समाचार
|| रोजगार की जानकारी के लिए Jobs in MP पोर्टल || आंगनवाड़ी के माध्यम से दी जा रही सेवाओ के संबंध में शिकायत एवं सुझाव हेतु व्हाट्स एप नम्बर जारी || जिला प्रशासन हलमा में सहयोग करेगा || संगीत सभी धर्म, जाति के व्यक्तियों के लिये है- श्री घनघोरिया || नर्मदा गौ-कुंभ में हर दिन होंगे सांस्कृतिक कार्यक्रम || जनगणना-2021 के पहले चरण के तहत मकानों की गणना कार्य का प्रशिक्षण प्रारंभ || राष्ट्रीय मीन्स कम मेरिट परीक्षा का रिजल्ट घोषित || ध्वनि विस्तारक यंत्रों के उपयोग पर लगाये गये प्रतिबंध का कड़ाई से पालन कराने कलेक्टर ने दिये अधिकारियों को निर्देश || हाई स्कूल और हायर सेकेण्डरी परीक्षाओं के मद्देनजर कलेक्टर ने जारी किया प्रतिबंधात्मक आदेश || कलेक्टर्स को निर्देश राजस्व प्रकरणों के निराकरण में संभाग को सिरमौर बनाएं - कमिश्नर श्रीमती कल्पना श्रीवास्तव
अन्य ख़बरें
ई-लाईब्रेरी से दिव्यांग हो रहे हैं लाभान्वित "खुशियों की दास्तां"
ऑडियो फॉर्मेट में हैं ढाई लाख पुस्तकें, दिव्यांग अब सुनकर पढ़ सकेंगे किताबें
टीकमगढ़ | 22-जनवरी-2020
 
    जो लोग आंखों से देख नहीं सकते और उनमें पढ़ने की ललक है, ऐसे लोगों के लिये जिला प्रशासन ने दिव्यांग केन्द्र उड़ान में केन्द्र सरकार के सुगम्य पुस्तकालय के सहयोग से ई-लाइब्रेरी शुरू की है। इस पुस्तकालय में लगभग ढाई लाख पुस्तकें ऑडियों फॉमेंटम में उपलब्ध हैं। दृष्टिबाधित दिव्यांग अब इन पुस्तकों को सुनकर लाभ उठ सकेंगे।
    कलेक्टर हर्षिका सिंह की पहल पर यहां पर ऑडियो ई-लाइब्रेरी की शुरूआत की गई है। यहां पर तीन कम्प्यूटर सेट एवं हेड फोन की व्यवस्था की गई है। जहां केन्द्र सरकार द्वारा दृष्टि-बाधित दिव्यांगजनों के पढ़ने की सुविधा की दृष्टि से सुगम्यय पुस्तकालय का संचालन किया जा रहा है। इसमें रजिस्टेªशन कराने के बाद ऑनलाइन ही इसका लाभ मिलने लगता है। इस पुस्कालय में विभिन्न विषयों के साथ ही महापुरूषों की पुस्तकें आडियो फॉर्मेट में हैं। इस लाइब्रेरी से दृष्टि-बाधित दिव्यांगजनों का पढ़ाई का भी सपना पूरा हो रहा है।
प्रदेश का तीसरा पुस्तकालय
    यह पुस्तकालय प्रदेश का तीसरा पुस्तकालय होगा। प्रदेश का सबसे पहला पुस्तकालय जबलपुर में प्रारंभ कराया गया था, उसके काफी अच्छे परिणाम सामने आये थे। हाल ही में दूसरा पुस्तकालय भोपाल में भी शुरू हुआ है और टीकमगढ़ का यह तीसरा पुस्तकालय है। जल्द ही यहां पर दिव्यांग बच्चों को प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी भी कराई जायेगी। साथ ही बच्चों को कम्प्यूटर की ट्रेनिंग दी जायेगी।
सुनकर कर सकते है पढ़ाई पूरी
    इस पुस्तकालय से अब ऐसे दृष्टिबाधित बच्चों को लाभ होगा, जिनके मन में पढ़ने की चाहत है, लेकिन अब तक सुविधा नहीं होने से पढ़ाई नहीं कर पाते थे। यह बच्चे अब इस पुस्तकालय में सुनकर अपनी पढ़ाई पुरी कर सकेंगे। उड़ान केन्द्र के सीनियर फिजियोथेरेपिस्ट डॉ. अभिषेक बुंदेला ने बताया कि यहां पर दृष्टिबाधित बच्चों की सुविधा के लिये ब्रेल की-पैड की भी व्यवस्था की जा रही है। वर्तमान में यह बच्चे ऑडियो कमाण्ड से अपने मन की पुस्तकों को चुनकर पढ़ेंगे। पुस्तकालय में पढ़ाइ करने आ रही दृष्टिबाधित आकांक्षा शर्मा का कहना है कि यह पुस्तकालय बहुत अच्छा है। मैने कभी सोचा भी नही था कि मुझे ऐसी सुविधा मिलेगी और अपने मन की पुस्तकें पढ़ सकूंगी। उसने बताया कि मैं वर्तमान में यहां से बीएड के लिये तैयारी कर रही हूं।
(27 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
जनवरीफरवरी 2020मार्च
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
272829303112
3456789
10111213141516
17181920212223
2425262728291
2345678

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer