समाचार
|| आपदा प्रबंधन के अतिरिक्त महानिदेशक ने बाढ़ संभावित क्षेत्रों तथा तैयारियों की ली जानकारी || प्रभारी मंत्री का दौरा कार्यक्रम || प्रभारी मंत्री श्री सचिन यादव की पत्रकार वार्ता फेसबुक पर लाइव || पंचायत सचिवों के महंगाई भत्ते में 6 प्रतिशत की वृद्धि || घर-घर दस्तक देकर किया जा रहा है बच्चों का स्वास्थ्य परीक्षण || जय किसान फसल ऋण माफी योजना || चिकित्सकों की हड़ताल के कारण शासकीय अस्पतालों की  ओपीडी में विशेष इंतजाम || विशेष पिछड़ी जनजातियों को शासकीय सेवा में नियुक्ति के लिये विशेष प्रावधान || एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय में प्रवेश हेतु 20 तक आवेदन आमंत्रित || मतदाता सूची पुनरीक्षण-रजिस्ट्रीकरण अधिकारियों की नियुक्ति (नगर पालिका निगम जबलपुर निर्वाचन)
अन्य ख़बरें
इंदौर संभाग में स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण निर्वाचन की तैयारियाँ व्यापक स्तर पर जारी "लोकसभा निर्वाचन 2019"
निर्वाचन आयोग ने की संभागीय तैयारियों की समीक्षा, निर्वाचन की सभी व्यवस्थायें आयोग के निर्देशानुसार समय पर पूरी की जायें-मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री कांताराव
इन्दौर | 17-अप्रैल-2019
 
 
    इंदौर संभाग में स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण रूप से लोकसभा निर्वाचन सम्पन्न कराने के लिये व्यापक तैयारियाँ जारी हैं। मध्यप्रदेश के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री व्ही.एल. कांताराव ने आज यहाँ उच्च स्तरीय बैठक में इंदौर संभाग में की जा रही तैयारियों की जिले तथा बिन्दुवार समीक्षा की।  बैठक में भारत निर्वाचन आयोग के सचिव श्री एस.बी.जोशी, अपर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री संदीप यादव,संभागायुक्त श्री आकाश त्रिपाठी, अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक श्री वरूण कपूर, आयुक्त आबकारी श्री रजनीश श्रीवास्तव, पुलिस महानिरीक्षक (कानून एवं व्यवस्था) श्री योगेश चौधरी, पुलिस महानिरीक्षक (निर्वाचन व्यय) श्री अनंत कुमार सिंह, पुलिस महानिरीक्षक (नारकोटिक्स) श्री जी.जी.पाण्डे तथा संयुक्त महानिदेशक आयकर श्री प्रशांत कुमार मिश्रा भी उपस्थित थे।
     बैठक में मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री व्ही.एल. कांताराव द्वारा लोकसभा निर्वाचन के चतुर्थ चरण में इंदौर संभाग के 5 संसदीय क्षेत्रों से संबंधित निर्वाचन तैयारियों की समीक्षा की गयी। उन्होंने जिलों के कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी तथा पुलिस अधीक्षकों से निर्वाचन से संबंधित महत्वपूर्ण बिन्दुओं पर चर्चा कर आवश्यक निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि निर्वाचन की सभी तैयारियाँ आयोग के निर्देशानुसार निर्धारित समय पर पूरी की जाये। निर्वाचन की सूचिता का पूरा ध्यान रखा जाये। निर्वाचन संबंधी प्रावधानों का कड़ाई से पालन कराया जाये।आदर्श आचरण संहिता का उल्लंघन करने वालों के विरूद्ध कार्यवाही की जाये। ईव्हीएम तथा व्हीव्हीपेट के संबंध में प्रोटोकॉल का पालन किया जाये। सीमावर्ती राज्य के जिलों के अधिकारियों से नियमित संवाद एवं समन्वय रखकर आवश्यक व्यवस्थायें सुनिश्चित करायी जायें। संभाग के ऐसे जिले जिनके मतदाता रोजगार के लिये अन्य जिलों तथा अन्य प्रदेशों में जाते हैं, ऐसे मतदाताओं को मतदान के लिये प्रेरित किया जाये। कानून-व्यवस्था एवं सुरक्षा के लिये जिला स्तर पर कार्ययोजना बनाकर उनका प्रभावी पालन किया जाये। प्रतिबंधात्मक कार्यवाही पर भी ध्यान दें। बगैर अनुमति के अवकाश पर जाने वाले अधिकारी-कर्मचारियों के विरूद्ध कार्यवाही की जाये।
                                   निर्वाचक नामावली
   बैठक में बताया गया कि लोकसभा निर्वाचन के लिये 5 संसदीय क्षेत्रों के इंदौर संभाग के जिलों में 22 फरवरी, 2019 को मतदाता सूची के अंतिम प्रकाशन के समय मतदाताओं की कुल संख्या 90 लाख 33 हजार 837 थी। मतदाता सूची के अंतिम प्रकाशन के उपरांत सतत पुनरीक्षण कार्यवाही के पश्चात मतदाताओं की संख्या में वृद्धि होने से इंदौर संभाग में कुल मतदाताओं की संख्या 90 लाख 91हजार 587 हो गयी है। जिनमें से 46 लाख 36 हजार 101 पुरूष तथा 44 हजार 55 हजार 144 महिलाओं तथा अन्य मतदाताओं की संख्या 342 है। संभाग के मतदाताओं का इलेक्टरर्स पॉपुलेशन रेशियों 61.17 तथा जेन्डर रेशियो 965.47 है।
    संभाग में मतदाता सूची में 3 हजार 520 सर्विस वोटर्स है,जिनमें सर्वाधिक 1852 सेवा मतदाता इंदौर जिले में हैं। कङग्र् ग़्कच्र् पर कुल 75 हजार 824 दिव्यांग मतदाताओं को चिन्हित किया जा चुका है। दिव्यांग, अत्यंत वृद्ध, गर्भवती मतदाताओं को मतदान केन्द्र पर लाइन लगे बिना, मतदान की सुविधा दिए जाने के लिये जिला निर्वाचन अधिकारियों को निर्देश दिये गये हैं।
                              मतदान केन्द्र
    संभाग स्थित संसदीय निर्वाचन क्षेत्रों में कुल 11082 मतदान केन्द्र हैं। जिनमें से 2 हजार 20 मतदान केन्द्रों पर चिन्हांकन क्रिटीकल श्रेणी में किया गया है। संभाग स्थित समस्त मतदान केन्द्रों में निर्वाचन हेतु आवश्यक मूलभूत सुविधाएं जैसे रैंप, पीने का पानी, बिजली, शौचालय, फर्नीचर आदि उपलब्ध होने की जानकारी जिला निर्वाचन अधिकारियों द्वारा दी गयी।
                                 ईव्हीएम
    इंदौर संभाग स्थित संसदीय निर्वाचन क्षेत्र में निर्वाचन हेतु ईव्हीएम तथा व्हीव्हीपेट पर्याप्त संख्या में उपलब्ध है। ईव्हीएम तथा व्हीव्हीपेट की एफएलसी पूर्ण हो चुकी है। ईव्हीएम की प्रथम रेण्डमाईजेशन की कार्यवाही भी पूर्ण हो गयी है।
                               निर्वाचन प्रशिक्षण
    लोकसभा निर्वाचन के विभिन्न कार्यों में लगे अधिकारियों/कर्मचारियों का प्रशिक्षण प्रारंभ हो चुका है। जिला निर्वाचन अधिकारियों द्वारा यह जानकारी दी गयी कि मास्टर ट्रेनर,आईटम एक्सपेंडीचर, पॉलीस, सेक्टर ऑफिसर आदि की ट्रेनिंग हो चुकी है इसके अतिरिक्त आयोग के निर्देशों के अनुक्रम में अन्य प्रशिक्षण भी दिये गये कैलेण्डर अनुसार दिये जा रहे हैं। निर्वाचन के सुचारू संपादन के प्रशिक्षण पर विशेष ध्यान देने के निर्देश दिए गए।
मानव संसाधन, निर्वाचन सामग्री एवं परिवहन व्यवस्था
    मानव संसाधन, निर्वाचन सामग्री एवं परिवहन व्यवस्था आवश्यकता अनुसार पर्याप्त संख्या में उपलब्ध है।
शिकायत निवारण
    निर्वाचन संबंधी समस्त प्रकार की पूछताछ एवं शिकायत दर्ज करवाने हेतु सभी जिलों में 1950 हेल्पलाईन नम्बर क्रियाशील हैं। अब तक इस हेल्पलाईन पर इंदौर जिले में ही कुल 8 हजार 153 कॉल्स आ चुकी है जिसमें से सूचनात्मक 7 हजार 497, सुझाव 9, शिकायतें 553 तथा अन्य 94 कॉल्स प्राप्त हुए। हेल्पलाईन नंबर 1950 पर कोई भी मतदाता, मतदाता सूची में अपना नाम दर्ज होने अथवा मतदान केन्द्र आदि की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। गूगल प्ले स्टोर से वोटर हेल्पलाईन एप्प डाउनलोड कर तथा नेशनल वोटर्स सर्विस पोर्टल पर भी मतदाता, मतदाता सूची में अपना नाम होने के संबंध में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।
पुलिस बंदोबस्त
    सभी जिलों के पुलिस बंदोबस्त की समीक्षा की जाकर कानून-व्यवस्था बनाये रखने हेतु आवश्यक दिशा-निर्देश प्रसारित किये गये। पुलिस अधिकारियों से कहा गया कि वे प्रतिबंधात्मक कार्यवाही तथा गैर जमानती वारंटों की तामिली पर विशेष ध्यान दें।
 मतदाता जागरूकता
    इंदौर संभाग के जिलों में मतदान का प्रतिशत बढ़ाने के लिये किये जा रहे नवाचारों की जानकारी भी जिला कलेक्टरों द्वारा दी गयी। बैठक में जिलों में मतदाता जागरूकता संबंधी किये जा रहे गतिविधियों की समीक्षा की गयी।
अंतर्राज्यीय एवं अंतर जिला समन्वय
    विभिन्न चरणों को दृष्टिगत रखते हुए सीमावर्ती राज्यों एवं सीमावर्ती जिलों से आवश्यक समन्वय स्थापित करने के निर्देश दिये गये।
    संभागायुक्त श्री आकाश त्रिपाठी ने इंदौर संभाग में आगामी 18 मई को बुद्ध पूर्णिमा को होने वाले स्नान के संबंध में की जा रही प्रशासनिक तैयारियों की जानकारी दी।
 इंदौर के नवाचार
    बैठक में  इंदौर जिले में किये जा रहे नवाचारों के संबंध में कलेक्टर श्री लोकेश कुमार जाटव ने जानकारी दी। उन्होंने बताया कि चुनाव प्रबंधन में आईटी का उपयोग किया जा रहा है। पीठासीन अधिकारी तथा अन्य मतदान कर्मियों को मतदान की गतिविधियों के संबंध में जानकारी देकर प्रशिक्षित करने के लिये वीडियो बनाये गये हैं। यह वीडियो क्यूआर कोड के माध्यम से कभी भी कहीं पर भी मोबाइल द्वारा देखे जा सकते हैं। इसी तरह उन्होंने नोडल अधिकारियों के लिये बनाये गये पोर्टल के बारे में भी जानकारी दी। बैठक में धार कलेक्टर श्री दीपक सिंह, खरगोन कलेक्टर श्री गोपालचंद्र डाड, बडवानी कलेक्टर श्री अमित तोमर, झाबुआ कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा, अलीराजपुर कलेक्टर श्री शमीम उद्दीन, खण्डवा कलेक्टर श्री विशेष गढपाले, बुरहानपुर कलेक्टर श्री उमेश कुमार एवं  श्री अवधेश कुमार गोस्वामी,पुलिस अधीक्षक (मुख्यालय) सहित इंदौर संभाग के 8 जिलों के पुलिस अधीक्षक उपस्थित रहें।
 
(61 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
मईजून 2019जुलाई
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
272829303112
3456789
10111213141516
17181920212223
24252627282930
1234567

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer