समाचार
|| जनता के कल्याण में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे - मुख्यमंत्री श्री चौहान || शाजापुर में पहली बार इन्दौर-अमृतसर के रूकने पर चालक का किया सम्मान || जनजातीय अधिकार सभा का गठन कर आदिवासी ग्राम, ग्राम पंचायत और विकासखंड को अधिकार संपन्न बनाया जायेगा - मुख्यमंत्री श्री चौहान || मतदाताओं को जागरूक करने के लिये वीवीपेट एवं ईवीएम मशीन संचालन की दी जा रही है जानकारी || स्वीप गतिविधियों तहत गणेश पंडालों में भी किया जा रहा मतदाताओं को जागरूक || आधार पंजीयन कार्य हेतु आवेदन आमंत्रित || अल्पसंख्यक छात्रवृत्ति हेतु आवेदन आमंत्रित || बैटरियां क्रय किये जाने हेतु निविदा आमंत्रित || प्रधानमंत्री आवास योजना अंतर्गत सूची में नाम जोड़ने की अंतिम तिथि 30 सितम्बर || राज्य में सौभाग्य योजना का 99 प्रतिशत लक्ष्य पूर्ण
अन्य ख़बरें
मतदान केन्द्रों के संबंध में राजस्व एवं पुलिस की संयुक्त बैठक आयोजित
कलेक्टर ने वल्नरेबल मैपिंग का कार्य समससीमा के अनुसार शुरू करने के निर्देश दिए
पन्ना | 12-जुलाई-2018
 
    आगामी विधान सभा चुनाव 2018 के मद्देनजर बल्नेरबिलटी, संवेदनशील, अतिसंवेदनशील मतदान केन्द्रों के संबंध में राजस्व एवं पुलिस विभाग की संयुक्त बैठक का आयोजन कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री मनोज खत्री की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में किया गया। बैठक में नवागत पुलिस अधीक्षक श्री विवेक सिंह, अपर कलेक्टर श्री अशोक ओहरी, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री बी.के.एस. परिहार, समस्त अनुविभागीय अधिकारी राजस्व एवं तहसीलदार तथा पुलिस विभाग के अधिकारीगण मौजूद रहे।
    बैठक में कलेक्टर श्री खत्री ने बल्नरेबल एवं अतिसंवेदनशीलता के संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि यह किसी मतदाता या मतदाताओं के समूह की चाहे वे भौगोलिक दृष्टि से किसी क्षेत्र में रहते हो, स्वतंत्र एवं निष्पक्ष तरीके से मत देने के उसके अधिकार के प्रयोग के संबंध में मतदाता का भयादोहन या किसी प्रकार के अनुचित प्रभाव व बल के माध्यम से गलत तरीके से रोकने या प्रभावित किए जाने के प्रति प्रभाव्यता है वह 2007 से भारत निर्वाचन आयोग ने स्वतंत्र एवं निष्पक्ष निर्वाचन सुनिश्चित करने के लिए किए जाने वाले विभिन्न उपायों के संबंध में अनुदेश जारी किए हैं। स्वतंत्र एवं निष्पक्ष निर्वाचन के लिए एक ऐसा परिवेश जिसमें प्रत्येक निर्वाचक बाधित हुए बगैर या किसी व्यक्ति के द्वारा अनुचित रूप से प्रभावित हुए बगैर मतदान केन्द्र तक पहुंचने में सक्षम हो, एक महत्वपूर्ण पूर्व अपेक्षा है। इस पूर्व अपेक्षा के लिए भारत निर्वाचन आयोग ने अग्रवर्ती निवारक एवं योजनाबद्ध कार्यवाही करने के लिए साधन तैयार किए हैं। एक ऐसा ही साधन अतिसंवेदनशीलता मानचित्रण है जिसमें व्हीएम वल्नरेबिलटी मैपिंग के रूप में संदर्भित है।
    उन्होंने कहा कि हिंसा प्रभावित छोटे निवास स्थलों में भी स्वतंत्र रूप से मतदान केन्द्र पर बोट डालने का अधिकार है। स्थानीय थाना अधिकारी एवं स्थानीय प्रशासनिक अधिकारी इससे संबंधित सूची तैयार करें। धमकी एवं भय की पहचान करें तथा उन नामों की पहचान करें जो अनावश्यक प्रभाव के अन्तर्गत घटनाओं को अंजाम दे सकते हैं। राजस्व एवं पुलिस अधिकारी यह सुनिश्चित करेंगे कि मतदान के दिन भय एवं धमकी की घटना वास्तव में न हो और मतदाताओं में स्वतंत्र एवं मुक्त मतदान का भी आत्म विश्वास बढाएंगे। अधिकारी ऐसे स्थानों का दौरा करें तथा वहां समुदायों से मिलकर उन्हें स्वतंत्र एवं निष्पक्ष चुनाव के लिए उठाए गए कदमों की जानकारी देवे। उन्होंने पुलिस अधीक्षक द्वारा जिला खूफिया विभाग से लिए गए फीडबैक की जानकारी जिला निर्वाचन अधिकारी को निरंतर प्रस्तुत करने के निर्देश दिए।
    उन्होंने कहा कि वल्नरेबल मैपिंग का कार्य समय सीमा के अनुसार शुरू हो जाना चाहिए। वल्नरेबल क्षेत्रों को सुचारू बनाने के लिए बार-बार दौरा करें। अतिसंवेदनशील समुदाय के अन्दर उनके टेलीफोन नम्बरों की जानकारी एकत्रित करें इस कार्य में सेक्टर अधिकारी जोनल मजिस्ट्रेट के रूप में कार्य करेंगे। इसलिए पुलिस अधिकारी उनके साथ रहेंगे। उन्होंने कहा कि शैक्षणिक संस्थाओं विशेषकर आवासीय संस्थानों के साथ बैठक की जाए। फैक्ट्री/गोदाम मालिकों के साथ बातचीत करें विश्वास निर्माण के लिए ग्राम प्रधान/सरपंच के साथ बैठक करें। मतदान केन्द्र/क्षेत्र के भूगोल की जानकारी प्राप्त करें। साथ ही प्रिंटिंग प्रेस संचालित करने वाले व्यक्तियों की पहचान की जाए। उन्होंने राजस्व एवं पुलिस अधिकारियों को कानून एवं व्यवस्था की रिपोर्ट प्रस्तुत करने एवं अतिसंवेदनशीलता उत्पन्न करने वाले व्यक्तियों पर कार्यवाही करने हेतु निर्देशित किया।
(71 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
अगस्तसितम्बर 2018अक्तूबर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
272829303112
3456789
10111213141516
17181920212223
24252627282930
1234567

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer