समाचार
|| किसान भाईयों को अल्पवर्षा की वर्तमान स्थिति में सम सामयिक सलाह || बीस वर्ष की सेवा या पचास वर्ष की आयु पूरी कर चुके, अक्षम कर्मचारियों की अनिवार्य सेवानिवृत्ति के प्रस्ताव भेजें || स्वतंत्रता दिवस की तैयारियों को लेकर बैठक संपन्न || संभागायुक्त ने महिला उद्यमियों के लिए स्वीप आयोजन की तैयारियों की समीक्षा की || पत्रकारिता विश्वविद्यालय द्वारा पाठ्यक्रमों के उन्नयन के प्रयास सराहनीय - मंत्री श्री शर्मा || राजनैतिक मामलों की मंत्रि-परिषद समिति पुनर्गठित || जिले में 267 मि.मी. औसत वर्षा रिकार्ड || अशासकीय व्यक्तियों को शासकीय आवास आवंटन की समीक्षा होगी || बच्चों के लिए खून की व्यवस्था करने कलेक्टर ने ली सामाजिक संस्थाओं की बैठक || सभी विभागाध्यक्ष एवं जिला कार्यालय में ई-ऑफिस कार्य-प्रणाली क्रियान्वयन के निर्देश
अन्य ख़बरें
नर्मदा घाटी विकास एवं पर्यटन विभाग मंत्री श्री बघेल ने मुख्यमंत्री कन्यादान विवाह एवं निकाह योजना के तहत डही में आयोजित सामूहिक विवाह कार्यक्रम का विधिवत् शुभारंभ
डही में 510 वर-वधूओं के जोड़ों का विवाह सम्पन्न
धार | 28-जून-2019
 
 
  नर्मदा घाटी विकास एवं पर्यटन मंत्री श्री सुरेन्द्र सिंह बघेल ने धार जिले के डही विकासखण्ड मुख्यालय पर कृशि उपज मण्डी परिसर में गुरूवार को मुख्यमंत्री कन्यादान विवाह एवं निकाह योजना के अन्तर्गत सामूहिक विवाह कार्यक्रम का मॉं सरस्वती तथा मॉं गायत्री का पूजन कर विधिवत् शुभारंभ किया। इस सामूहिक विवाह एवं निकाह कार्यक्रम में 510 वर-वधूओं का विवाह सम्पन्न हुआ। इसमें 6 वर-वधूओं का निकाह भी शामिल है। श्री बघेल ने कन्याओं का पूजन भी किया।
   श्री बघेल ने इस अवसर पर अपने उद्बोधन में कहा कि प्रदेश में मुख्यमंत्री कन्यादान विवाह योजना के तहत पिछले 15 वर्शो से सामूहिक विवाह का आयोजन किया जा रहा है। पहले 28 हजार रूपये की राशि इस योजना के तहत हितग्राहियों को प्राप्त होते थे। जिसमें से विवाह के आयोजन और सामग्री पर व्यय किए जाते थे। अब मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ जी की सरकार ने यह राशि बढ़ाकर 51 हजार रूपये कर दी है। इसमें से मात्र 3 हजार रूपये विवाह कार्यक्रम आयोजन पर खर्च किए जाते है और शेश 48 हजार रूपये नवदम्पत्ति के बैंक खातों में सीधे जमा की जाती है। जिससे इस योजना के पात्र दम्पत्तियों को लाभ प्राप्त हो रहा है। इस राशि से नवदम्पत्ति अपनी इच्छानुसार सामग्री की खरीदी कर सकते है।
   श्री बघेल ने आगे कहा कि खेती के लिए संसाधन की नितांत आवश्यकता होती है। इसलिए सिंचाई की व्यवस्था तथा पेयजल के लिए बहन-बेटियों को दूर न जाना पड़े, इसके लिए कुक्षी विधानसभा क्षेत्र में 2 माईक्रों उद्वहन सिंचाई परियोजनाओं की स्वीकृति दी गई है। यह परियोजनाएं लगभग 25 करोड़ रूपये की है। इन सिंचाई परियोजनाओं से नदी-नालों में भी पानी छोड़ा जाएगा। जिससे जलस्त्रोतों में जल स्तर की वृद्धि होगी। श्री बघेल ने ग्रामीणों से कहा है कि वे अपने बेटे-बेटियों को पढ़ने के लिए स्कूल भेजे और शिक्षकों का यह दायित्व है कि वे अपने दायित्वों का पूरी तरह से निवर्हन करे और स्कूल समय पर जाएं। साथ ही अपने विधानसभा क्षेत्र का नाम रोशन करे।
   श्री बघेल ने कहा कि उचित मूल्य दुकानों पर व्यवस्था में बदलाव कर रहे है। उपभोक्ताओं को खाद्यान्न सामग्री आवश्यक रूप से प्राप्त होगी। शिक्षकों, आंगनवाडी कार्यकर्ताओं, सचिवों के लिए तथा अन्य जो वादे किए गए थे, वह आवश्यक रूप से पूरे किए जावेंगे। इन वादों को पूर्ण करने का कार्य शुरू कर दिया गया है। श्री बघेल ने जनपद पंचायत कार्यालय डही को फर्नीचर के लिए 2 लाख 50 हजार रूपये की राशि प्रदाय करने की घोषणा की। श्री बघेल ने कहा डही व क्षेत्र की जनता की खुशहाली के लिए हरसंभव प्रयास किए जावेंगे। श्री बघेल ने सहकारी सोसायटियों के प्रबंधकों को निर्देश दिए है कि वे वर्षाऋतु प्रारंभ हो चुकी है, किसानों को खरीफ सीजन के लिए खाद, बीज की पर्याप्त मात्रा में व्यवस्था करे और किसानों को आसानी से इसकी उपलब्धता सुनिश्चित करे। उन्हें खाद, बीज के लिए इधर-उधर न भटकना पड़े, इस बात का विशेष ध्यान रखा जाएं। सहकारी संस्थाओं की शिकायते प्राप्त होने पर उन पर कड़ी कार्यवाही भी सुनिश्चित की जावेंगी। श्री बघेल ने नव दम्पत्तियों को 1-1 फलदार पौधे प्रदाय किए और इन पौधों की बढ़े होने पर अच्छी से परवरीष करने के लिए आव्हान किया। श्री बघेल ने नव दम्पत्तियों को प्रतीक स्वरूप प्रमाण पत्र भी वितरित किए।
नर्मदा घाटी विकास एवं पर्यटन मंत्री श्री बघेल ने डही विकासखण्ड की ग्राम पंचायत थांदला में बंजर पहाड़ी पर वृक्षारोपण कार्य की आधारशीला रखी और त्रिवेणी के पौधे का रोपण भी किया। श्री बघेल ने इस अवसर पर आयोजित श्रमदान कार्यक्रम में भी हिस्सा लिया।
   इस अवसर पर जनपद अध्यक्ष श्री जयदीप पटेल, श्री दिनेश गिरवाल, सेवानिवृत्त जिला शिक्षा अधिकारी श्री आर.एस. जमरा ने भी ग्रामीणों को सम्बोधित किया। मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री संतोष वर्मा कहा कि ऊरी नदी पर 128 गॉंवों में बंजर पहाडि़यों को हराभरा करने का काम हाथ में लिया गया है, जिससे कुओं व अन्य जल स्त्रोतों में जल स्तर बढ़ेगा और नदी-नालों में भी पानी की उपलब्धता बनी रहेंगी। कार्यक्रम के प्रारंभ में अनुविभागीय अधिकारी राजस्व कुक्षी श्री बी.एस. कलेश ने स्वागत भाषण दिया। इस कार्यक्रम में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत श्री प्रीतेष जैन, जनपद अध्यक्ष श्री जयदीप पटेल ने मंत्री जी को सम्मान पत्र भेंट किया।
   इस कार्यक्रम में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री रूपेश कुमार द्विवेद्वी, नगर परिषद के अध्यक्ष श्री कैलाश कन्नौज, श्री राजेन्द्र डावर, श्री अर्जुन बघेल, राजा श्री भानुप्रताप सिंह सोलंकी, त्रि-स्तरीय पंचायत राज के जनप्रतिनिधि, पार्षदगण, पत्रकारगण, गणमान्य नागरिक व बड़ी संख्या में ग्रामीणजन उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन बी.आर.सी. श्री दुबे ने किया।
(24 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
जूनजुलाई 2019अगस्त
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
24252627282930
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
2930311234

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer