समाचार
|| किसान भाईयों को अल्पवर्षा की वर्तमान स्थिति में सम सामयिक सलाह || बीस वर्ष की सेवा या पचास वर्ष की आयु पूरी कर चुके, अक्षम कर्मचारियों की अनिवार्य सेवानिवृत्ति के प्रस्ताव भेजें || स्वतंत्रता दिवस की तैयारियों को लेकर बैठक संपन्न || संभागायुक्त ने महिला उद्यमियों के लिए स्वीप आयोजन की तैयारियों की समीक्षा की || पत्रकारिता विश्वविद्यालय द्वारा पाठ्यक्रमों के उन्नयन के प्रयास सराहनीय - मंत्री श्री शर्मा || राजनैतिक मामलों की मंत्रि-परिषद समिति पुनर्गठित || जिले में 267 मि.मी. औसत वर्षा रिकार्ड || अशासकीय व्यक्तियों को शासकीय आवास आवंटन की समीक्षा होगी || बच्चों के लिए खून की व्यवस्था करने कलेक्टर ने ली सामाजिक संस्थाओं की बैठक || सभी विभागाध्यक्ष एवं जिला कार्यालय में ई-ऑफिस कार्य-प्रणाली क्रियान्वयन के निर्देश
अन्य ख़बरें
राष्ट्रीय स्वास्थ्य कार्यक्रमों में शत-प्रतिशत लक्ष्यों की पूर्ति करें
चिकित्सक समय पर अस्पतालों में उपस्थित होकर मरीजों को उपचार प्रदान करें - कलेक्टर श्री वर्मा, स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा बैठक आयोजित
आगर-मालवा | 29-जून-2019
 
    
     कलेक्टर श्री अभय वर्मा ने निर्देश दिए कि जिले में संचालित दस्तक अभियान, टीकाकरण, परिवार कल्याण, मलेरिया, अंधतत्व, क्षय एवं अन्य राष्ट्रीय स्वास्थ्य कार्यक्रमों में शत-प्रतिशत लक्ष्यों की पूर्ति करें। शासन द्वारा संचालित योजनाओं का लाभ प्रत्येक पात्र हितग्राही को दिया जाये। चिकित्सक प्रतिदिन निर्धारित समय पर चिकित्सालयों में उपस्थित रहकर आने वाले मरीजों को उपचार प्रदान करें। चिकित्सक बिना पूर्व अनुमति के मुख्यालय न छोड़े तथा मुख्यालय पर ही रहें। अस्पताल परिसरों में मरीजों के लिये शुद्ध पेयजल की व्यवस्था रखें। कलेक्टर श्री वर्मा शनिवार को कलेक्ट्रेट सभा कक्ष में स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने पुराने जिला चिकित्सालय में रखी पुरानी एक्स-रे मशीन को बड़ौद सामुदायिक केन्द्र को देने एवं नलखेड़ा सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र हेतु नई एक्स-रे मशीन के प्रस्ताव शासन पर भेजने के निर्देश दिए।
   कलेक्टर ने निर्देश दिए कि जिले की सभी स्वास्थ्य संस्थाओं में साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखें, पलंगों की चादरे प्रतिदिन बदली जाये। उन्होंने महिला बाल विकास विभाग के अधिकारी को निर्देश दिए कि जिले में संचालित एनआरसी भवनों में साफ-सफाई अच्छी हो एवं खान-पान सामग्री उचित गुणवत्ता की हो तथा जिले की एनआरसी में बेड आक्यूपेंशी घटे नहीं यह सुनिश्चित करे। उन्होंने कहा कि प्रतिमाह स्वास्थ्य विभाग एवं महिला बाल विकास विभाग की संयुक्त बैठक आयोजित कर समीक्षा की जायेगी।
   कलेक्टर ने जिला चिकित्सालय से कचरा हटाने एवं पानी की व्यवस्था नगर पालिका आगर द्वारा करने के निर्देश दिए। उन्होंने जिला चिकित्सालय आगर लिफ्ट ऑपरेटर एवं सफाई व्यवस्था हेतु एक व्यक्ति की नियुक्ति रोगी कल्याण समिति के माध्यम से करने तथा चिकित्सालय परिसर में दो बगीचों का उन्नयन करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जिन उपस्वास्थ्य केन्द्र के भवन नहीं है, उनके प्रस्ताव तैयार कर शासन स्तर पर भेजे जाए। बैठक में सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र सुसनेर के नवीन भवन हेतु प्रस्ताव शासन स्तर पर भेजा गया है। उन्होंने कहा कि बजट आवंटन में विलम्ब होने पर अस्पताल के सुरक्षाकर्मी एवं सुरक्षागार्ड का वेतन जिले के रोगी कल्याण समिति के फण्ड से दिया जाये तथा आवंटन प्राप्त होने पर उसका उक्त मद में समायोजन किया जाये। जिले के सभी प्राथमिक स्वास्थ्य एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों में ओपीडी शुल्क 5 रूपए के स्थान पर 10 रुपए करने के निर्देश दिए।
   बैठक में कलेक्टर ने संस्थागत प्रसव की समीक्षा के दौरान जिले में होम डिलेवरी की रिपोर्ट शून्य होने से पर महिला बाल विकास विभाग के अधिकारी को निर्देश दिए कि आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं के माध्यम से होम डिलेवरी के बारे में रिपोर्ट प्राप्त करे तथा होम डिलेवरी की जानकारी देने हेतु निर्देशित करें। उन्होंने पुराने जिला चिकित्सालय में आयुष अधिकारी कार्यालय की रंगाई-पुताई एवं विभाग की डिस्पेंसरियों में रोगी कल्याण समिति का गठन करने के निर्देश आयुष विभाग के अधिकारी को दिए।
    बैठक में बताया गया कि जिले में 11 जुलाई से जनसंख्या स्थिरता पखवाडा आयोजित होगा। इस पखवाड़े में सभी आंगनवाड़ी एवं आशा कार्यकर्ता को एक-एक नसबंदी का लक्ष्य दिया गया है। जिला चिकित्सा आगर विजिट पास की शुल्क 20 प्रति अटंेडर निर्धारित की गई है। जिसमें मरीज एवं अटेंडर के अलग-अलग रंग में कार्ड बनाये जायेंगें। जिला चिकित्सालय में ब्लड बैंक शुरू करने हेतु 02 टेक्निशयन का चयन रोगी कल्याण समिति एवं रेडक्रास सोसायटी से किया गया है।
    बैठक में मुख्य चिकित्सा एवं स्वाथ्य अधिकारी डॉ डीएस चौहान, डब्ल्यूएचओ के एसएमओ  डॉ. जोशी, जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. अरविन्द विश्नार, सिविल सर्जन डॉ. जेसी परमार, डीआईओ डॉ. राजेश गुप्ता, महिला सशक्तिकरण अधिकारी श्रीमती रीना शर्मा, जिला क्षयएवं जिला अन्धत्व अधिकारी डॉ. शशांक सक्सेना, जिला मलेरिया अधिकारी श्री आरसी ईरवार, बीएमओ डॉ. राजीव बरसेना, डॉ. विजय यादव, डॉ. विजेन्द्र चुडीहार, डीपीएम श्री राकेश चौहान सहित स्वास्थ्य विभाग के अन्य  अधिकारी मौजूद थे।
(24 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
जूनजुलाई 2019अगस्त
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
24252627282930
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
2930311234

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer