समाचार
|| समर्थन मूल्य पर गेहूं खरीदी हेतु जिला उपार्जन समिति का गठन || शैक्षणिक संस्था की 100 मीटर सीमा में गुटखा, तम्बाकू बेचने पर दो व्यक्तियों पर अर्थदण्ड || महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती इमरती देवी शिवपुरी में आज || विद्युत विभाग की समीक्षा में मंत्री श्री पटेल ने दिए कड़े निर्देश || परिवहन एवं राजस्व मंत्री श्री गोविंद राजपूत ने किया कै. सिंधिया को नमन || प्रतिभा का खजाना है संगीत की नगरी इन्हें तराशना है जरूरी - तोमर || खाद्य मंत्री श्री तोमर ने मेले में किया प्रदर्शनी का उदघाटन || व्याख्याता संघ द्वारा खाद्य मंत्री श्री तोमर का अभिनंदन || पशुपालन मंत्री आज मुरैना जिले में आयोजित कार्यक्रमों में होंगे शामिल || खाद्य मंत्री श्री तोमर आज विभिन्न कार्यक्रमों में शामिल होंगे
अन्य ख़बरें
करकेली जनपद पंचायत के ग्राम दुब्बार में कलेक्टर ने लगाई चौपाल
चौपाल में प्राप्त 56 आवेदनो में से 30 का किया निराकरण
उमरिया | 11-जनवरी-2019
 
 
    जन सामान्य को अपनी छोटी छोटी समस्याओ को लेकर जिला अथवा जनपद मुख्यालयों के कार्यालयों का चक्कर नही लगाना पडें। इसी उद्देश्य को लेकर जिला प्रशासन ने गांव गांव पहुचकर उनकी समस्याओ का निराकरण करने का निर्णय लिया है। चौपाल के माध्यम से जहॉ ग्रामीण जन अपनी समस्यायें खुल कर रख पाते है। वहीं शासकीय योजनाओं के क्रियान्वयन की वास्तविक स्थिती भी सामने आती है। जिन योजनाओ के अमल में सुधार की जरूरत होती है उसका फीडबैक चौपाल के माध्यम से प्राप्त हो जाता है। उक्त आशय के विचार कलेक्टर श्री अमर पाल सिंह ने करकेली जनपद पंचायत के ग्राम दुब्बार में जिले के विभिन्न विभाग प्रमुखों के साथ पहुचकर ग्रामीणों की चौपाल को संबोधित करते हुये व्यक्त किये। इस अवसर पर शिविर मे, उपसंचालक कृषि, डॉ ओ पी चौधरी, जिला मलेरिया अधिकारी, कार्यपालन यंत्री लोक स्वास्थ या., ग्रा.या. सेवा, उप संचालक सामाजिक न्याय, सहायक संचालक उद्यानिकी, जेई विद्युत मण्डल, महिला एवं बाल विकास अधिकारी, जिला शिक्षा अधिकारी, जिला आपूर्ति अधिकारी बीआरसी, सहायक आयुक्त जन जातीय कार्य विभाग, बीएमओ करकेली, तहसीलदार अधिकारी उपस्थित रहें।
    कलेक्टर ने चौपाल लगाकर ग्रामीणों से राजस्व विभाग की योजनाओं की समीक्षा करते हुए पाले से प्रभावित  फसल के सर्वेक्षण, सीमांकन के प्रकरणों का निराकरण, मुख्यमंत्री फसल ऋण माफी योजना, वृद्धा वस्था पेंशन, विधवा पेंशन, सामाजिक सुरक्षा पेंशन, मनरेगा के तहत संचालित कार्यो, मनरेगा मजदूरी भुगतान, फसलों हेतु सिंचाई व्यवस्था, पेयजल व्यवस्था, हैण्डपंपों के संधारण, नल जल योजनाओं के संधारण, धान उपार्जन, यूरिया की उपलब्धता, उचित मूल्य की दुकानों से खाद्यान्न वितरण, स्कूलों के संचालन, शिक्षको की समय पर उपस्थिति, आंगनबाडी केन्द्रों का संचालन, टीकाकरण, ए एन एम के भ्रमण, आदि के संबंध में विस्तार से चर्चा की।कलेक्टर ने बताया कि मुख्यमंत्री फसल ऋण माफी योजना में किसानों को पात्रतानुसार हरे, सफेद और गुलाबी रंग के आवेदन पत्र संबंधित ग्राम पंचायत कार्यालय में प्रस्तुत करने होंगे।शासन से जारी नियमानुसार ऋणी कृषकों की सूची प्रकाशन के बाद आधार सीडेड सूची (हरी सूची) के किसानों को हरे रंग के आवेदन पत्र तथा गैर-आधार सीडेड सूची (सफेद सूची) के किसानों का सफेद रंग के आवेदन पत्र जमा करने होंगे। हरी अथवा सफेद सूची में दर्शित जानकारी पर आपत्ति अथवा दावा प्रस्तुत करने का अधिकार किसान को दिया गया है। इसके लिये किसान को गुलाबी आवेदन करना होगा।
गुलाबी आवेदन पत्र में होंगे दो भाग
    गुलाबी आवेदन पत्र में भाग एक केवल उन किसानों को भरना होगा, जिनका नाम बैंक द्वारा प्रदर्शित सूची में दर्ज नहीं है। भाग दो केवल उन किसानों को भरना होगा, जिनके संबंध में बैंक द्वारा प्रदर्शित जानकारी त्रुटिपूर्ण है।
    मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री आशीष वशिष्ट ने बातया कि 15 जनवरी से 9 माह से 15 वर्ष के बच्चों को रूबेला का टीका स्कूलों एवं आगनबाडी में लगाया जायेगा जिसका कार्यक्रम तैयार किया गया है। सभी अभिभाव बच्चों को अवश्य भेजें। आपने ग्रामीणो से कुप्रथा से बचने, बच्चों को दागने की प्रथा से छुटकारा पाते हुये बीमार बच्चो को अस्पताल ले जाने की समझाईश दी। उन्होने प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना की जानकारी देकर लाभ उठाने की बात कही। ग्रामीणों को उद्यानिकी फसल लगाकर कृषि के अतिरिक्त लाभ प्राप्त करने की समझाइश दी। उप संचालक कृषि ने विभागीय योजनाओं की जानकारी देने के साथ ही कहा कि किसान ठण्ड में फसलो को पाला से बचाने हेतु सिंचाई करें अथवा धुआं करके फसलों को बचाए। आपने बताया कि अनुसूचित जन जाति के किसानों को शासन द्वारा 25 हजार रुपये का अनुदान दिया जाता है। किसान 15 जनवरी तक प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का लाभ प्राप्त कर सकते हैं।
चौपाल में प्राप्त 56 आवेदनो में से 30 का किया गया मौके पर निराकरण
    ग्राम दुव्वार में आयोजित ग्राम चौपाल कार्यक्रम में कुल 56 आवेदन प्राप्त हुए, जिनमें लो. व्सा. यां. विभाग के दो, राजस्व विभाग के 9, विद्युत मण्डल के 2 प्रकरण, महिला बाल विकास के 2 प्रकरण, जनपद पंचायत के 3 प्रकरण शामिल है। पेंशन के दो प्रकरणों में मा।के पर ही स्वीकृति प्रदान की गई। कुल 30 प्रकरणों का निराकरण कर दिया गया। शेष प्रकरणों के निराकरण की एक सप्ताह की समय सीमा तय की गई है।
 
(9 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
दिसम्बरजनवरी 2019फरवरी
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
31123456
78910111213
14151617181920
21222324252627
28293031123
45678910

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer