करेगा।
    संचालक खेल और युवा कल्याण डॉ. एस.एल. थाउसेन ने नाथुला दर्रा की अनुभव यात्रा पर जा रहे दल के सदस्यों को संबोधित करते हुए कहा कि आप सौभाग्यशाली हैं जिन्हें नाथुला दर्रा बार्डर की अनुभव यात्रा पर जाने का अवसर मिला है। उन्होंने कहा कि "माँ तुझे प्रणाम" योजना सरकार की महत्वपूर्ण योजना है जिसका उद्देश्य युवाओं में देशभक्ति की भावना जागृत कर उन्हें राष्ट्रसेवा के लिए प्रेरित करना है। डॉ. थाउसेन ने युवाओं को देश की सेवा के लिए प्रोत्साहित करते हुए कहा कि भारतीय सेना के जवान किस तरह विपरीत एवं दूभर परिस्थितियों में देश की सेवा कर रहे हैं यह देखने-समझने के लिए आपको बार्डर पर भेजकर अनुभव यात्रा करायी जा रही है। उन्होंने दल के सदस्यों को समझाइश देते हुए कहा कि इस यात्रा में आप मध्य प्रदेश का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं इसलिए कोई भी ऐसा कार्य नहीं करें जिससे मध्यप्रदेश की छबि धूमिल हो। उन्होंने यह भी ताकीद की कि यात्रा के दौरान सुरक्षा का विशेष ध्यान रखते हुए दल प्रभारी के निर्देशों का पालन करें। उन्होंने दल में शामिल सभी सदस्यों का परिचय प्राप्त किया और युवाओं को अंतर्राष्ट्रीय सीमाओं पर कार्यरत बी.एस.एफ., आई.टी.बी.पी., एस.एस.बी., असम रायफल आदि के संबंध में आवश्यक मार्गदर्शन प्रदान किया। इस अवसर पर संयुक्त संचालक श्री बी.एस. यादव सहित अन्य अधिकारी भी मौजूद थे।
(60 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
जूनजुलाई 2018अगस्त
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
2526272829301
2345678
9101112131415
16171819202122
23242526272829
303112345

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer