समाचार
|| किसान भाईयों को अल्पवर्षा की वर्तमान स्थिति में सम सामयिक सलाह || बीस वर्ष की सेवा या पचास वर्ष की आयु पूरी कर चुके, अक्षम कर्मचारियों की अनिवार्य सेवानिवृत्ति के प्रस्ताव भेजें || स्वतंत्रता दिवस की तैयारियों को लेकर बैठक संपन्न || संभागायुक्त ने महिला उद्यमियों के लिए स्वीप आयोजन की तैयारियों की समीक्षा की || पत्रकारिता विश्वविद्यालय द्वारा पाठ्यक्रमों के उन्नयन के प्रयास सराहनीय - मंत्री श्री शर्मा || राजनैतिक मामलों की मंत्रि-परिषद समिति पुनर्गठित || जिले में 267 मि.मी. औसत वर्षा रिकार्ड || अशासकीय व्यक्तियों को शासकीय आवास आवंटन की समीक्षा होगी || बच्चों के लिए खून की व्यवस्था करने कलेक्टर ने ली सामाजिक संस्थाओं की बैठक || सभी विभागाध्यक्ष एवं जिला कार्यालय में ई-ऑफिस कार्य-प्रणाली क्रियान्वयन के निर्देश
अन्य ख़बरें
दस्तक अभियान में लापरवाही पर 18 एएनएम व एक सुपरवाईजर की रूकेगी दो- दो वेतनवृद्धि : समीक्षा के दौरान कलेक्टर के निर्देश
अभियान में प्रगति लाने के कड़े निर्देश - जिले में 20 जुलाई तक चलेगा दस्तक अभियान
नरसिंहपुर | 09-जुलाई-2019
 
   
    पांच वर्ष तक की आयु के बच्चों के बेहतर स्वास्थ्य, कुपोषण नियंत्रण, टीकाकरण, टेकहोम राशन आदि के लिये घर-घर दस्तक देने के लिये प्रदेशव्यापी दस्तक अभियान जिले में 10 जून से चलाया जा रहा है। यह अभियान जिले में 20 जुलाई तक चलाया जायेगा। कलेक्टर दीपक सक्सेना ने जिले में दस्तक अभियान के संचालन की समीक्षा मंगलवार को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में की। कलेक्टर ने जिले में दस्तक अभियान की अब तक की प्रगति पर गहरी नाराजगी जताई। कलेक्टर ने अभियान के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए तेजी से कार्य करके प्रगति लाने के कड़े निर्देश स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों और मैदानी अमले को दिये। लापरवाही पाये जाने व असंतोषजनक कार्य के लिए समीक्षा के दौरान कलेक्टर ने 18 एएनएम और एक सुपरवाईजर की दो- दो वेतनवृद्धि असंचयी प्रभाव से रोकने के निर्देश मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को दिये। ब्लाक चांवरपाठा की 5, गोटेगांव की तीन, नरसिंहपुर की दो, सांईखेड़ा की दो एवं करेली की 6 एएनएम के साथ- साथ सांईखेड़ा के एक सुपरवाईजर की वेतनवृद्धि रूकेंगी। इस संबंध में कलेक्टर ने जिले के सभी ब्लाक मेडिकल ऑफिसरों से जानकारी प्राप्त की और आवश्यक निर्देश दिये। संबंधित बीएमओ से प्राप्त जानकारी के आधार पर उक्‍त कार्रवाई की गई।

         साथ ही कलेक्टर ने निर्देश दिये कि स्वास्थ्य विभाग का ऐसा अमला जो अक्षम है अथवा अक्षमता के साथ कार्य करते हैं, उन्हें हटाये जाने के लिए 20 वर्ष की सेवा अथवा 50 वर्ष की उम्र पूरी करने वालों के प्रस्ताव सीईओ जिला पंचायत को समीक्षा के लिए प्रस्तुत किये जायें, ताकि अयोग्य पाये जाने पर संबंधित की सेवायें समाप्त करने का निर्णय लिया जा सके।

         कलेक्टर ने जिन 18 एएनएम की दो- दो वेतनवृद्धि रोकने के निर्देश दिये हैं, उनमें ब्लाक करेली के अंतर्गत उप स्वास्थ्य केन्द्र रीछई की शशि साहू, बिछुआ की अनुराधा सोनी, रांकई पिपरिया की सुधा साहू, निवारी की भगवती गढ़ेवाल, अर्बन ऐरिया की मीरा चौधरी एवं सुआतला की पुष्पलता चौधरी, ब्लाक सांईखेड़ा के अंतर्गत डुंगरिया की शांति यादव एवं पलोहा की बैजंती चौकसे, ब्लाक नरसिंहपुर के अंतर्गत डुडवारा की मंजू जाट एवं ऊसरी की लता ऊमरे, ब्लाक गोटेगांव के अंतर्गत मगरधा की भागवती किंकर व रमाकांता पटैरिया एवं मवई पिपरिया की नीतू झारिया और ब्लाक चांवरपाठा के अंतर्गत भौरझिर की पार्वती केवट, गरहा की मनीषा चौरसिया, कौंड़िया की लक्ष्मी गुप्ता, तेंदूखेड़ा की मीना साहू एवं टेकापार की सुनीता श्रीवास्तव के नाम शामिल हैं। इसी तरह विकासखंड सांईखेड़ा के सुपरवाईजर एसएस साहू की भी दो वेतनवृद्धि रोकने के निर्देश दिये गये हैं।

         बैठक में कलेक्टर ने कहा कि जरूरतमंदों को अच्छी स्वास्थ्य सेवायें आसानी से मिलना चाहिये। लोगों को बेहतर से बेहतर स्वास्थ्य सेवायें मिले, इसके लिए स्वास्थ्य विभाग का अमला सक्रियता एवं संवेदनशीलता से कार्य करे। जिला एवं विकासखंड स्तर पर दस्तक अभियान की लगातार मॉनीटरिंग की जाये, इसकी बारीकी से समीक्षा करें। अभियान की सफलता के लिए सभी मिलकर बेहतर समन्वय से कार्य करें। बीएमओ और बीपीएम दस्तक अभियान की प्रगति की निरंतर समीक्षा करें। यह देखें कि कहां कमी रह गई है, वहां सुधार लायें। दस्तक अभियान की अगली बैठक 12 जुलाई को शाम 5 बजे कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में होगी। इस बैठक की समीक्षा के दौरान यदि स्थिति में सुधार नहीं पाया गया, तो अब संबंधित सुपरवाईजर के विरूद्ध कार्रवाई की जायेगी।

         बैठक में कलेक्टर ने सीएम हेल्पलाइन के लंबित प्रकरणों का निराकरण गंभीरतापूर्वक तत्परता से करने पर जोर दिया।

         बैठक में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी केके भार्गव, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. अनीता अग्रवाल, डॉ. एआर मरावी, डॉ. एलके वायवार, सभी बीएमओ, बीपीएम, बीईई, सुरपवाईजर और अन्य अधिकारी मौजूद थे।
(14 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
जूनजुलाई 2019अगस्त
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
24252627282930
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
2930311234

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer