समाचार
|| खेल वृत्ति हेतु 31 मई 2019 तक आवेदन करें || श्रमोदय विद्यालय में प्रवेश हेतु प्रवेश परीक्षा 2 जून को || बैठक 27 मई 2019 को || टीएल की बैठक सोमवार को || समीक्षा बैठक 27 मई को || वृंदावन तालाब के साफ-सुथरे होने लगे घाट, महेन्द्र सागर से निकल रही जल कुंभी || जिले में लिंगानुपात बढ़ा, अब एक हजार लड़कों पर 931 लड़कियां || बाल विवाह होने की सूचना पर पहुंची टीम, समझाईश के बाद माने परिजन || 31 मई को विश्व तंबाकू निषेध दिवस || मदरसों की मान्यता का ऑनलाइन होगा नवीनीकरण
अन्य ख़बरें
वीडियो निगरानी दल (वीएसटी) का गठन अधिकारी/कर्मचारी का प्रशिक्षण 15 मार्च को
-
सागर | 13-मार्च-2019
 
   लोकसभा निर्वाचन-2019 के दौरान निर्वाचन व्यय से संबंधित शिकायतों/सूचनाओं, संवेदनशील घटनाओं और सार्वजनिक रैलियां की वीडियोग्राफी कराई जाना है। उक्त वीडियोग्राफी का व्यक्तिगत रूप से निरीक्षण सहायक व्यय प्रेक्षक द्वारा किया जाएगा। जिला सागर की आठां विधानसभा क्षेत्रों में निम्नानुसार वीडियो निगरानी दल (वीएसटी) का गठन किया जाता है। यह दल निर्वाचन की घोषणा जारी होने के दिनांक से निर्वाचन परिणामों की घोषणा तक क्रियाशील रहेंगे। यह दल सहायक रिटर्निंग अधिकारी के अधीन सहायक व्यय प्रेक्षक की निगरानी में कार्य करेगा।              
   वीडिया निगरानी दल (वीएसटी) में विधानसभा क्षेत्र बीना-35 के दल-01 में श्री मुकेश अहिरवार एवं दल-02 में श्री हरिकृष्णराज अहिरवार को, विधानसभा क्षेत्र खुरई-36 के दल-1 में श्री विनोद कुमार शिववेदी एवं दल-2 में श्री यशवंत सिंह सौलंकी को, विधानसभा क्षेत्र सुरखी-37 के दल-1 में श्री सुरेश कुमार प्रजापति एवं दल -2 में श्री एसके नरवरिया को, विधानसभा क्षेत्र देवरी-38 के दल-1 में श्री संतोष कुमार राय एवं दल-2 में श्री गोविन्द प्रताप चौरसिया को, विधानसभा क्षेत्र रहली-39 के दल-1 में श्री लखनलाल श्रीवास्तव एवं दल-2 में श्री अजय कोरी को, विधानसभा क्षेत्र नरयावली-40 के दल-1 में श्री दिनेश विश्वकर्मा एवं दल-2 में श्री खूब सिंह ठाकुर को, विधानसभा क्षेत्र सागर-41 में श्री महेश प्रसाद कोरी एवं दल-2 श्री सुनील कुमार अग्रवाल को एवं विधानसभा क्षेत्र बण्डा-42 के दल-1 में श्री अम्बेश ठाकुर एवं दल-2 में श्री पवन रैकवार को प्रभारी अधिकारी नियुक्त किया गया है।
   वीडिया निगरानी दल (वीएसटी) को शूटिंग के प्रारम्भ में घटना का नाम और प्रकार, तारीख, स्थान और घटना का संचालन करने वाली पार्टी और अभ्यर्थी का नाम स्वर प्रणाली (वॉयस मोड) में रिकार्ड करना होगा।
   वीडियो निगरानी दल वाहनों/घटनाओं/पोस्टरों/कट-आउट का इस तरह से वीडियो लेगा कि प्रत्येक वाहन का साक्ष्य, उसका निर्माण और रजिस्ट्रेशन संख्या, फर्नीचर की संख्या, रोस्ट्रम का आकार, बैनर, कट-आउट इत्यादि स्पष्ट दिखाई दें जिससे व्यय का अनुमान लगाया जा सके। दल भाषण तथा अन्य घटनाओं को भी रिकार्ड करेंगे, जिससे पता लगाया जा सके कि कहीं आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन तो नहीं हुआ है। दल रिकार्डिंग के समय अनुलग्नक 7 में दिए गए प्रोफार्मा में एक संकेत पत्र (क्यू शीट) तैयार करेंगी एवं वीडियो सीडी में पहचान संख्या, दिनांक, कर्मचारी या अधिकारी का नाम होगा और इसे हमेशा संकेत पत्र के साथ रखा जाएगा। रिकार्डिंग की मूल सीडी/डीव्हीडी एवं अनुलग्न 7 सहायक व्यय प्रेक्षक को सौंपेगी तथा सहायक व्यय प्रेक्षक द्वारा वीडियोग्राफी का व्यक्तिगत रूप से निरीक्षण किया जाएगा। रिकार्डिंग की सीडी किसी भी बाहरी एजेंसी को संपादन अथवा अन्य प्रयोजनार्थ नहीं सोंपेगे।
वीएसटी जिला निर्वाचन अधिकारी व पुलिस अधीक्षक के नियंत्रण में व सामान्य प्रेक्षक व व्यय प्रेक्षक की सलाह से कार्य करेंगे। दल आदर्श आचरण संहिता के उल्लंघन से संबंधि तमामले व अन्य मामलों के उल्लंघन के संबंध में प्रतिवेदन सहायक व्यय प्रेक्षक व सहायक रिटर्निंग अधिकारी को देंगे। वीडियो निगरानी दल पूरी कार्यवाही विनम्रता के साथ शिष्ट तरीके से करेगी।
   वीडिया निगरानी दल के प्रभारी अधिकारियों को 15 मार्च को दोपहर 2 बजे से शासकीय कला एवं वाणिज्य महाविद्यालय सागर में प्रशिक्षण दिया जाएगा। प्रशिक्षण में दल के सभी सदस्य अनिवार्य रूप से उपस्थित होने के निर्देश कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी सागर ने दिए।
 
(73 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
अप्रैलमई 2019जून
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
293012345
6789101112
13141516171819
20212223242526
272829303112
3456789

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer