समाचार
|| अंतर्राष्ट्रीय-राष्ट्रीय खिलाडि़यों को निजी अकादमी खोलने के लिये मिलेगी मदद - श्री जीतू पटवारी || मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ द्वारा "सोच बदलें-जीवन बदलें" पुस्तक का विमोचन || दो माह में भरे जायेंगे सहायक प्राध्यापकों के पद || दस्तावेज सत्यापन एवं द्वितीय काउंसलिंग 29 जुलाई 2019 को || नियंत्रण कक्ष स्थापित || जिला पंचायत की सामान्य सभा की बैठक 26 जुलाई 2019 को || राइट टू वाटर अधिनियम को लागू करने एक हजार करोड़ का प्रावधान || सावन में संकल्पित होकर करें पौधा-रोपण- मंत्री श्री शर्मा || अशासकीय व्यक्तियों को शासकीय आवास आवंटन की समीक्षा होगी || अल्पसंख्यक छात्रवृत्ति योजनाओं के संबंध में दिशा-निर्देश जारी
अन्य ख़बरें
जिले के प्रभारी मंत्री श्री पटवारी ने बागली विकासखंड के ग्राम खोलचीपुरा व पोलाखाल में लगाई रात्रि चौपाल
ग्रामीणों ने खुलकर बताई अपनी समस्याएं, प्रभारी मंत्री ने मौके पर ही व्यवस्थाओं में सुधार के लिए अधिकारियों को दिए निर्देश, कॉलेज में प्रवेश के लिए ऑनलाइन पंजीयन हेतु बारहवीं उत्तीर्ण बालिकाओं से कोई शुल्क नहीं लिया जाएगा, पोलाखाल के पटवारी के स्थानांतरण के निर्देश, उदयनगर में महाविद्यालय खोलने की मांग, इंदौर से कम्‍पेल सिटी बस को पीपरी तक बढ़वाने हेतु एआईसीटीएसएल से चर्चा का दिया आश्वासन
देवास | 19-जून-2019
 
   
    प्रदेश के उच्च शिक्षा तथा खेल एवं युवक कल्याण विभाग के मंत्री तथा जिले के प्रभारी मंत्री श्री जीतू पटवारी मंगलवार रात्रि को बागली विकासखंड के ग्राम खोलचीपुरा तथा पोलाखाल पहुंचे। यहां उन्होंने देवास व शाजापुर जिले में पायलेट प्रोजेक्ट के रूप में शुरू किए “सरकार आपके द्वार” अभियान में भाग लिया तथा रात्रि चौपाल में ग्रामीणों की समस्याओं से रूबरू हुए। इस दौरान उन्होंने मौके पर ही अधिकारियों की समस्याओं के तत्काल निराकरण के निर्देश दिए। इस अवसर पर विधायक हाटपीपल्या श्री मनोज चौधरी, पूर्व विधायक श्री चंपालाल देवड़ा, जनपद पंचायत अध्यक्ष श्रीमती निर्मला कंठाली, श्री श्याम होलानी सहित अन्य जनप्रतिनिधगण एवं अधिकारीगण उपस्थित थे।
   प्रभारी मंत्री श्री पटवारी ने ग्रामीणों से कहा कि शासन द्वारा बहुत सारी हितग्राही मूलक योजनाएं संचालित की जा रही हैं। यह आपका अधिकार है, कि आपको उन योजनाओं का लाभ मिले। इसके लिए आप सब को जागरूक होना होगा। उन्होंने कहा कि आप जागरूक होकर सरकार की योजनाओं का लाभ उठाएं। उन्होंने कहा कि जागरूकता के अभाव में ग्रामीण सरकार की योजनाओं का लाभ नहीं उठा पाते हैं। सरकार आपके द्वार अभियान के तहत अधिकारीगण गांव-गांव जा रहे हैं। उद्देश्य यही है कि जनता ही क्यों अपनी समस्याओं को लेकर अधिकारियों के पास पहुंचे, बल्कि क्यों न अधिकारी स्वयं गांवों में जाऐ और जनता की समस्याओं को गांवों में ही हल करें। इसी सोच के साथ सरकार आपके द्वार अभियान शुरू किया गया है। इस अभियान का एक उद्देश्य यह भी है कि अधिकारी ग्रामीणों को सरकार की योजनाओं के बारे में भी जानकारी देवें, ताकि ग्रामीण उन योजनाओं का फायदा उठा सके। प्रभारी मंत्री श्री पटवारी ने कहा कि देवास व शाजापुर जिलों में यह अभियान पायलेट प्रोजेक्ट के तहत शुरू किया गया है। इन जिलों के फीडबेक के बाद मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ “सरकार आपके द्वार” अभियान को पूरे प्रदेश में लागू करेंगे।
   प्रभारी मंत्री श्री पटवारी ने स्थानीय मालवी भाषा में बात करते हुए ग्रामीणों से कहा कि अपनी समस्याओं को खुलकर उनके समक्ष रखे ताकि योजनाओं के क्रियान्वयन में कही कोई कमी हो तो उसमें सुधार किया जा सके। उन्होंने खोलचीपुरा में सबसे पहले आंगनवाड़ी संचालन के संबंध में आंगनवाड़ी कार्यकर्ता व सहायिका से पूछा कि ग्राम पंचायत अंतर्गत कितनी आंगनवाड़ी संचालित है आंगनवाड़ी में कोई समस्या हो तो बताएं ताकि सुधार किया जा सके। आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को बढ़ा हुआ मानदेय मिल रहा है कि नहीं। वृद्धावस्था पेंशन सभी को मिल रही है कि नहीं। पंचायत में राशन की दुकान है कि नहीं। ग्रामीणों ने बताया कि राशन की दुकान से अंगूठे के निशान मैच करने पर ही खाद्यान मिलता है। इस पर मंत्री जी ने पूछा कि अंगूठे का निशान मैच नहीं करता है तो कैसे खाद्यान्न मिलता है। सेल्समेन गंगाराम से भी उन्होंने पूछा कि उपभोक्ताओं को राशन वितरण में कोई दिक्कत तो नहीं है। उन्होंने गांव में शौचालय निर्मित होने के संबंध में पूछताछ की। ग्रामीणों से पूछा कि पूरी जनपद ओडीएफ घोषित है फिर सभी के घरों में शौचालय बने है कि नहीं। कुछ घरों में शौचालय निर्माण अधूरे बताएं गए। इस पर जनपद के सीईओ के मामले की दिखवाने तथा अधूरा निर्माण पूरा कराने के निर्देश दिए। उन्होंने पंचायत को विभिन्न मदों में मिली राशि तथा पंचायत में कराए गए कार्यों के संबंध में सचिव व रोजगार सहायक से पूछा वहीं उपयंत्री से पंचायत कार्यों की डीपीआर के संबंध में जानकारी ली तथा मौके पर ही अधिकारियों को आवश्यक निर्देश भी दिए।
    प्रभारी मंत्री श्री पटवारी ने ग्रामीणों से कहा कि वे अपने बच्चों को स्कूल जरूर भेजे वहीं 12वीं पास कर चुके बच्चे-बच्चियों को कॉलेज में पढ़ने हेतु भेजे। उन्होंने गांव में 12वीं पास कर चुकी बच्चियों से विशेष रूप से चर्चा की तथा पूछा कि कॉलेज में प्रवेश के लिए ऑनलाइन आवेदन किया है किसी ने आपसे प्रवेश हेतु ऑनलाइन पंजीयन के लिए राशि तो नहीं ली है। बच्ची द्वारा 80 रुपए लिए जाने की बताने पर प्रभारी मंत्री ने कियोस्क संचालक के विरूद्ध कार्यवाही के निर्देश दिए। उन्होंने चौपाल में बताया कि इस वर्ष से राज्य सरकार ने यह व्यवस्था की है कि बच्चियों के कॉलेज में प्रवेश लेने पर उनको कोई प्रवेश शुल्क नहीं देना होगा। वहीं बच्चों को भी केवल 50 रुपए  देना होगा। ग्रामीणों ने नर्मदा के पास का क्षेत्र होने के बावजूद सिंचाई व पेयजल की समस्या बताई। भू-जल स्तर गिरता जा रहा है। ग्रामीणों ने नर्मदा नदी से कालीसिंध लिंक परियोजना की भांति पारसडेम में  भी नर्मदा नदी का पानी लाने हेतु परियोजना बनाकर जोड़ने की मांग की। इससे पुंजापुरा व आसपास के 25-30 गांवों के लोगों को फायदा होगा। प्रभारी मंत्री श्री पटवारी ने योजना का परीक्षण कराए जाने का आश्वासन दिया, वहीं सभी से पौध रोपण करने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि आगामी बारिश में सभी लोग एक-एक पौधा रोपें। पौधों से हरियाली बढ़ेगी इस प्रकार जल संर्वधन को भी बढ़ावा मिलेगा।
    प्रभारी मंत्री श्री पटवारी ने ग्रामीणों को जय किसान ऋण माफी योजना के संबंध में में भी चर्चा की। उन्होंने कहा कि प्रथम चरण में 50 हजार रुपए तक के फसल ऋण माफ किए गए हैं। ग्रामीणों ने बताया कि इस योजना में गांव के लोगों को भी लाभ मिला है। प्रभारी मंत्री ने कहा कि दूसरे चरण में एक लाख रुपए तक तथा तीसरे चरण में 2 लाख रुपए तक के ऋण माफ होंगे। उन्होंने ग्रामीणों से बिजली के संबंध में भी चर्चा की। ग्रामीणों ने बताया कि ग्राम में घरेलू बिजली पूरे समय चलती है कभी-कभार जाती है तो 5-10 मिनट में आ जाती है। उन्होंने ग्रामीणों से कहा कि सरकार ने 100 यूनिट तक 1 रुपए प्रति यूनिट चार्ज होगा। उससे अधिक सामान्य दर से चार्ज लगेगा। आदिवासियों के कृषि पंप कनेक्शन व बिजली की दरों को भी आधा कर दिया गया है। ग्रामीणों ने बताया कि सोसायटियों से खाद बीज मिल रहा है। सभी पात्रों के पास गैस कनेक्शन है। प्रभारी मंत्री श्री पटवारी ने यह भी बताया कि बेटियों के विवाह के लिए राशि बढ़ाकर 51 हजार कर दी गई। पेंशन राशि बढ़ा दी गई है। इस वर्ष 600 रुपए मिलेगी। अगले वष से 01 हजार रुपए हो जाएगी। उन्होंने पूछा कि पुंजापुरा में डिलीवरी होती है या नहीं। प्रसूति सहायता की राशि मिल रही है कि नहीं। बताया कि केवल हार्ई रिस्क मामलों में ही रेफर किया जाता है सामान्य डिलीवरी पुंजापुरा में ही की जाती है। ग्रामीणों ने डॉक्टर की समस्या बताई। प्रभारी मंत्री श्री पटवारी ने प्रधानमंत्री आवास योजना में लाभ मिलने के संबंध में ग्रामीणों से पूछा और बताया कि कार्य योजना बनाई जा रही है। सभी पात्रों को योजना का लाभ दिलाया जाएगा।
    चौपाल में ग्रामीणों ने अपनी मांगे भी रखी। इनमें खोलचीपुरा से द्वारसिंह का पुरा, खोलचीपुरा से चंदूपुरा, भूरियापुरा से चंदूपुरा रोड, पारस में हाई स्कूल, खोलचीपुरा में सामुदायिक भवन, पारसडेम में नर्मदा नहीं का पानी लाने, ग्रामीणों को वन क्षेत्र से रेती निकालने पर लगी रोक हटाने आदि से संबंधित मांगे रखी।
    प्रभारी मंत्री श्री पटवारी ने पोलाखाल में भी रात्रि चौपाल में जनसमस्याएं सुनी व रात्रि विश्राम पोलाखाल में किया। ग्रामीणों ने सिंचाई पेयजल के पानी की मुख्य समस्या बताई। बताया कि कुओं व बोरिंग में पानी सूख गया है तथा जल स्तर 600 फीट से नीचे चला गया है। प्रभारी मंत्री ने कहा कि नर्मदा नदी से पानी लाने की व्यवस्था का परीक्षण कराएंगे और गंभीरता से प्रयास करेंगे। उन्होंने ग्रामीणों की मांग पर इंदौर-कम्पेल सिटीबस को पीपरी तक चलवाए जाने का आश्वासन दिया। चौपाल में पटवारी के विरूद्ध शिकायत की गई। उन्होंने मौके पर ही एसडीएम बागली को पटवारी का स्थानांतरण प्रस्ताव भिजवाने के निर्देश दिए। ग्रामीणों ने धाराजी में सावन माह में निकलने वाली कावड़ यात्रा के अलावा श्रद्धालुओं के लिए  स्नान हेतु घाट निर्माण करवाए जाने  की मांग की रखी। ग्रामीणों ने उदयनगर व पुंजापुरा में एक शासकीय महाविद्यालय खुलवाए जाने की मांग की। ग्रामीणों ने बताया कि अभी क्षेत्र के बच्चे देवास अथवा इंदौर उच्च शिक्षा अध्ययन के लिए जाते हैं। प्रभारी मंत्री ने इस संबंध में परीक्षण करा लेने का आश्वासन दिया। प्रभारी मंत्री श्री जीतू पटवारी ने ग्रामीणों को जिला सरकार की अवधारणा से अवगत कराया और बताया कि जिला सरकारकी अवधारणा लागू होने छोटी-छोटी समस्याएं जिलास्तर पर ही हल हो सकेगी। प्रभारी मंत्री श्री पटवारी ने रात्रि विश्राम के बाद अलसुबह ही ग्राम पोलाखाल का भ्रमण किया और किसान चौपाल में किसानों से चर्चा की।
(35 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
जूनजुलाई 2019अगस्त
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
24252627282930
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
2930311234

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer