समाचार
|| जिले में हर्षोल्लास से मनाया गया गणतंत्र दिवस || कलेक्टर कार्यालय में ध्वजारोहण || ग्रामीण अंचलों में छुपी प्रतिभाओं को अवसर देने का काम कर रही है प्रदेश सरकार- स्कूल शिक्षा मंत्री || प्रदेश में शिक्षा को गुणवत्तापूर्ण बनाने किए जा रहे हैं नवाचार- स्कूल शिक्षा मंत्री || कलेक्टर श्री बी. कार्तिकेयन ने केन्द्रीय विद्यालय डिण्डौरी में किया ध्वजारोहण || कलेक्टर श्री बी. कार्तिकेयन ने कलेक्टर कार्यालय मे किया ध्वजारोहण || ग्राम पंचायतों के पंच एवं सरपंच पदों की आरक्षण कार्यवाही आज || स्कूलो में विशेष भोज का आयोजन हुआ || विभिन्न कार्यालय भवनों पर तिरंगा ध्वज फहराया गया || एनजीओ मेस का लोकार्पण
अन्य ख़बरें
नई शिक्षा नीति-2020 पर एक दिवसीय कार्यशाला संपन्‍न
-
गुना | 10-जनवरी-2020
 
   
    हिन्‍दुपत इंस्‍टीट्यूट ऑफ टीचर ट्रेनिंग राघौगढ के सभागार में नई शिक्षा नीति-2020 पर एक राष्‍ट्रीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। जिसमें प्रदेश के नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्री जयवर्धन सिंह मुख्‍य अतिथि के रूप में शामिल हुए। कार्यशाला में शासकीय हाईस्‍कूल एवं उच्‍चतर माध्‍यमिक विद्यालय के प्राचार्यगणों ने प्रतिभागिता की।
    इस अवसर पर मुख्‍य अतिथि श्री सिंह द्वारा नवीन शिक्षा नीति को बेहतर बनाने के लिये सभी विद्यालय प्राचार्यों से सुझाव देने कहा गया। जिसे उन्‍होंने शासन तक पहुंचाने का आश्वासन दिया। उन्‍होंने कहा कि बच्‍चों के बौद्धिक क्षमता विकास के लिए शतरंज जैसे खेल भी सिखाए जाएं। इससे बच्‍चों के सोचने, समझने ओर हल करने की शक्ति बढती है। उन्‍होंने राघौगढ विधानसभा क्षेत्र के समस्‍त शासकीय हायर सेकण्‍डरी एवं हाईस्‍कूल विद्यालयों में अपनी निधिसे शतरंज खेल सामग्री उपलब्‍ध कराने की बात भी कही।
    कार्यशाला में जिला शिक्षा अधिकारी गुना श्री आर.एल. उपाध्याय द्वारा उपस्थित कार्यशाला के प्रतिभागियों को नवीन शिक्षा नीति 2020 के अंतर्गत सम्मिलित किये गये अध्ययतन कार्यक्रमों एवं संपूर्ण व्यवहारिक प्रक्रिया को बताते हुये इसे राष्ट्र एवं समाज के लिये हितकारी बताया। कार्यशाला में प्राध्यापक शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय राघौगढ़  डॉ. पी. के. झा ने अपने वक्तव्य में नवीन शिक्षा नीति की मूल संकल्पना के बारे में विस्तृत विवेचना की और समाज, शिक्षक एवं महाविद्यालयों के समन्वय पूर्वक योगदान पर प्रकाश डाला।  
    इस अवसर पर प्राचार्य हिन्दुपत इंस्टीट्यूट ऑफ टीचर ट्रेंनिग राघौगढ़ प्रो.विनोद सिंह भदौरिया ने कार्यशाला की आवश्यकता एवं कार्यशाला में सहभागिता की प्रक्रिया को प्रस्तुत करते हुये भारत की नवीनतम शिक्षा नीति के योगदान पर विचार व्यक्त करते हुये बालक के संपूर्ण विकास को समझाया। तकनीकी सत्र में डॉ. अरूण कुमार तिवारी एवं डॉ. पी. के. झा ने नवीन शिक्षा नीति के तकनीकी पहलुओं को स्पष्ट किया।
    कार्यशाला सत्र के प्रारंभ में प्रदेश के नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्री सिंह म.प्र. शासन के मुख्‍यातिथ्‍य में दीप प्रज्‍जवलन कर सत्र का शुभारंभ किया गया। इस अवसर पर संस्‍था के विधार्थियों द्वारा सरस्‍वती वंदना की प्रस्‍तुति दी गई।
     इस अवसर पर देश के विभिन्न प्रदेशों के शासकीय एवं अशासकीय विद्यालयों के प्राचार्य उपस्थित रहें। कार्यक्रम का संचालन डॉ. आदित्य राव एवं डॉ. प्रशांत जैन द्वारा किया गया। कार्यक्रम के समापन संध्या पर डॉ. प्रदीप अग्रवाल ने सभी प्रतिभागियों एवं अतिथियों का आभार व्यक्त किया।
(16 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
दिसम्बरजनवरी 2020फरवरी
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
303112345
6789101112
13141516171819
20212223242526
272829303112
3456789

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer