समाचार
|| वृद्धाश्रम के बुजुर्ग व नि:शक्तों द्वारा उत्साहपूर्वक मतदान || कुल्हे की हड्डी टूटने के बाद भी नहीं टूटा मतदान करने का जज्बा || दोनों हाथों से विकलांग आमीन खान दूसरे मतदाताओं के लिए बने प्रेरणा स्त्रोत || जिले में सायं 6.00 बजे तक अनंतिम स्थिति में लगभग 79.70 प्रतिशत मतदान होने की खबर || दो व्यक्तियों के विरूद्ध एफ.आई.आर दर्ज कराई गई (लोकसभा निर्वाचन-2019) || रतलाम जिले में शांतिपूर्ण मतदान की खबर || मतदान शांतिपूर्ण संपन्न || क्या युवा, क्या वृद्ध और क्या दिव्यांग लोकतंत्र के महापर्व पर सभी ने बढ़-चढ़कर लिया हिस्सा (मतदान सुविधाओं की कहानियां) || कलेक्टर ने लिया मतगणना की तैयारियों का जायजा "लोकसभा निर्वाचन- 2019" || मतदान दलो का पोलेटेक्निक कॉलेज पर कलेक्टर एवं सीईओ जिला पंचायत ने पुष्पहार पहनाकर किया आत्मीय स्वागत
अन्य ख़बरें
बुनकरों के श्रम से चंदेरी साड़ी को मिली नई पहचान- राज्‍यपाल ने बुनकरों के बीच मनाया विश्‍व श्रमिक दिवस
-
अशोकनगर | 01-मई-2019
 
   चंदेरी के बुनकरों के श्रम से ही चंदेरी साड़ी को नई पहचान मिली है। चंदेरी साड़ियां पूरे देश में प्रसिद्ध होने का श्रेय यहां के श्रमिक बुनकरों को जाता है। इस आशय के विचार मध्‍यप्रदेश की राज्‍यपाल श्रीमती आनंदी बेन पटेल ने बुधवार को अशोकनगर जिले की तहसील चंदेरी ऐतिहासिक नगरी में विश्व  श्रमिक दिवस पर बुनकरों के निवास पर पहुंचकर व्‍यक्‍त किए। चंदेरी भ्रमण के दौरान राज्‍यपाल ने कहा कि श्रमिकों की कड़ी मेहनत एवं लगन से ही सार्थक परिणाम प्राप्‍त होते है। यही कारण है कि चंदेरी के बुनकरों की कड़ी मेहनत और लगन से ही चंदेरी साड़ी उद्योग को नया मुकाम मिल सका है। उन्‍होंने बुनकरों के परिश्रम की प्रशंसा करते हुए उनके उज्‍जवल भविष्‍य के लिए शुभकामनाएं दी। उन्‍होंने कहा कि बुनकर अपने श्रम से नई-नई डिजाइनों की साडि़यां बुनकर उज्‍जवल भविष्‍य की ओर अग्रसर हों।
विश्‍व श्रमिक दिवस पर जाना चंदेरी बुनकरों का हाल
   राज्‍यपाल ने चंदेरी भ्रमण के दौरान चंदेरी साड़ी हेतु राष्‍ट्रपति पुरूस्‍कार प्राप्‍त श्री तुलसीराम कोली, चंदेरी साड़ी में राष्‍ट्रीय पुरूस्‍कार प्राप्‍त  श्री दिलसाद अंसारी एवं श्री इक्तिशार मोहम्‍मद, श्री अशोक कोली, श्री प्रथ्‍वीराज नटराज कोली, श्री हुकुम कोली तथा श्री मुकेश कोली बुनकर के निवास पर पहुंचकर बुनकरों से चंदेरी साड़ी की बुनाई की बा‍रीकियों को समझा तथा विभिन्‍न कलर्स एवं डिजाइन की साडि़यां देखीं। उन्‍होंने बुनकरों से चंदेरी सा‍डि़यां तैयार करने के लिए उपयोग में आने वाले धागे, जरी तथा अन्‍य सामग्री के बारे में जानकारी प्राप्‍त की। बुनकरों ने बताया कि कच्‍चा माल सूरत से मगाते है। साडि़यां का डिजाइन तैयार कराकर लूम्‍स के माध्‍यम से साडि़यों का निर्माण किया जाता है। बुनकरों द्वारा अभिनेत्री अनुष्‍का शर्मा द्वारा चंदेरी में सूटिंग के दौरान पहनी गई साडियों को भी दिखाया गया। उन्‍होंने बताया कि फिल्‍मी अभिनेत्रियों द्वारा उपयोग की गई साडि़यों के प्रचार प्रसार से साडि़यों की मांग अधिक बढ़ जाती है। बुनकरों ने बताया कि हथकरघा विभाग द्वारा बुनकरों को प्रशिक्षण हेतु बैंगलोर भेजा जाता है तथा चंदेरी में भी प्रशिक्षण की व्‍यवस्‍था कराई गई है।
बुनकर परिवार राज्यपाल को अपने बीच पाकर हुए प्रसन्‍न
   राज्‍यपाल श्रीमती आनंदी बेन को चंदेरी के बुनकर परिवार अपने बीच पाकर बहुत प्रसन्‍न हुए। उन्‍होंने राज्‍यपाल का हार- फूल एवं तिलक लगाकर आत्‍मीय स्‍वागत किया तथा  सपरिवार राज्‍यपाल के साथ फोटों खिचवाए।
   भ्रमण के दौरान कलेक्‍टर डॉ. मंजू शर्मा, पुलिस अधीक्षक श्री पंकज कुमावत, अपर कलेक्‍टर डॉ. अनुज रोहतगी, अतिरिक्‍त पुलिस अधीक्षक श्री सुनील शिवहरे, एस.डी.एम. श्री राहुल गुप्‍ता, तहसीलदार श्री इसरार खान, हथकरघा विभाग के सहायक संचालक श्री एस. के. शाक्‍यवार, टैक्‍नीकल इंस्‍पेक्‍टर श्री अनिल साद एवं संबंधित अधिकारी साथ थे।
(19 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
अप्रैलमई 2019जून
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
293012345
6789101112
13141516171819
20212223242526
272829303112
3456789

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer