समाचार
|| मतदाता जागरूकता अभियान के लिये नोडल अधिकारी नियुक्त || संवेदनशीलता से हो जन समस्याओं का निराकरण-कलेक्टर || सोयाबीन कृषको के लिये उपयोगी सलाह || डिजिटल इंडिया एवं एक भारत एक थीम के तहत एनआईसी द्वारा जिले की नई वेबसाइट विकसित || आरूल गांव की दुर्गा अलोने का हुआ नि:शुल्क कूल्हा प्रत्यारोपण (खुशियों की दास्तां) || यूरिया आदि घातक पदार्थों से दूध बनाने वालों और व्यापार करने वालों पर होगी सख्त कार्रवाई || फसल बीमा कराने की अंतिम तिथि 31 जुलाई || जय किसान फसल ऋण माफी योजना- कौन-से किसान हैं ऋण माफी के लिए पात्र || एसीएस श्री रेड्डी वरिष्ठ सचिव समिति में सदस्य मनोनीत || अंतर्राष्ट्रीय-राष्ट्रीय खिलाड़ियों को निजी अकादमी खोलने के लिये मिलेगी मदद - श्री जीतू पटवारी
अन्य ख़बरें
कैंडाटोला में लगाया गया विकासखंड स्तरीय अंत्योदय मेला
30 करोड़ 33 लाख रुपये के विकास कार्यों का हुआ लोकार्पण एवं भूमिपूजन
बालाघाट | 25-जून-2019
 
   
 
    आज 25 जून को बिरसा विकासखंड के ग्राम कैंडाटोला में विकासखंड स्तरीय अंत्योदय मेला आयोजित किया गया था। इस मेले में ग्रामीण जनता को शासन की योजनाओं की जानकारी देने के साथ ही उन्हें विभिन्न योजनाओं के हितलाभ का वितरण भी किया गया। इस अवसर पर 30 करोड़ 33 लाख रुपये के विकास कार्यों का लोकार्पण एवं भूमिपूजन किया गया। अंत्योदय मेले में मध्यप्रदेश शासन के पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री एवं बालाघाट जिले के प्रभारी मंत्री श्री कमलेश्वर पटेल, मध्य प्रदेश विधानसभा की उपाध्यक्ष सुश्री हिना कावरे, खनिज साधन मंत्री श्री प्रदीप जयसवाल, विधायक श्री संजय उईके, कलेक्टर श्री दीपक आर्य, नगर पंचायत बैहर के अध्यक्ष श्री गणेश मरावी, जनपद पंचायत बैहर की अध्यक्ष श्रीमती भगवंती सैयाम, जनपद पंचायत बिरसा की अध्यक्ष श्रीमती सरिता धुर्वे, जिला पंचायत सदस्य श्रीमती नेहा सिंह एवं अन्य गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।
     कार्यक्रम के मुख्य अतिथि प्रभारी मंत्री श्री कमलेश्वर पटेल ने कार्यक्रम में उपस्थित जनसुमुदाय को संबोधित करते हुए कहा कि बैहर क्षेत्र की जनता ने अच्छा जनप्रतिनिधि चुना है। उनके प्रयासों से इस क्षेत्र के विकास कार्यों को गति मिलेगी। प्रभारी मंत्री श्री पटेल ने कहा कि भाजपा के 15 साल में प्रदेश को भारी भ्रष्टाचार का सामना करना पड़ा है। मुख्यमंत्री कमलनाथ के नेतृत्व में बनी नई सरकार सारी व्यवस्थाओं को दुरूस्त करने में लगी है। हमारी सरकार की प्राथमिकता समाज के सभी वर्गों का विकास करना है। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने मुख्यमंत्री कन्यादान योजना मे सहायता राशि बढ़ाकर 51 हजार रुपये कर दी है। प्रसूति सहायता राशि को बढ़ाकर 16 हजार रुपये कर दिया है। सामाजिक सुरक्षा पेंशन को 300 रुपये से बढ़ाकर 600 रुपये कर दी है। प्रदेश सरकार ने आजीविका मिशन की दीदियों के समूहों को स्वरोगजार के लिए दिये गये ऋण पर ब्याज को 24 प्रतिशत से घटाकर 12 प्रतिशत कर दिया है।
     प्रभारी मंत्री पटेल ने कहा कि हम सभी जल संरक्षण की असोर विशेष ध्यान देना होगा। जल है तो कल है और जल है तो जीवन है, इस भावना के साथ नदी पुनर्जीवन कार्य में योगदान देना होगा। प्रभारी मंत्री श्री पटेल ने कहा कि प्रदेश सरकार नई खनिज नीति तैयार की है और उसमें ग्राम पंचायतों को शासकीय कार्य के लिए रायल्टी से छूट प्रदान की गई है। इसी प्रकार स्वयं के मकान या शौचालय के निर्माण में उपयोग के लिए ग्रामीण एवं किसान से रायल्टी नहीं ली जायेगी। प्रभारी मंत्री श्री पटेल ने कहा कि हमारी सरकार की जिम्मेदारी है कि सभी पात्र लोगों को शासन की योजनाओं का लाभ मिलना चाहिए। बिजली विभाग के अधिकारियों को ध्यान देना होगा कि एक रुपये प्रति यूनिट की बिजली के लिए पात्र लोगों के बिजली बिल का सही निर्धारण हो। हमारी सरकार ने अपने वचन पत्र में जो वादे किये है उन्हें हर हाल में पूरा किया जायेगा। 31 मार्च 2018 की स्थिति में किसानों का ऋण माफ किया जायेगा। 01 अप्रैल से 2018 से लिये ऋण पर किसानों को पहले की तरह पर शून्य प्रतिशत ब्याज का लाभ मिलेगा। किसानों को सहकारी समितियों से खाद बीज के लिए परेशान करने वाले अधिकारियों पर कार्यवाही की जायेगी।
     खनिज मंत्री श्री प्रदीप जायसवाल ने इस अवसर पर अपने संबोधन में कहा कि प्रदेश की नई सरकार ने 6 माह में ही किसानों का कर्ज माफ किया है। भाजपा की सरकार ने 15 साल में प्रदेश को जितना लूटा है उतना तो अंग्रेजों ने भी नहीं लूटा था। मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ को प्रदेश का खजाना पूरी तरह से खाली मिला है। मंत्री श्री जायसवाल ने कहा कि हमारी सरकार ने नई खनिज नीति बनाई है। अब गांव के किसान, अनुसूचित जाति एवं जनजाति के लोगों को स्वयं का माकन बनाने एवं शौचालय के लिए रेत की रायल्टी नहीं देना होगा। ऐसे मामलों में कोई कार्यवाही की जरूरत नहीं है।  रेत का व्यवसायिक उपयोग करने पर कड़ी कार्यवाही की जायेगी।
     विधानसभा उपाध्यक्ष सुश्री हिना कावरे ने इस अवसर पर अपने संबोधन में कहा कि भाजपा की सरकार में हितग्राहियों को योजना का लाभ देने में भ्रष्टाचार किया जाता था। भाजपा की सरकार ने आदिवासी परियोजना की राशि आदिवासी क्षेत्रों में खर्च नहीं की। मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ के नेतृत्व वाली भ्रष्टाचार खतम करने के लिए व्यवस्थाओं को सुधार रही है। उन्होंने ग्राम बम्हनी, गुदमा एवं कैंडाटोला में स्वागत करने वाले नृतक दलों को 10-10 हजार रुपये की राशि देने की घोषणा की।    
(29 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
जूनजुलाई 2019अगस्त
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
24252627282930
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
2930311234

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer