समाचार
|| 50 प्रतिशत दुकानें रोटेशन के आधार पर बारी बारी से खुलेंगी || नेहरू युवा केन्द्र, वालंटियर वॉल पेन्टिंग व नारा लेखन से कर रहे लोगो को जागरूक || बाल विकास परियोजना कार्यालय स्थानांतरित || लॉक डाउन की अवधि 07 जून तक रहेगी || लॉकडाउन से तनावग्रस्त बच्चों को सायको सोशल काउंसलिंग की सुविधा मिलेगी || बोर्ड परीक्षाओं में विद्यार्थियों को केन्द्र पर एक घंटे पूर्व उपस्थित होना होगा || क्वारेंटाइन हुए लोगों के लिए मददगार हैं, टोल फ्री नम्बर 18002330175 || गत 24 घंटों में खण्डवा में 5, हरसूद में 1 व खालवा में 4 मि.मी. वर्षा दर्ज || सोमवार को 2 व मंगलवार को 1 कोरोना विजेता अस्पताल से डिस्चार्ज हुए || हेलो ऑगनवाड़ी फोन इन कार्यक्रम आज
अन्य ख़बरें
कारखानों, दुकानों एवं वाणिज्यिक स्थापनाओं में कार्यरत श्रमिक रक्षित उपायों का पालन करें
-
शिवपुरी | 20-मार्च-2020
 
    कारखानों, दुकानों एवं वाणिज्यिक स्थापनाओं के मालिको, नियोजकों, प्रबंधकों से अपील की गई है कि कोरोना वायरस रोग के फैलने की गम्भीर स्थिति को देखते हुए इसे शासन द्वारा महामारी घोषित किया गया है। श्रमिकगण नोवेल कोरोना बायरस के संक्रमक की रोकथाम एवं इससे बचाव हेतु संबंधित नियोजन में सुरक्षा के आवश्यक रक्षित उपायों को अपनायें।
    श्रम पदाधिकारी श्री एस.के.जैन ने बताया कि कारखानों में कार्यरत श्रमिकगणों में नोवेल कोरोना बायरस के संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव हेतु उचित होगा कि श्रमिकगणों के लिये कारखानों में नियमित रूप से दिन में कई बार हाथों को साबुन से धोने की व्यवस्था, सेनिटाईजर की व्यवस्था की जावे।
    कारखानों के श्रमिकों को इससे बचाव व रोकथाम के लिए नियमित रूप से दिन में कई बार हाथों को साबुन, सेनेटाईजर से धोए। बिना हाथ धोए अपने मुँह, ऑंख, नाक व कान को न छुए। संक्रमित सामग्रियों के संपर्क में आने के बाद ऑंख या नाक छूने से बचे। सीधे संपर्क में न आने वाली गतिविधियों का अनुसरण करें। अभिवादन हेतु हाथ मिलाने की जगह नमस्ते करें। इस बीमारी के संबंध में अधिक जानकारी के लिए टोल फ्री नंबर 104 पर संपर्क करें। बीमारी के लक्षण दिखाई देने पर नजदीकी शासकीय चिकित्सालय में सम्पर्क करें। बीमारी के संक्रमण से बचाव हेतु मानक स्तर के मास्क का उपयोग सुनिश्चित किया जावे। जिन कारखानों में महिला श्रमिकों का नियोजन 30 से कम होने पर नियमानुसार क्रेच की व्यवस्था नही है उन कारखानों में नियोजित महिलाओं के 6 वर्ष से कम आयु के बच्चों के लिये बीमारी से बचाव हेतु पृथक से विशेष व्यवस्था की जावे। जिन कारखानों में क्रेच की व्यवस्था की गई है उनमें क्रेच स्थल पर ही साबुन से हाथ धोने की व्यावस्था, सेनेटाईजर की व्यवस्था सुनिश्चित की जावे। जिन कारखानों में मेडिकल ऑफीसर नियुक्त है वह इस संबंध में सतत निगरानी रखें।
(74 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
मईजून 2020जुलाई
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
25262728293031
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
293012345

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer