समाचार
|| घर से ही करा सकते हैं मोबाइल को आधार से लिंक || अन्तर्राष्ट्रीय बाघ दिवस 29 जुलाई को || हज यात्रियों को विशेष प्रशिक्षण 25 जुलाई तक || समाज कार्य स्नातक स्तरीय पाठ्यक्रम लेखन की समीक्षा 26 जुलाई को || पशुधन संजीवनी हेल्पलाइन टोल फ्री नंबर ‘‘1962’’ प्रारंभ || सीपीसीटी में हिंदी टाईपिंग अनिवार्य || स्कूलों की मान्यता के नवीनीकरण के लिए आयुक्त के पास अपील 20 से 26 जुलाई तक होगी || दिव्यांगजन अधिकार अधिनियम में 21 प्रकार की दिव्यांगताएं शामिल || उर्दू में 90 प्रतिशत से अधिक अंक लाने वाले विद्यार्थियों को मिलेगा पुरस्कार || सुदामा प्री मैट्रिक छात्रवृत्ति योजना
अन्य ख़बरें
ऊर्जा अधोसंरचना विकास पर्व पर आज 9336 उपभोक्ताओं को दिये बिजली बिल माफी के प्रमाण पत्र
जिले में अब तक उपभोक्ताओं के 39 करोड़ के बकाया बिजली बिल माफ
जबलपुर | 11-जुलाई-2018
 
 
ऊर्जा अधोसंरचना विकास पर्व के अवसर पर आज जिले में आयोजित कार्यक्रमों में मुख्यमंत्री बकाया बिजली बिल माफी योजना के तहत श्रमिक एवं बीपीएल श्रेणी के 9 हजार 336 विद्युत उपभोक्ताओं को 5 करोड़ 67 लाख रूपये बकाया बिजली बिल की माफी के प्रमाण पत्र प्रदान किये गये। इन्हें मिलाकर इस योजना के तहत जिले में अभी तक एक लाख 6 हजार 337 उपभोक्ताओं के करीब 39 करोड़ 20 लाख रूपये के बकाया बिजली माफ किये जा चुके हैं।
   मुख्यमंत्री बकाया बिजली बिल माफी स्कीम का जिला स्तरीय कार्यक्रम यहां वेटरनरी कॉलेज ग्राउण्ड में आयोजित किया गया था। कार्यक्रम में प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा राज्य मंत्री श्री शरद जैन ने हितग्राहियों को बकाया बिजली बिल माफी के प्रमाण पत्र प्रदान किये।  इस अवसर पर महापौर डॉ. श्रीमती स्वाति गोडबोले, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती मनोरमा पटेल एवं विधायक श्री अशोक रोहाणी भी उपस्थित थे।  कार्यक्रम में रतलाम जिले के जावरा में आयोजित ऊर्जा विकास पर्व के राज्य स्तरीय समारोह में मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के संबोधन का सीधा प्रसारण भी किया गया।
    ऊर्जा अधोसंरचना विकास पर्व के जिला स्तरीय कार्यक्रम को संबोधित करते हुए चिकित्सा शिक्षा राज्य मंत्री श्री जैन ने संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री बकाया बिजली बिल माफी स्कीम और मुख्यमंत्री सरल बिजली बिल स्कीम को मजदूर एवं गरीब तबके के बिजली उपभोक्ताओं को आर्थिक संकट से उबारने वाली योजना बताया। उन्होंने इन स्कीमों को प्रारंभ करने के लिए मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान का आभार व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री जनकल्याण संबल योजना के तहत पंजीकृत सभी श्रमिकों एवं बीपीएल श्रेणी के विद्युत उपभोक्ताओं से इन योजनाओं का लाभ उठाने की अपील भी की।
    महापौर श्रीमती स्वाति गोडबोले ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा शुरू की गई मुख्यमंत्री बकाया बिजली बिल माफी और सरल बिजली बिल स्कीम को गरीबों के जीवन में रोशनी लाने वाली योजना बताया।  उन्होंने कहा कि श्रमिक एवं गरीब परिवार के विद्युत उपभोक्ताओं को बकाया बिजली बिल माफ करके और प्रतिमाह 200 रूपये की फ्लेट दर पर बिजली बिल चुकाने की इन योजनाओं ने साबित कर दिया है कि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान और उनके नेतृत्व वाली सरकार सच्चे अर्थों में गरीबों की हितैषी है।
    कार्यक्रम को क्षेत्रीय विधायक श्री अशोक रोहाणी ने भी संबोधित किया।  उन्होंने कहा कि असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों और गरीब बिजली उपभोक्ताओं के प्रारंभ की गई इन योजनाओं से आम आदमी को सीधा फायदा पहुंच रहा है।
    इसके पहले कार्यक्रम का प्रारंभ मुख्य अतिथि राज्य मंत्री श्री शरद जैन एवं महापौर श्रीमती स्वाति गोडबोले ने दीप प्रज्वलित कर किया।  कार्यक्रम में महापौर परिषद के सदस्य श्री मनप्रीत सिंह आनंद, श्री कमलेश अग्रवाल, श्री रमेश प्रजापति एवं श्री नवीन रिछारिया, पार्षद श्री रिकुंज विज, संभागायुक्त श्री आशुतोष अवस्थी, कलेक्टर श्रीमती छवि भारद्वाज, मध्य प्रदेश पूर्व क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के मुख्य अभियंता श्री आर.के. स्थापक, अधीक्षण यंत्री श्री आई.के. त्रिपाठी भी मौजूद थे।
    कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री बकाया बिजली बिल माफी योजना तथा मुख्यमंत्री सरल बिजली स्कीम का श्रमिकों एवं बीपीएल श्रेणी के उपभोक्ताओं को लाभ पहुंचाने के लिए विद्युत विभाग के संभागवार पंजीयन शिविर भी लगाये गये थे। मुख्यमंत्री बकाया बिजली बिल माफी योजना के तहत आज ऊर्जा अधोसंरचना विकास पर्व पर जिला मुख्यालय जबलपुर के अलावा बरगी, बरेला, मझौली और सिहोरा में कार्यक्रमों का आयोजन किया गया था।
(10 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
जूनजुलाई 2018अगस्त
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
2526272829301
2345678
9101112131415
16171819202122
23242526272829
303112345

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer