समाचार
|| मुख्य परीक्षाओं एवं अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं के प्रशिक्षण हेतु अतिथि विद्वानों हेतु आवेदन आमंत्रित || शासकीय शालाओ एवं छात्रावासों का औचक निरीक्षण कर कलेक्टर श्री प्रवीण सिंह ने लिया व्यवस्थाओं का जायजा || किशोर न्याय बोर्ड तथा बालकल्याण समिति हेतु आवेदन आमंत्रित || ई.पी.एफ.ओ. पेंशनर्स हेतु डिजिटल जीवन प्रमाणपत्र जमा कराया जाना अनिवार्य || शासकीय महाविद्यालय में रोजगार मेला आयोजित || प्रचार रथ गांव-गांव जाकर दे रहे जय किसान फसल ऋण माफी योजना की जानकारी || चना, मसूर और सरसों की समर्थन मूल्य पर खरीदी 25 मार्च से || प्रदेश हित और नागरिकों की सुविधाओं के लिए नई संचार नीति लागू || इलाज से मना करने वाले हॉस्पिटल की मान्यता रद्द होगी : स्वास्थ्य मंत्री श्री सिलावट || मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ को प्रदेश पुलिस द्वारा पुलवामा के शहीदों के परिवारों के लिये 7.50 करोड़ का चेक भेंट
अन्य ख़बरें
दो अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस जारी
-
भिण्ड | 12-फरवरी-2019
 
   
    कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री छोटेसिंह ने आगामी लोकसभा निर्वाचन 2019 को दृष्टिगत रखते हुए निर्वाचन जैसे महत्वपूर्ण कार्य में लापरवाही बरतने के कारण उपायुक्त सहकारिता श्री बबलू सतनकर एवं सहायक प्रबंधक बीएसएनएल भिण्ड  को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है।
    कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री छोटेसिंह ने उपायुक्त सहकारिता श्री बबलू सतनकर को कारण बताओ सूचना पत्र में बताया कि आगामी लोकसभा निर्वाचन 2019 के तहत कार्यालयीन आदेश में श्री सहकारिता निरीक्षक श्री मानिक चन्द्र जैन की मतदान दल गठन शाखा में ड्यूटी लगाई गई थी। परन्तु आपके द्वारा इनको अभी तक निर्वाचन कार्य के लिए कार्यमुक्त नहीं किया गया है। जबकि इस संबंध में निर्वाचन सुपरवाईजर द्वारा आपसे मोबाईल पर भी चर्चा की जा चुकी तथा कार्यालय द्वारा पत्र भी जारी किया गया।
    इसीप्रकार सहायक प्रबंधक बीएसएनएल भिण्ड को कारण बताओ सूचना पत्र में कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि आगामी लोकसभा निर्वाचन 2019 के तहत ईपीडीएस सॉफ्टवेयर में कर्मचारियों की जानकारी एन्ट्री के संबंध में कार्यालयीन प्रपत्र-1 भरकर एनआईसी मे जमा की जानी थी। कर्मचारियों की जानकारी समय-सीमा में प्राप्त हो इसलिए कार्यालयीन पत्र द्वारा आपको नोडल अधिकारी नामित किया गया था, परन्तु आज दिनांक तक आपके द्वारा  कार्यालय के प्रपत्र-1 इस कार्यालय में प्रस्तुत नहीं किए है, जिससे सॉफ्टवेयन में जानकारी की एन्ट्री नहीं हो पा रही है।
    इन दोनो अधिकारियों को कारण बताओ सूचना पत्र में बताया कि निर्वाचन जैसे महत्वपूर्ण कार्य में लापरवाही,उदासीनता, व्यवधान डालने का घोतक है। आपके द्वारा अपने पदीय कर्तव्यों का निर्वहन नहीं किया जाकर वरिष्ठ अधिकारियों के आदेश की अव्हेलना की है। म.प्र. सिविल सेवा आचरण नियम 1965 के तहत दोनो अधिकारियों के विरूद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही प्रस्तावित की जाए। आप अपना स्पष्टीकरण पत्र प्राप्ति के 24 घण्टे के अन्दर सप्रमाण प्रस्तुत करें। जवाब प्राप्त न होने की दशा में आपके विरूद्व दण्डात्मक कार्यवाही प्रस्तावित की जाएगी, जिसके लिए आप स्वयं उत्तरदायी होंगे।
(9 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
जनवरीफरवरी 2019मार्च
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
28293031123
45678910
11121314151617
18192021222324
25262728123
45678910

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer