समाचार
|| घर से ही करा सकते हैं मोबाइल को आधार से लिंक || अन्तर्राष्ट्रीय बाघ दिवस 29 जुलाई को || हज यात्रियों को विशेष प्रशिक्षण 25 जुलाई तक || समाज कार्य स्नातक स्तरीय पाठ्यक्रम लेखन की समीक्षा 26 जुलाई को || पशुधन संजीवनी हेल्पलाइन टोल फ्री नंबर ‘‘1962’’ प्रारंभ || सीपीसीटी में हिंदी टाईपिंग अनिवार्य || स्कूलों की मान्यता के नवीनीकरण के लिए आयुक्त के पास अपील 20 से 26 जुलाई तक होगी || दिव्यांगजन अधिकार अधिनियम में 21 प्रकार की दिव्यांगताएं शामिल || उर्दू में 90 प्रतिशत से अधिक अंक लाने वाले विद्यार्थियों को मिलेगा पुरस्कार || सुदामा प्री मैट्रिक छात्रवृत्ति योजना
अन्य ख़बरें
सीईओ ने लगाई झाड़ू तो गाँव की महिलाओं ने थाम ली सफाई की कमान "स्वच्छपूर्णा अभियान"
-
ग्वालियर | 11-जुलाई-2018
   नेक नीयत से की गई पहल को अंजाम तक पहुँचाने के लिये लोग स्वत: ही उससे जुड़ते चले जाते हैं। ग्वालियर जिले के ग्राम कल्याणी में इसके सजीव दर्शन हुए। बुधवार को तड़के जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री शिवम वर्मा के नेतृत्व में जिला पंचायत का दल “स्वच्छपूर्णा अभियान” के तहत कल्याणी पहुँचा था। श्री शिवम वर्मा ने देखा कि गाँव की गलियों में गंदगी पसरी है तो उन्होंने अपने साथ गए अमले के साथ झाड़ू लेकर सफाई शुरू कर दी। फिर क्या गाँव की महिलाएं भी अपने-अपने घर से झाडू ले आईं और जिला पंचायत सीईओ के पीछे-पीछे सड़क की सफाई करने में जुट गईं।
    भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी श्री शिवम वर्मा की अगुआई में सरकारी अमले द्वारा झाडू लगाते देखकर कल्याणी गाँव की सरोज, सबीना, रहीसा, परबीन, नीतू व लेखनी सहित अन्य महिलाओं को शर्मिंदगी महसूस हुई। वे आपस में चर्चा करने लगीं कि गलियां हमने गंदी कीं और सफाई बड़े-बड़े अधिकारी कर रहे हैं। ये सभी महिलाएं कल्याणी गाँव में राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत गठित स्व-सहायता समूहों से जुड़ीं हैं। जब इन महिलाओं ने सफाई के लिये झाडू उठाईं तो कारवां बढ़ता ही गया और देखते ही देखते गाँव की अन्य महिलायें भी इस रचनात्मक पहल में शामिल हो गईं। साथ ही संकल्प लिया कि हम अपने गाँव को साफ-सुथरा रखेंगे। सड़क की सफाई के साथ-साथ नालियों में और इधर-उधर पड़े कचरे को भी ट्रॉली में एकत्र कर गाँव से बाहर पहुँचाया।  
   जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री शिवम वर्मा ने ग्रामीणों से स्वच्छपूर्णा अभियान के तहत अपने-अपने गाँव में ओडीएफ प्लस गतिविधियां संचालित करने को कहा। उन्होंने कहा गाँव को कीचड़मुक्त बनाने के लिये नाडेप टांके व बायोगैस प्लांट लगवाएं। इससे गंदगी से तो निजात मिलेगी ही, साथ ही गोबर व कचरे को जैविक खाद में तब्दील होगा। उन्होंने कहा कि गंदे पानी को नाली के जरिए एक सेंट फिल्टर टैंक भी बनवाए। इसके लिये तकनीकी व आर्थिक मदद जिला पंचायत द्वारा मुहैया कराई जायेगी। इस टैंक से निकले शुद्ध हुए पानी से सिंचाई की जा सकेगी। जिला स्तर से गए दलों ने ग्रामीणों को जैविक खेती के लिये प्रेरित किया।
इन गाँवों में पहुँचा दल
   स्वच्छपूर्णा अभियान के तहत बुधवार को जिला पंचायत सीईओ श्री शिवम वर्मा के नेतृत्व में जिला पंचायत का दल कल्याणी के अलावा जौरासी, मकोड़ा व टेकनपुर में भी पहुँचा। इस दल में जिला पंचायत के परियोजना अधिकारी श्री जयसिंह नरवरिया, एनआरएलएम प्रभारी श्री न्यायमूर्ति पुरोहित, जनपद पंचायत डबरा के सीईओ श्री ज्ञानेन्द्र मिश्रा व वीडियो सुश्री नजमा निजामी सहित अन्य शासकीय सेवक शामिल थे।  
 
(10 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
जूनजुलाई 2018अगस्त
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
2526272829301
2345678
9101112131415
16171819202122
23242526272829
303112345

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer