समाचार
|| पानसेमल के रक्तदान शिविर में 71 लोगों ने किया रक्तदान || नर्मदा नदी में 50 स्थान पर जल मॉनिटरिंग की सतत व्यवस्था || आसान उपाय अपनाकर कम कर सकते हैं बिजली बिल || पिछड़ा वर्ग पोस्ट मैट्रिक छात्र वृत्ति योजना के तहत ऑनलाइन आवेदन 31 जुलाई तक || जल सुविधा पोर्टल के संबंध में वीडियो कान्फेसिंग 22 जुलाई को || आपकी सरकार आपके द्वार कार्यक्रम का प्रारंभ होगा 1 अगस्त से || मजदूरी भुगतान में लापरवाही पर सचिव का वेतन काटा गया || पिछले 24 घंटे में संपूर्ण जिले में हुई वर्षा || अवैध रूप से संग्रहित 413 बेग उर्वरक जप्त || मीडिया के लिये भयमुक्त वातावरण बनाने के प्रयासरू मंत्री श्री शर्मा
अन्य ख़बरें
राष्ट्रीय डेंगू दिवस पर कार्यशाला आयोजित की गई
-
रतलाम | 16-मई-2019
 
   
    रतलाम जिले के विरियाखेडी स्थित प्रशिक्षण केन्द्र पर डेंगू से बचाव, उपचार और रोकथाम विषय पर कार्यशाला आयोजित की गई। कार्यशाला को संबोधित करते हुए सीएमएचओ डॉ. प्रभाकर ननावरे ने निर्देशित किया कि डेंगू दिवस के अवसर पर जिले में डेगूं से बचाव हेतु कार्ययोजना तैयार की जाए।उन्होंने कहा कि जिले के वाटरबाडी क्षेत्रों की पहले से पहचान कर ली जाए एवं आगामी मौसम में वाटर बाडी क्षेत्रों में सर्वेलेंस कार्यकर्ता टेमोफास दवाई का छिडकाव करें तथा इसकी नियमित मानिटरिंग की जाए।
    जिला मलेरिया अधिकारी श्री दौलत पटेल ने बताया कि डेंगू एडीज नामक मच्छर के काटने से होने वाला वाहक जनित रोग है यह मच्छर साफ पानी में पनपता है और दिन के समय काटता है। डेंगू के प्रमुख लक्षणों में तेज बुखार, सिर में दर्द, पीठ में दर्द, उल्टी , मितली , आंखों में दर्द, और त्वचा में चकते बनना इत्यादि मुख्य है। डेंगू के विषाणु के कारण रक्त वाहिकाएं फूल जाती है और इनमें से रिसाव होता है  जिसके कारण त्वचा पर बैंगनी रंग के धब्बे पड जाते हैं। डेंगू से बचाव के लिए ओवर हेड टेकों में मास्कीटो प्रूफ कवरिंग हो।कूलरों को सप्ताह में दो बार साफ करें। मास्कीटो क्वाईल, वेपर मच्छर निरोधक क्रीम का उपयोग करना चाहिए। मच्छरदानी लगाकर सोना चाहिए।जल एकत्रित करने वाले बर्तनों को ढंककर रखना चाहिए। टायरों को ढंककर रखना चाहिए या शेड में अलग रखना चाहिए। अपने शरीर को ढंकने के लिए पूरी बांह के कपडे पहनना चाहिए।भवन निर्माण के समय ऐसी सभी आंतरिक एवं बाहय संरचनाओं को न बनने दें जिनमें बारिश का पानी इकटठा हो सकता है।रोगी को तीव्र ज्वर ,सिर दर्द, शरीर दर्द से ग्रसित होने की स्थिति में तत्काल अस्पताल ले जाएं और डाक्टर की सलाह के अनुसार ही दवाई लें।कार्यशाला में डीएचओ डा जी.आर.गौड,मीडिया अधिकारी आशीष चौरसिया,डिप्टी मीडिया अधिकारी श्रीमती सरला कुरील,सहायक मलेरिया अधिकारी श्री वसुनिया सहित जिले के मलेरिया विभाग के कर्मचारी,एएनएम,आशा कार्यकर्ता आदि उपस्थित रहे कार्यक्रम के अंत में आभार श्री वसुनिया ने माना।
(66 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
जूनजुलाई 2019अगस्त
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
24252627282930
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
2930311234

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer