समाचार
|| सिने जगत की कोरियोग्राफर दीपमाला देंगी बाल भवन के बच्चों को नृत्य का नि:शुल्क प्रशिक्षण || सुविधा एप पर परिणामों की एंट्री का प्रशिक्षण आज || आयोग के प्रेक्षकों का आगमन प्रारंभ || गणना कर्मियों को दिये जायेंगे अलग-अलग रंग के परिचय पत्र || गणना कक्ष पर रखी जायेगी तीन-तीन कैमरों से नजर || मतगणना की मॉकड्रिल सम्पन्न || आतंकवाद विरोधी दिवस आज || अभ्यर्थियों और मतगणना अभिकर्ताओं का प्रशिक्षण आज || कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री सिंह द्वारा शांतिपूर्ण मतदान होने पर आभार व्यक्त || 21 मई को आतंकवाद विरोधी दिवस मनाया जायेगा
अन्य ख़बरें
संभाग के सभी जिले 30 अप्रैल तक नये बने वोटर आईडी का वितरण अनिवार्य रूप से करें "लोकसभा निर्वाचन-2019"
मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने संभाग स्तरीय समीक्षा बैठक में दिये निर्देश
उज्जैन | 17-अप्रैल-2019
 
 
    मप्र के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री व्हीएल कान्ता राव ने संभाग के सभी जिला कलेक्टर्स को निर्देशित किया है कि वे नये वोटर आईडी बनाने की अन्तिम तिथि 19 अप्रैल के बाद यह सुनिश्चित करें कि पात्र आवेदकों को 30 अप्रैल तक अनिवार्य रूप से इपिक कार्ड (वोटर आईडी कार्ड) वितरित कर दिया जाये। इपिक कार्ड वितरण करने के बाद ही मतदाता सूचियां उम्मीदवारों को देने के निर्देश दिये गये हैं। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने आज बृहस्पति भवन में उज्जैन संभाग के सभी जिला कलेक्टर्स, पुलिस अधीक्षकों की बैठक लेकर निर्वाचन कार्य की समीक्षा की। बैठक में सचिव भारत निर्वाचन आयोग श्री एसपी जोशी, अपर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री संदीप यादव, आईजी श्री अनन्त कुमार सिंह, श्री योगेश चौधरी, श्री जीजी पाण्डेय, संयुक्त निदेशक आयकर श्री प्रशान्त कुमार मिश्रा, आबकारी आयुक्त श्री रजनीश श्रीवास्तव, संभागायुक्त श्री अजीत कुमार, पुलिस महानिरीक्षक श्री राकेश गुप्ता सहित संभाग के निर्वाचन से जुड़े विभिन्न अधिकारी मौजूद थे।
   बैठक में संयुक्त निदेशक आयकर श्री प्रशान्त कुमार मिश्रा ने बताया कि लोकसभा निर्वाचन की आचार संहिता के दौरान बड़ी मात्रा में नगदी पकड़ी जा रही है। उन्होंने कहा कि इस पर आयकर विभाग द्वारा कड़ी कार्यवाही की जा रही है। उन्होंने बताया कि भोपाल में इस कार्य के लिये कंट्रोल रूम बनाया गया है, जिसका टोलफ्री नम्बर 18002330039 है। श्री मिश्रा ने बताया कि आयकर विभाग पकड़ी जा रही नगदी की जांच के साथ-साथ सम्बन्धित व्यक्तियों पर सर्च ऑपरेशन चलाकर आयकर की वसूली भी कर रहा है। आबकारी आयुक्त श्री रजनीश श्रीवास्तव ने बताया कि उज्जैन संभाग में अब तक 23 हजार लीटर से अधिक अवैध मदिरा पकड़ी गई है। उन्होंने राजस्थान से लगी बार्डर पर विशेष ध्यान देने का आग्रह सभी जिला कलेक्टर्स से किया है। उन्होंने कहा है कि इंटरस्टेट मीटिंग करके अवैध शराब के परिवहन पर रोक लगाया जा सकता है। नारकोटिक्स विभाग के नोडल अधिकारी आईजी श्री जीजी पाण्डेय ने संभाग में मादक पदार्थों की रोकथाम करने के लिये और अधिक प्रभावी कार्यवाही करने का आग्रह किया है। इसी तरह आईजी लॉ एण्ड ऑर्डर श्री योगेश चौधरी ने निर्वाचन एवं मतदान प्रक्रिया के दौरान सीआरपीएफ एवं एसएएफ के जवानों की तैनाती के बारे में दिशा-निर्देश दिये। आईजी एवं नोडल अधिकारी निर्वाचन व्यय श्री अनन्त कुमार सिंह ने व्यय की निगरानी के सम्बन्ध में चर्चा की तथा निर्देश दिये कि संभाग के सभी हवाई अड्डों व हवाई पट्टियों पर विशेष सुरक्षा जांच की जाना आवश्यक है। उन्होंने बताया कि प्रदेश के 58 रेलवे स्टेशनों पर रेलवे पुलिस द्वारा सघन जांच की व्यवस्था की गई है।
   बैठक में मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री व्हीएल कान्ता राव ने प्रत्येक जिले के कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक को 10-10 मिनिट के समय में अपनी ओर से जिले की आवश्यकताएं एवं की जा रही व्यवस्थाओं के बारे में प्रजेंटेशन देने के निर्देश दिये। श्री कान्ता राव ने उज्जैन जिले के कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी को निर्देशित किया कि वे सर्विस वोटर एवं पोस्टल बैलेट से सम्बन्धित आंकड़ों का परीक्षण करें। इसी तरह उन्होंने देवास के पुलिस अधीक्षक को क्रिटिकल मतदान केन्द्रों पर फोर्स की तैनाती करने के मामले में ऑब्जर्वर एवं उम्मीदवारों के आवेदनों पर भी ध्यान देने हेतु निर्देशित किया।  उन्होंने सभी पुलिस अधीक्षकों से नॉन बेलेबल वारंट की तामीली पर विशेष ध्यान देने का आग्रह किया।
   बैठक में उज्जैन कलेक्टर श्री शशांक मिश्र ने उज्जैन जिले से सम्बन्धित प्रजेंटेशन में बताया कि जिले में कुल 1455141 मतदाता हैं। इनमें 743841 पुरूष एवं 711233 महिला व 67 अन्य मतदाता हैं। जिले का जेण्डर रेशो 256.16 है। जिले में 15 अप्रैल की स्थिति में 1469 सर्विस वोटर, 8373 पीडब्ल्यूडी वोटर्स, 9456 पोस्टल बैलेट जारी किये जायेंगे। जिले में कुल 1814 मतदान केन्द्र हैं। इसमें 366 क्रिटिकल मतदान केन्द्र हैं। सभी मतदान केन्द्रों में एशोर्ड मिनीमम फेसिलिटी के तहत बिजली, शौचालय, फर्नीचर, पीने का पानी, शेड आदि उपलब्ध करवा दिये गये हैं। जिले में कुल 2114 बैलेट यूनिट, 2100 कंट्रोल यूनिट एवं 2182 वीवीपेट मशीन उपलब्ध है। यह आवश्यकता से 15 से 20 प्रतिशत अधिक है। इवीएम का प्रथम रेण्डमाइजेशन 30 मार्च को किया जा चुका है तथा आगामी 4 मई को द्वितीय रेण्डमाइजेशन किया जायेगा। जिले में 9068 कर्मचारी मतदान दल में, 401 कर्मचारी माइक्रो ऑब्जर्वर के रूप में, 208 कर्मचारी एफएसटी, एसएसटी, वीएसटी आदि में, सेक्टर झोनल अधिकारी के रूप में 544, बीएलओ के रूप में 1814, कम्युनिकेशन टीम में 4537 तथा अन्य इलेकशन ड्यूटी में 800 इस तरह कुल 17372 कर्मचारी लगेंगे। जिले में पर्याप्त कर्मचारी उपलब्ध हैं। इसी तरह वाहनों की आवश्यकता भी पूरी कर ली गई है। 715 बस, मिनीबस, 827 जीप-कार, 200 ट्रक-मिनीट्रक इसतरह कुल 1742 वाहन की आवश्यकता है, जिनकी व्यवस्था कर ली गई है।
   बैठक में पुलिस अधीक्षक श्री सचिन अतुलकर ने बताया कि जिले में 107/117 धारा के तहत 7937 प्रकरणों में 12455 व्यक्तियों के विरूद्ध कार्यवाही की गई है। इसी तरह 4524 प्रकरणों में 7162 व्यक्तियों को बॉण्डओवर किया गया है। जिलाबदर के 70 प्रकरण बनाये गये हैं। जिले में अवैध शराब के 541 प्रकरणों में 5249 लीटर शराब पकड़ी गई है, जिसका मूल्य 1634931 रुपये है। इसी तरह 15 वाहन जप्त किये गये हैं, जिनका मूल 1345000 रुपये है। जिले में अवैध शस्त्र के 235 प्रकरण बनाये गये हैं।
   बैठक में देवास कलेक्टर श्री श्रीकान्त पाण्डेय ने बताया कि जिले में कुल 1427 मतदान केन्द्र स्थापित किये गये हैं। इनमें 165 क्रिटिकल हैं। क्रिटिकल मतदान केन्द्रों पर आवश्यकता अनुसार पुलिस एवं अर्द्धसैनिक बल तैनात किया जायेगा। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि जिले में 3292 व्यक्तियों को बॉण्ड ओवर किया गया है। इसी तरह अवैध शस्त्र के 194 प्रकरण बनाये गये हैं। रतलाम कलेक्टर श्रीमती रूचिका चौहान ने बताया कि 1292 मतदान केन्द्र स्थापित किये गये हैं।
   बैठक में आगर कलेक्टर श्री अजय गुप्ता, पुलिस अधीक्षक श्री मनोज श्रीवास्तव, मंदसौर कलेक्टर श्री एस.धनराजू, पुलिस अधीक्षक श्री मनोज सिंह, शाजापुर कलेक्टर श्री श्रीकान्त बनोठ, पुलिस अधीक्षक श्री शैलेंद्रसिंह चौहान, नीमच कलेक्टर श्री राजीव रंजन मीना, पुलिस अधीक्षक श्री राजेश सगर, रतलाम पुलिस अधीक्षक श्री गौरव तिवारी ने भी पीपीटी के माध्यम से जिले की जानकारी प्रस्तुत की। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने निर्देश दिये कि सभी जिला कलेक्टर व पुलिस अधीक्षक शान्तिपूर्ण मतदान सुनिश्चित करें तथा क्रिटिकल मतदान केन्द्रों व वल्नरेबल क्षेत्र का विशेष ध्यान रखते हुए फोर्स की तैनाती करें।
उज्जैन संभाग के मतदाता एक दृष्टि में
   उज्जैन संभाग में कुल 61 लाख 13 हजार 09 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग लोक सभा निर्वाचन 2019 में करेंगे इसमें 31लाख 40 हजार 738 पुरुष एवं 29 लाख 72 हजार 132 महिला तथा 160 अन्य वॉटर शामिल है। (19 अप्रैल के बाद इस संख्या में बदलाव होकर मतदाताओं की संख्या कुछ और बढ़ेगी) संभाग में जेंडर रेशो 946 तथा ई पी रेशो 63 है।
   संभाग के मंदसौर जिले में  कुल 9 लाख 54 हजार 667 मतदाता हैं। इनमें 4 लाख 87 हजार 891 पुरुष, 04 लाख 66 हजार 776 महिला एवं 21 अन्य मतदाता हैं। संभाग के नीमच जिले में कुल 5 लाख 67 हजार110 मतदाता हैं। इनमें 02 लाख 91 हजार 607 पुरुष, 02 लाख 75 हजार 498 महिला एवं 05 अन्य मतदाता हैं।  आगर जिले में कुल 4 लाख 29 हजार 407 मतदाता हैं। इनमें 02 लाख 22 हजार 256 पुरुष तथा 02 लाख 07 हजार 141 महिला एवं 10 अन्य मतदाता हैं।   देवास जिले में कुल 10 लाख 91 हजार 972 मतदाता हैं। इनमें 05 लाख 66 हजार 205 पुरुष, 05 लाख 25 हजार 744 महिला एवं 23 अन्य मतदाता हैं।  रतलाम जिले में  कुल 9 लाख 95 हजार 313 मतदाता हैं। इनमें 05 लाख 06 हजार 210 पुरुष, 04 लाख 89 हजार 84 महिला एवं 19 अन्य मतदाता हैं।  शाजापुर जिले में  कुल 6 लाख 28 हजार 664  मतदाता हैं। इनमें 03 लाख 27 हजार 217 पुरुष, 03 लाख 01 हजार 435 महिला एवं 12 अन्य मतदाता हैं। इसी प्रकार संभाग के उज्जैन जिले में कुल 14 लाख 45 हजार 876 मतदाता है। इनमें 07 लाख 39 हजार 352 पुरुष, 07 लाख 06 हजार 454 महिला एवं 70 अन्य मतदाता हैं।
 
(34 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
अप्रैलमई 2019जून
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
293012345
6789101112
13141516171819
20212223242526
272829303112
3456789

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer