समाचार
|| पीड़ित परिजन को सहायता राशि वितरित || समाज और सरकारी स्कूलों के बीच की दूरी को कम करना जरूरी - श्री बहुगुणा || शिक्षा के उजाले से ही जीवन में आ सकती है रोशनी – कलेक्टर || इन्दौर संभागायुक्त श्री आकाश त्रिपाठी ने जल संरक्षण संरचना से पानी रोकने के प्रयास की प्रशंसा की || संभागायुक्त श्री आकाश त्रिपाठी ने आजीविका समूह की महिलाओं से चर्चा की || संभागायुक्त श्री आकाश त्रिपाठी ने पौधारोपण कर प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना के कार्य का किया अवलोकन || इन्दौर संभागायुक्त श्री आकाश त्रिपाठी ने ग्राम खामट में उन्नत पद्धति से मक्का फसल लगाने वाले किसान से की चर्चा || इन्दौर संभागायुक्त श्री आकाश त्रिपाठी ने प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना के तहत स्टॉप डेम पर जल संरक्षण कार्य का किया अवलोकन || आनंदक सम्मेलन हेतु पंजीयन जारी-आयोजन अब 28 जुलाई को || जिला विकास समन्वय एवं अनुश्रवण कमेटी (दिशा) की बैठक आज
अन्य ख़बरें
जिला अस्पतालों में भी शुरू करें पंचकर्म - आयुष मंत्री डॉ. साधौ
-
आगर-मालवा | 12-जुलाई-2019
 
    चिकित्सा शिक्षा एवं आयुष मंत्री डॉ. विजयलक्ष्मी साधौ ने भोपाल के पं. खुशीलाल शर्मा शासकीय आयुर्वेद महाविद्यालय और संस्थान में पंचकर्म और शिरोधारा की अत्यधिक बढ़ती माँग को देखते हुए इसे प्रदेश के जिला अस्पतालों में भी शुरू करने को कहा है। संस्थान में इस वर्ष अब तक 73 हजार 223 मरीज एवं लोग इसका फायदा उठा चुके हैं। अगले 2 माह के लिये लम्बी प्रतीक्षा-सूची है। आयुष मंत्री डॉ. साधौ ने गत दिवस पं. खुशीलाल शर्मा शासकीय (स्वशासी) आयुर्वेद महाविद्यालय एवं संस्थान की सामान्य परिषद की बैठक में यह बात कही।
प्रदेश में विकसित करें मेडिकल टूरिज्म
    मंत्री डॉ. साधौ ने कहा कि संस्थान में जारी पंचकर्म और शिरोधारा में लोगों की गहन रुचि को देखते हुए प्रदेश में मेडिकल टूरिज्म विकसित करें। उन्होंने कहा कि बड़े-बड़े होटलों में अप्रशिक्षित लोगों द्वारा हजारों रुपये में एक बार पंचकर्म या शिरोधारा कराया जाता है, जबकि पं. खुशीलाल आयुर्वेद संस्थान में यह नाम-मात्र की राशि में होता है। यहाँ प्रशिक्षित पैरामेडिकल स्टॉफ वैज्ञानिक तरीके से पंचकर्म कराता है। गरीबी रेखा के नीचे जीवन-यापन करने वाले मरीजों के लिये रजिस्ट्रेशन निरूशुल्क है।
पं. खुशीलाल आयुर्वेद महाविद्यालय में बढ़ेंगी सीटें
    मंत्री डॉ. साधौ ने संस्थान को अकादमिक वर्ष 2020-21 में 100 सीटों वाला बनाने के लिये केन्द्र सरकार को प्रस्ताव भेजने के निर्देश दिये। अभी संस्थान में 60 सीटें हैं। बैठक में बताया गया कि संस्थान के अस्पताल के 90 प्रतिशत बिस्तर मरीजों से भरे रहते हैं। इनमें पड़ोसी राज्यों से आने वाले मरीज भी शामिल हैं।
कन्या छात्रावास का निर्माण अंतिम चरण में
    बैठक में बताया गया कि संस्थान में निर्माणाधीन 272 सीटर कन्या छात्रावास में से 216 सीटर भवन का निर्माण अंतिम चरण में है। मंत्री डॉ. साधौ ने इसे शीघ्र पूर्ण करने के निर्देश दिये। संस्थान में 50 शैय्या-युक्त सुपर स्पेशियलिटी पंचकर्म चिकित्सालय के लिये 3 करोड़ 57 लाख रुपये की राशि मिल चुकी है। डॉ. साधौ ने बालक छात्रावास के लिये भी प्रस्ताव भेजने के निर्देश दिये।
    अपर मुख्य सचिव, आयुष श्रीमती शिखा दुबे, आयुक्त श्री संजीव कुमार झा, प्रधानाचार्य एवं मुख्य कार्यपालन अधिकारी डॉ. उमेश शुक्ला बैठक में मौजूद थे।
(8 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
जूनजुलाई 2019अगस्त
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
24252627282930
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
2930311234

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer