समाचार
|| जनता के कल्याण में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे - मुख्यमंत्री श्री चौहान || शाजापुर में पहली बार इन्दौर-अमृतसर के रूकने पर चालक का किया सम्मान || जनजातीय अधिकार सभा का गठन कर आदिवासी ग्राम, ग्राम पंचायत और विकासखंड को अधिकार संपन्न बनाया जायेगा - मुख्यमंत्री श्री चौहान || मतदाताओं को जागरूक करने के लिये वीवीपेट एवं ईवीएम मशीन संचालन की दी जा रही है जानकारी || स्वीप गतिविधियों तहत गणेश पंडालों में भी किया जा रहा मतदाताओं को जागरूक || आधार पंजीयन कार्य हेतु आवेदन आमंत्रित || अल्पसंख्यक छात्रवृत्ति हेतु आवेदन आमंत्रित || बैटरियां क्रय किये जाने हेतु निविदा आमंत्रित || प्रधानमंत्री आवास योजना अंतर्गत सूची में नाम जोड़ने की अंतिम तिथि 30 सितम्बर || राज्य में सौभाग्य योजना का 99 प्रतिशत लक्ष्य पूर्ण
अन्य ख़बरें
मानसून में बिजली संबंधी शिकायतों का तत्परता से निराकरण करने के निर्देश
शत-प्रतिशत उपभोक्ताओं को एसएमएस से सूचना दी जाएगी
आगर-मालवा | 04-जुलाई-2018
 
   
   एमपी पॉवर मैनेजमेंट कंपनी ने बारिश के साथ तेज आंधी-तूफान आने पर विद्युत आपूर्ति में होने वाले व्यवधान को सुचारू रूप से दूर करने के साथ उपभोक्ता की शिकायतों का निराकरण मैदानी स्तर पर तत्परता से करने के निर्देश दिये हैं। तीनों वितरण कंपनी के सभी क्षेत्रीय एवं मैदानी अमले को विद्युत आपूर्ति बनाए रखने में बेहतर टीम वर्क से कार्य करने को कहा गया है। सरल बिजली स्कीम एवं मुख्यमंत्री बकाया बिजली बिल माफी स्कीम-2018, सौभाग्य योजना, दीनदयाल ग्राम ज्योति योजना, आईपीडीएस, मुख्यमंत्री कृषि पंप योजना के कार्य भी पूरी सजगता और तत्परता से करवाने के निर्देश दिये गये हैं। बिजली वितरण व्यवस्था और रख-रखाव से जुड़े कर्मिकों का अपना मोबाइल फोन 24 घंटे चालू रखने को कहा गया है।
   कम्पनी ने निर्देश जारी किये हैं कि शहरों में ट्रिपिंग का स्तर न्यूनतम होना चाहिए तथा ट्रिपिंग की देनन्दिनी आधार पर समीक्षा की जाए। सभी एफ.ओ.सी. वाहनों में जी.पी.एस. सिस्टम लगाया जाए ताकि वाहनों का समन्वय तथा मॉनीटरिंग होने से वे उपभोक्ता परिसर में जल्दी पहुँचकर शिकायत निवारण सुनिश्चित कर सकें। उपभोक्ताओं के खराब तथा जले मीटरों को प्राथमिकता से बदला जाए और हर उपभोक्ता को मीटर रीडिंग के आधार पर ही देयक जारी किया जाए।
एस.एम.एस. अलर्ट
   वितरण कंपनी ने कहा कि क्षेत्रीय स्तर तक व्यापक मुहिम चलाकर हर बिजली उपभोक्ता का मोबाइल नंबर कंपनी में दर्ज कराया जाए, जिससे शत-प्रतिशत उपभोक्ताओं को मोबाइल पर एस.एम.एस. अलर्ट भेजा जा सके। बिजली उपभोक्तओं को उनके मोबाइल पर बिजली बिल जमा करने के लिए एस.एम.एस भी भेजा जा रहा है। एस.एम.एस. से बिजली की लाइनों, उपकरणों के रख-रखाव के लिए बिजली बंद होने की सूचना दी जा रही है। पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी द्वारा उपभोक्ता को मोबाइल पर एस.एम.एस द्वारा बिजली बिल जारी होने के पहले बिजली खपत की जानकारी दी जा रही है। बिजली खपत में यदि कोई परिवर्तन है, तो उपभोक्ता उसे ठीक करवा सकता है। यह योजना शीघ्र सभी वितरण कंपनी में भी लागू हो जाएगी। तीनों विद्युत वितरण कंपनी द्वारा शहर एवं ग्रामीणों क्षेत्रों में लगातार बिजली शिकायत निवारण शिविर लगाये जा रहे हैं।
   बिजली से संबंधित हर जानकारी और समस्या के समाधान के लिए तीनों विद्युत वितरण कंपनी में कॉल सेंटर स्थापित किए गए हैं। कॉल सेंटर द्वारा फोन नम्बर 1912 पर बिजली से संबंधित शिकायतों का तत्परता से निराकरण किया जा रहा है। विद्युत वितरण कंपनी में अब ऑनलाइन बिजली से संबंधित शिकायतों को दर्ज करवाने और उसके समाधान की पुख्ता व्यवस्था है।
(79 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
अगस्तसितम्बर 2018अक्तूबर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
272829303112
3456789
10111213141516
17181920212223
24252627282930
1234567

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer