समाचार
|| किसान भाईयों को अल्पवर्षा की वर्तमान स्थिति में सम सामयिक सलाह || बीस वर्ष की सेवा या पचास वर्ष की आयु पूरी कर चुके, अक्षम कर्मचारियों की अनिवार्य सेवानिवृत्ति के प्रस्ताव भेजें || स्वतंत्रता दिवस की तैयारियों को लेकर बैठक संपन्न || संभागायुक्त ने महिला उद्यमियों के लिए स्वीप आयोजन की तैयारियों की समीक्षा की || पत्रकारिता विश्वविद्यालय द्वारा पाठ्यक्रमों के उन्नयन के प्रयास सराहनीय - मंत्री श्री शर्मा || राजनैतिक मामलों की मंत्रि-परिषद समिति पुनर्गठित || जिले में 267 मि.मी. औसत वर्षा रिकार्ड || अशासकीय व्यक्तियों को शासकीय आवास आवंटन की समीक्षा होगी || बच्चों के लिए खून की व्यवस्था करने कलेक्टर ने ली सामाजिक संस्थाओं की बैठक || सभी विभागाध्यक्ष एवं जिला कार्यालय में ई-ऑफिस कार्य-प्रणाली क्रियान्वयन के निर्देश
अन्य ख़बरें
रेत के अवैध उत्खनन, परिवहन व भंडारण को सख्ती से रोका जायेगा
गाडरवारा के रेत भंडारण अनुज्ञप्तिधारकों की बैठक सम्पन्‍न
नरसिंहपुर | 08-जुलाई-2019
 
   
    कलेक्टर दीपक सक्सेना की अध्यक्षता में अधिकारियों और गाडरवारा विधानसभा क्षेत्र के रेत भंडारण अनुज्ञप्तिधारकों की बैठक कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में सोमवार को सम्पन्‍न हुई। बैठक में रेत के अवैध उत्खनन, भंडारण और परिवहन पर अंकुश लगाने के उपायों पर विचार- विमर्श कर सुझाव लिये गये और सर्वसम्मति से महत्वपूर्ण निर्णय लिये गये। कलेक्टर ने कहा कि राज्य शासन की मंशा के अनुरूप जिले में रेत के अवैध उत्खनन, परिवहन व भंडारण को सख्ती से रोका जायेगा। इसके लिए कलेक्टर ने निर्देशित किया कि संबंधित एसडीएम, एसडीओपी और पूरी टीम लगातार क्षेत्र का भ्रमण कर आवश्यक कार्रवाई सुनिश्चित करे। उन्होंने रेत उत्खनन, परिवहन व भंडारण के कार्य में पूर्ण पारदर्शिता बरते जाने पर जोर दिया।
         बैठक में पुलिस अधीक्षक डॉ. गुरकरन सिंह, अपर कलेक्टर मनोज ठाकुर, अतिरिक्‍त पुलिस अधीक्षक राजेश तिवारी, एसडीएम राजेश शाह व आरएस राजपूत, एसडीओपी एसआर यादव, जिला खनिज अधिकारी रमेश पटैल, ईई आरईएस एमएल सूत्रकार, अतिरिक्‍त मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत प्रभात उईके, संबंधित तहसीलदार, नायब तहसीलदार, थाना प्रभारी (टीआई), संबंधित जनपदों के सीईओ और गाडरवारा विधानसभा क्षेत्र के रेत भंडारण अनुज्ञप्तिधारी मौजूद थे।
रेत भंडारण की सीसीटीव्ही से होगी निगरानी
         बैठक में सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया कि अनुज्ञप्तिधारियों के रेत भंडारण क्षेत्र की फेंसिंग की जायेगी। रेत भंडारण गोदाम के बाहर बड़े साईज का बोर्ड लगाया जायेगा और ऑफिस बनाया जायेगा। रेत भंडारण क्षेत्र की निगरानी के लिए इंटरनेटयुक्‍त सीसीटीव्ही कैमरे लगाये जायेंगे। भंडारित रेत की पंजी संधारित की जायेगी। ऑनलाइन स्टाक पंजी का पेज हर दिन निकालकर ऑफिस में रखा जायेगा। ईटीपी अपरान्ह 4 बजे के बाद जनरेट नहीं की जायेगी। रायल्टी देकर जिले के बाहर रेत भरकर ले जाने वाले वाहन रात्रि 8 बजे के बाद जिले में नहीं रहना चाहिये। रायल्टी वाली रेत से भरे वाहन जैसे ही भंडारण क्षेत्र से बाहर जायें, तो उसकी फोटो लेकर वाटसएप ग्रुप पर पोस्ट की जायेगी। इसके लिए अनुज्ञप्तिधारियों और संबंधित अधिकारियों का वाटसएप ग्रुप बनाया जायेगा। यदि रेत से भरा वाहन बिगड़ जाता है, तो तत्काल इसकी सूचना दी जायेगी और वाटसएप ग्रुप पर भी डाला जायेगा।
         कलेक्टर दीपक सक्सेना ने ईई आरईएस व जनपदों के सीईओ से प्रधानमंत्री आवास, शासकीय भवन एवं सड़क और व्यक्तिगत शौचालय निर्माण के लिए रेत की आवश्यकता के बारे में जानकारी ली। उन्होंने कहा कि इन निर्माण कार्यों के लिए रेत के अवैध भंडारण में से रेत उपलब्ध कराई जायेगी। इसके लिए कलेक्टर ने संबंधित ग्राम पंचायतों के लिए आवश्यक रेत का चार्ट तैयार करने के निर्देश ईई आरईएस को दिये। उन्होंने कहा कि ग्राम पंचायतों के लिए आवश्यक रेत नियत समयावधि में उठाना होगी।
(15 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
जूनजुलाई 2019अगस्त
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
24252627282930
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
2930311234

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer