समाचार
|| अंतर्राष्ट्रीय-राष्ट्रीय खिलाड़ियों को निजी अकादमी खोलने के लिये मिलेगी मदद || मतदाता जागरूकता अभियान के लिये नोडल अधिकारी नियुक्त || शासकीय योजनाओं के माध्यम से बेरोजगार युवा स्थापित कर सकते हैं स्वयं का रोजगार || सांची में स्वरोजगार जागरूकता शिविर 25 जुलाई को || मतदाता जागरूकता अभियान के लिये नोडल अधिकारी नियुक्त || संवेदनशीलता से हो जन समस्याओं का निराकरण-कलेक्टर || सोयाबीन कृषको के लिये उपयोगी सलाह || डिजिटल इंडिया एवं एक भारत एक थीम के तहत एनआईसी द्वारा जिले की नई वेबसाइट विकसित || आरूल गांव की दुर्गा अलोने का हुआ नि:शुल्क कूल्हा प्रत्यारोपण (खुशियों की दास्तां) || यूरिया आदि घातक पदार्थों से दूध बनाने वालों और व्यापार करने वालों पर होगी सख्त कार्रवाई
अन्य ख़बरें
पायली जल प्रदाय योजना से जबलपुर संभाग के 638 गांव होंगे पानीदार - घर-घर पहुंचेगा नर्मदा जल "खुशियों की दास्ताँ"
साढ़े सात लाख की आबादी होगी लाभान्वित
जबलपुर | 20-जून-2019
 
    जबलपुर संभाग के तीन जिलों जबलपुर, सिवनी और नरसिंहपुर के 638 गांवों को पानीदार बनाने की राज्य सरकार की महत्वाकांक्षी पायली ग्राम समूह जल प्रदाय योजना पर तेजी से अमल शुरू हो गया है। सात करोड़ 49 लाख 17 हजार रूपए की प्रशासकीय स्वीकृति प्राप्त इस जल प्रदाय योजना से बरगी बाँध द्वारा पाइप लाइन के माध्यम से अगले दो वर्षो में पानी की आपूर्ति शुरू कर दी जायेगी।
    पायली ग्राम समूह जल प्रदाय योजना के माध्यम से संभाग के 638 गांवों की करीब सात लाख 45 हजार से अधिक की आबादी को एक लाख नल कनेक्शनों के द्वारा सुगम पेयजल आपूर्ति की जायेगी। बरगी बांध से पाइप लाइन के जरिये इन गांवों के घर-घर में नर्मदा का पानी पहुंचाने की दिशा में राज्य सरकार गंभीरतापूर्वक तेजी से काम कर रही है।
    योजनांतर्गत 93 एम.एल.डी. इंटकवेल, 4250 मीटर लम्बाई और 900 एम.एम. व्यास वाले रॉ वाटर पंपिंग मेन, 71 एम.एल.डी. जलशोधन संयंत्र सहित 265 उच्च स्तरीय पानी की टंकी बनाई जायेंगी। इसके अलावा 100 से 700 एम.एम. व्यास के 119 किलो मीटर लम्बे क्लीयर वॉटर पंपिंग मेन और 1128 किलोमीटर लम्बाई वाले क्लीयर वॉटर ग्रेविटी मेन का काम होगा। साथ ही सभी 638 गांवों को मिलाकर 2200 किलोमीटर लम्बी जल वितरण पाईप लाइन बिछाई जायेगी। इसके अलावा 5 मास्टर बैलेंसिंग रिजर्वायर और 5 इंटरमीडियट पंपिंग स्टेशन भी बनेंगे।
    पायली जल प्रदाय योजना से जबलपुर जिले के 193 ग्रामों की करीब दो लाख 65 हजार से अधिक आबादी को पेयजल आपूर्ति होगी। इसमें विकासखंड शहपुरा के 103 ग्राम और विकासखंड जबलपुर के 90 ग्रामों की आबादी लाभान्वित होगी। इसी प्रकार सिवनी जिले के 395 ग्रामों में जल प्रदाय योजना से पानी पहुंचेगा। यहॉं के विकासखंड लखनादौन के 140 ग्राम, विकासखंड घंसौर के 215 गांव और विकासखंड धनौरा के 40 गांवों के रहवासियों को साफ पेयजल मिलेगा। इसके अलावा नरसिंहपुर जिले के विकासखंड गोटेगांव के 50 ग्रामों की आबादी को भी पाईप लाइन के जरिये पानी की आपूर्ति होगी। इन गांवों में अभी भले ही पानी की किल्लत जैसी भयावह स्थिति नहीं निर्मित हुई है, लेकिन दबे पांव यहाँ इसकी आहट सुनाई देने लगी है। इनमें से अधिकांश गांवों में अपने महत्व और जरूरत को बयां करते कुँए और हैण्डपंपों के भूजल स्तर में तेजी से गिरावट आई है और जल स्त्रोत सूखने की स्थिति में पहुंचने लगे है। ग्रामीणों को पेयजल संकट की इस स्थिति से उबारने के लिए राज्य सरकार ने पायली ग्राम समूह जल प्रदाय योजना के रूप में एक बड़ा और प्रभावी कदम उठाया है।

                                                मनोज कुमार श्रीवास्तव
                                सहायक सूचना अधिकारी
                                 संभागीय जनसंपर्क कार्यालय
                                        जबलपुर
(34 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
जूनजुलाई 2019अगस्त
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
24252627282930
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
2930311234

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer