समाचार
|| राजस्व अधिकारियों की समीक्षा बैठक 22 जुलाई को || बेटी बचाओ अभियान अंतर्गत निबन्ध प्रतियोगिता का आयोजन || जरारूधाम गौ-अभ्यारण में पौध रोपण कर इसे 10 सालों में एक समृद्ध जंगल की तरह विकसित करना हैं- केन्द्रीय राज्य मंत्री प्रहलाद सिंह पटैल || कलेक्टर ने बटोही गांव का किया भ्रमण || चित्रकूट में कलेक्टर की अध्यक्षता में मिनी स्मार्ट सिटी की बैठक सम्पन्न || पंचायतों को 22 जुलाई तक स्व-कराधान की जानकारी भेजने के निर्देश || मंडी समिति सिहोरा के वार्ड एवं ग्रामों की सूची का अंतिम प्रकाशन 24 को || महाविद्यालयों में प्रवेश के लिए 10 प्रतिशत आरक्षण के मापदण्ड निर्धारित || संस्कृति विभाग द्वारा संस्थाओं से आवेदन आमंत्रित || एक दिवसीय मीडिएशन रिफरेशर कार्यक्रम संपन्न
अन्य ख़बरें
दस्तक अभियान के अंतर्गत अब तक 6835 बच्चों का किया गया स्वास्थ्य परीक्षण 15 बच्चे कुपोषित पाये गये
कलेक्टर श्री राठी आकस्मिक रूप से ग्रामीण व शहरी क्षेत्रों मे पहुंचकर प्रगति का जायजा लेंगे
दमोह | 12-जून-2019
 
   
  
    कलेक्टर तरूण राठी के निर्देशन एवं मार्गदर्शन में स्वास्थ्य एवं महिला एवं बाल विकास विभाग के मैदानी अमला द्वारा घर-घर दस्तक देकर 0 से 05 वर्ष तक के बच्चों की स्वास्थ्य जांच कर समुचित उपचार एवं आवश्यकतानुसार प्रबंधन किया जा रहा है। कलेक्टर श्री राठी ने अभियान की प्रगति की जानकारी लेते हुए कहा है कि वे भी आकस्मिक रूप से ग्रामीण व शहरी क्षेत्रों मे पहुंचकर प्रगति का जायजा लेंगे। जिले में 10 जून से आरंभ हुये दस्तक अभियान के तहत अब तक 302 ग्रामों में सेवायें दस्तक दल द्वारा दी जा चुकी हैं। स्क्रीन किये गये 6835 बच्चों में से 10 एनीमिक बच्चे, कुपोषित बच्चे 15 व जन्मजात विकृति वाले 03 बच्चों की पहचान की गई। पहचाने गये कुपोषित एवं जन्मजात विकृति वाले बच्चों को समुचित उपचार हेतु क्रमशः एनआरसी एवं जिला चिकित्सालय में संचालित डीईआईसी में में रिफर किया गया।
      इस संबंध में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ आर के बजाज ने बताया 08 से 11 ग्राम/डीएल एचबी वाले बच्चों को आयरन सीरप देकर 01 माह तक प्रतिदिन 01 एमएल सीरप पिलाने की समझाईश परिजनों को दी गई है। उन्होंने बताया भ्रमण दौरान गृह भेंट कर सभी बच्चों को दस्त से बचाव के लिये घरों में ओआरएस पैकिट का वितरण भी किया जा रहा है।
नौनिहालों की सेहत एवं पोषण की पड़ताल करने दल पहुंचा
      जिले में चलाये जा रहे नौनिहालों की सेहत एवं पोषण का अभियान ‘‘दस्तक ‘‘ पड़ताल करने करने क्षेत्रीय संचालक सह संयुक्त संचालक स्वास्थ्य सेवायें सागर की अगुवाई में दो सदस्यीय दल दमोह भ्रमण पर पहुंचा। दल दो भागों में बंटकर 04 विकासखण्डो में दस्तक अभियान के दौरान दी जाने वाली सेवाओं को आंका। क्षेत्रीय संचालक सह संयुक्त संचालक स्वास्थ्य सेवायें सागर डॉ. संतोष जैन ने बताया कि दल द्वारा भली-भांति दस्त, निमोनिया, कुपोषित बच्चों के लक्षणों के बारे में समझाईश दी जा रही है। बताया जा रहा है कि, मध्यम खून की कमी वाले बच्चों का आयरन सीरप पिलाकर बच्चों का उपचार घर पर ही किया जा सकता है। दस्त रोग व कुपोषित बच्चों की कैसे पहचान की जाये इसकी भली-भांति समझाईश दी जा रही है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. आर. के. बजाज के साथ डॉ. संतोष जैन ने तेंदूखेड़ा एवं जबेरा विकासखण्ड के ग्रामों का अवलोकन किया। वहीं उप संचालक डॉ. इन्द्रराज सिंह ठाकुर ने हटा एवं पटेरा विकासखण्ड का भ्रमण किया। इस दौरान जिला विस्तार एवं माध्यम अधिकारी एवं खण्ड स्तरीय दल मौजूद रहा। डॉ. संतोष जैन ने तेजगढ़ उप स्वास्थ्य केन्द्र के उमरिया ग्राम एवं पतलौनी उप स्वास्थ्य केन्द्र के सुनवाई तथा जबेरा विकासखण्ड के भाटखमरिया एवं विजयनगर ग्राम में दस्तक दल द्वारा दी जा रही सेवाओं का अवलोकन किया। ग्राम उमरिया में आंगनबाड़ी कार्यकर्ता अनुपस्थित पाई गई। हटा एवं पटेरा विकासखण्ड के रनेह कुंवरपुर तथा भरतला का भ्रमण कर दल दी जा रही मैदानी सेवाओं को देखा। दल द्वारा एमयूएसी टेप से कुपोषित बच्चों की, खून की कमी की पहचान एचबी कलर स्केल से जांच करते हुये एवं 09 से 05 वर्ष के बच्चों को विटामिन ए का घोल पिलाते पाया गया।
(38 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
जूनजुलाई 2019अगस्त
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
24252627282930
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
2930311234

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer