समाचार
|| किसानों और ग्राम वासियों को निर्बाध रूप से बिजली उपलब्ध कराना सरकार का लक्ष्य || फिट इंडिया मूमेंट पर आधारित फिट इंडिया सायकल रैली का सफलतम आयोजन || 19 जनवरी से प्रारंभ होगा तीन दिवसीय राष्ट्रीय पल्स पोलियो अभियान || बम्हनी केन्द्र में व्यापारी का 91 कट्टी धान पकड़ा गया || राष्ट्रीय पल्स पोलियो अभियान 19 जनवरी से || जिला स्तरीय समन्वयक समिति की बैठक 23 जनवरी को || प्रधानमंत्री की परीक्षा पर चर्चा में शामिल होंगे रायसेन के दो छात्र || बैंकिंग एवं वित्तीय साक्षरता शिविर आयोजित, छात्रों को दी बैंकिंग कार्यप्रणाली की जानकारी || प्रदेश सरकार ने जनता से किए 365 वचन एक साल में किए पूरे- प्रभारी मंत्री || गणतंत्र दिवस पर पुरस्कार हेतु समाज सेवा के क्षेत्र में कार्य करने वाली संस्थाओं एवं कार्यकर्ताओं से 20 तक प्रविष्टियाँ आमंत्रित
अन्य ख़बरें
2022 तक सभी आवासहीनों को शतप्रतिशत आवास उपलब्ध हो जाये
लगने वाले मेलों, बड़े मन्दिरों, सार्वजनिक स्थानों, हाट बाजारों में नई तकनीकी के साथ बेहतर मॉडल पर शौचालय बनाये जाये, 138.16 करोड़ रूपये की लागत की सीवर परियोजना शीघ्र पूर्ण की जाये, पी.एम. किसान योजना अभियान चलाकर योजना को अन्तिम रूप दें, सांसद आदर्श ग्राम योजना में चयनित ग्रामों में विकास कार्यों के साथ आर्थिक उत्थान के लिये स्व-सहायता समूह बनाये जाये, केन्द्रीय मंत्री एवं क्षेत्रीय सांसद श्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने दिशा कमेटी की बैठक में अधिकारियों को दिये निर्देश
मुरैना | 05-जनवरी-2020
    केन्द्रीय कृषि तथा किसान कल्याण एवं पंचायती राज विभाग के मंत्री एवं क्षेत्रीय सांसद श्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने नगर निगम सहित पंचायत एवं ग्रामीण विकास से जुड़े सभी अधिकारियों से कहा है कि 2022 तक सभी आवास हीन परिवारों को शत्प्र्रतिशत आवास उपलब्घ हो। इसके लिये युद्ध स्तर पर कार्य करने की जरूरत है। इस योजना में घर-घर जाकर सर्वे हो और योजना में पात्र पाये जाने वाले परिवार के मुखिया की सूची ग्राम पंचायत, जनपद पंचायत स्तर पर सूचना पटल पर चस्पा की जाये ताकि सभी पात्र लोगों को आवास मिलने की जानकारी मिल जाये। उन्होंने भारत स्वच्छता मिशन की समीक्षा के दौरान कहा कि यह कार्य नगर पालिका अपने सिर पर न लें।  इसके लिये मजबूत एवं बेहतर कार्य करने वाली कम्पनी का चयन किया जाये। उन्होंने कहा कि स्वच्छता एक दिन का काम नहीं है। यह निरन्तर जारी रहने वाला काम है नगर निगम इस कार्य को नहीं कर पायेगा, जब तक कम्पनी नियुक्त नहीं हो जाती तब नगर निगम अपने स्तर से काम करें। उन्होंने कहा कि लगने वाले मेलों, बडे़ मन्दिरों, सार्वजनिक, स्थानों, हाट बाजारों में नई तकनीकी के साथ बेहतर मॉडल में शौचालय बनाये जाये। इन शौचालयों के रख-रखाव के लिये उसी गांव के व्यक्ति को रखा जाये ताकि उसे रोजगार भी मिल सके और शौचालयों की साफ-सफाई भी होती रहे। उन्होंने शहर में 138.16 करोड़ रूपये की लागत से चल रही सीवर परियोजना कार्य को शीघ्र पूर्ण करने के निर्देश नगर निगम आयुक्त को दिये। उन्होंने प्रधानमंत्री किसान योजना को नामान्तरण अभियान चलाकर योजना को अन्तिम रूप देने के निर्देश दिये।
    केन्द्रीय मंत्री एवं क्षेत्रीय सांसद श्री नरेन्द्र सिंह तोमर रविवार को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित जिला विकास समन्वय एवं अनुश्रवण कमेटी (दिशा) की अध्यक्षता कर सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने सांसद आदर्श ग्राम योजना में चयनित 3 ग्रामों में विकास कार्यों के साथ-साथ गरीबों के आर्थिक उत्थान के लिये गरीब महिलाओं के स्व-सहायता समूह बनाने, ग्रामीणों को विकास एवं उत्थान की मुख्य धारा में जोड़ने के लिये जन जाग्रति अभियान चलाने पर जोर दिया।
    बैठक में महापौर श्री अशोक अर्गल, जिला पंचायत की अध्यक्ष श्रीमती गीता हर्षाना, दिमनी विधायक श्री गिर्राज डण्डोतिया, कलेक्टर श्रीमती प्रियंका दास, जिला पंचायत सीईओ श्री तरूण भटनागर, नगर निगम आयुक्त श्री अमरसत्य गुप्ता सहित समिति के सदस्य गण एवं विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद थे।
    सांसद श्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने प्रधानमंत्री शहरी एवं ग्रामीण आवास योजना की समीक्षा करते हुये कहा कि पूर्व में स्वीकृत सभी आवास फरवरी और मई 2020 में पूर्ण हो जाये। जहां तीसरी किस्त देने की बात है, इसके लिये बैंकर्स को डी.एन.सी.सी. की बैठक बुलाकर हिदायत दे कि आवास योजना में शतप्रतिशत लोगों को तीसरी किस्त जारी हो जाये।
    केन्द्रीय मंत्री श्री तोमर ने जिला पंचायत सीईओ और आयुक्त नगर निगम को निर्देश दिये कि आवास योजना में पात्र लोगों की स्थिति 0 करना है। उन्होंने कहा कि ऐसे कितने प्रकार के लोग रह गये है, जिनके पास जमीन के कागजात नहीं है। ऐसे कितने लोग है, जिन्होंने प्रथम किस्त प्राप्त करके मकान का निर्माण शुरू नहीं किया है, ऐसे कितने भूमिहीन लोग है, ऐसे कितने पुराने मकान, झुगी झोपड़ी में रहते है। इन सभी के लिये हम क्या कर सकते है। इसकी विधायकों की बैठक कलेक्टर कार्ययोजना तैयार करें। उन्होंने कहा कि हमें 2022 तक सभी पात्र लोगों को शतप्रतिशत आवास उपलब्ध कराना है। इसके लिये पूरा होमवर्क कर रोड़ मैप तैयार करके रखें। उन्होंने कहा कि शहरी क्षेत्र में पूर्ण हुये 240 आवासों को 26 जनवरी गणतंत्र दिवस पर 240 परिवारों को गृह प्रवेश कराया जाये।
    समीक्षा के दौरान बताया गया कि वर्ष 2016-17 में स्वीकृत 7790 आवासों में से 7466 आवास पूर्ण हो चुके है। वर्ष 2017-18 में जिले में 1056 स्वीकृत आवासों में से 1004 और वर्ष 2018-19 में स्वीकृत 4274 आवासों में से 4014 ग्रामीण आवास पूर्ण हो चुके है। शहरी क्षेत्र में 1416 आवासों का निर्माण कार्य 75 प्रतिशत पूर्ण हो गया है, इनमें 1116 ई.डब्ल्यू.एस. 240 एलआईजी और 60 एमआईजी आवास है।
    प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना की समीक्षा के दौरान केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि पी.डब्ल्यू.डी., आरईएस, पी.एम.एस.वाय ऐसी सड़कों को चिन्हित करें जिनका कार्य मनरेगा से कराया जाये। आगामी बजट में तालाव और सड़कों के कार्यों का प्रस्ताव बनायें। ताकि मनरेगा के बजट में प्रावधान करके मैनडेज बढ़ाये जा सके। 
    मुरैना शहर में चल रहे 138 करोड़ 16 लाख रूपये की लागत से सीवरेज परियोजना को  शीघ्र पूर्ण करने के निर्देश देते हुये कहा कि एस.टी.पी. का काम फरवरी 2020 माह में पूर्ण कर लिये जायें। ब्राच लाइन का काम पूरा होते ही सभी नागरिकों को कनेक्शन लेने के लिये पत्र लिखा जाये, इसके पश्चात सभी वार्डों में कनेक्शन दिलाने के लिये शिविर आयोजित कर कनेक्शन दिलायें। कनेक्शन नहीं लेने वाले लोगों को कनेक्शन लेने के लिये वाध्य दिया जाये। कलेक्टर श्रीमती प्रियंका दास ने बताया कि सीवर परियोजना का कार्य 86 प्रतिशत पूर्ण हो रहा है। 142 किलोमीटर क्षेत्र में सीवर लाइन विछाई गई है।
    अमृत योजना में कार्यों की समीक्षा के दौरान कलेक्टर ने अवगत कराया कि चम्बल कॉलोनी पार्क तथा मयूरवन कॉलोनी पार्क के विकास कार्यों के लिये 2 करोड़ रूपये स्वीकृत किये गये है। समीक्षा के दौरान केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि नाला नम्बर एक का कार्य भी युद्ध स्तर पर चलाकर पूर्ण करें। जहां से अतिक्रमण हटाये उसी दिन पर वहां कार्य पूर्ण हो जाये। इस नाले पर 21 करोड़ 12 लाख रूपये स्वीकृत किये गये है। योजना के तहत 2100 मीटर नाले को भूमिगत किया जा चुका है।
    जिले के लिये तैयार की जा रही 321.61 करोड़ रूपये की चम्बल पेयजल योजना की समीक्षा के दौरान बताया कि योजना के टेण्डर होना शेष है। वर्तमान में सर्वे कार्य किया जा रहा है। योजना के तहत चम्बल नदी पर 95 एम.एल.डी इन्टेक बैल, 71 एम.एल.डी का जलशोधन संयंत्र, कुल 15 वितरण जौन, 11 नवीन टंकियो का निर्माण किया जायेगा। इन टंकियो पर पानी पहुंचाने के लिये 502 किसी लम्बी पाइप ने नेटवर्क तैयार किया है।
    उज्जवला योजना की समीक्षा करते हुये केन्द्रीय मंत्री श्री तोमर ने कहा कि जिन गैस एंजेन्सियों ने लोगों के कनेक्शन बन्द कर दिये है, उनमें लायसेन्स निलम्बन की कार्यवाही की जाये। लोगों को इस योजना का लाभ लेने के लिये प्रेरित करें तथा शेष रह गये परिवारों को भी उज्जवला योजना के गैस कनेक्शन दिलाये जाये।
    प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना की जानकारी देते हुये कलेक्टर श्रीमती प्रियंका दास ने कहा कि जिले में 3 लाख 25 हजार 568 खातों में से 3 लाख 8 हजार 156 खाते अपलोड कर 95 प्रतिशत से अधिक लक्ष्य की पूर्ति की गई। इन खातों में कुल 6 लाख 44 हजार 952 कृषक परिवारों को अपलोड किया गया है।
    सांसद आदर्श ग्राम योजना की समीक्षा के दौरान कलेक्टर ने बताया कि चयनित ग्राम पढ़ावली में प्रथम चरण में 3 करोड़ 81 लाख 75 हजार, कुल्हौली ग्राम में द्वितीय चरण में 9 करोड़ 28 लाख 99 हजार और चयनित ग्राम पिपरसेवा के चतुर्थ चरण में 7 करोड़ 15 लाख 40 हजार रूपये के विकास कार्य प्रस्तावित किये। उन्होंने मौके पर विभागवार प्रस्तावित कार्यों का भी उल्लेख किया।
    बैठक को महापौर श्री अशोक अर्गल, दिमनी विधायक श्री गिर्राज डण्डोतिया सहित अन्य सदस्यों एवं अधिकारियों ने भी सम्बोधित किया।
 
(14 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
दिसम्बरजनवरी 2020फरवरी
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
303112345
6789101112
13141516171819
20212223242526
272829303112
3456789

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer