समाचार
|| बालाघाट में पुल-पुलियाओ के लिये 12 करोड़ से अधिक की राशि स्वीकृत || मास्क न लगाने पर दस व्यक्तियों पर जुर्माना || कलेक्टर ने किया नये बने कण्टेनमेंट जोन का भ्रमण || आवागमन के लिए नहीं होगी पास की जरूरत || ऑनलाइन आवेदन पर फिंगर प्रिंट के स्थान पर ओटीपी की सुविधा मिलेगी-मंत्री श्री पटेल || मत्स्य प्रजनन काल 16 जून से 15 अगस्त तक मत्स्याखेट निषेध || मत्स्य प्रजनन काल 16 जून से 15 अगस्त तक मत्स्याखेट निषेध || हायर सेकण्डरी और हायर सेकण्डरी व्यवसायिक के शेष विषयों की परीक्षा 9 जून से || श्रम-सिद्धि अभियान दे सकता है श्रमिकों को रोजगार के संकट से बड़ी राहत || डीएलसीसी की बैठक 6 जून को
अन्य ख़बरें
कोरोना के संभावित मरीजों के उपचार के लिए व्यापक स्तर पर की जा रही है तैयारी
कलेक्टर ने ली प्रायवेट चिकित्सकों की बैठक
बालाघाट | 01-अप्रैल-2020
    कोरोना वायरस COVID-19 के संक्रमण से बचाव के लिए जिले में हर संभव प्रयास किये जा रहे है। देश एवं प्रदेश में कोरोना संक्रमित मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए जिला प्रशासन द्वारा कोरोना संभावित मरीजों के उपचार के लिए व्यापक स्तर पर तैयारियां प्रारंभ कर दी गई है। इसी कड़ी में आज कलेक्टर श्री दीपक आर्य ने जिले के प्रायवेट चिकित्सकों की बैठक लेकर कोराना महामारी से निपटने के लिए किये जा रहे उपायों पर चर्चा की। बैठक में अपर कलेक्टर श्री राघवेन्द्र सिंह, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ आर सी पनिका, सहायक आयुक्त आदिवासी विकास श्री सुधांशु वर्मा एवं सभी प्रायवेट चिकित्सक उपस्थित थे।
    कलेक्टर श्री आर्य ने बैठक में बताया कि अब तक बालाघाट जिले में एक भी कोरोना संक्रमित मरीज नहीं पाया गया है। लेकिन कोरोना संक्रमित मरीजों के पाये जाने की स्थिति में उनके उपचार के लिए सभी आवश्यक तैयारियां की जा रही है। इसमें शासकीय के साथ ही प्रायवेट चिकित्सकों का भी सहयोग बहुत जरूरी है। जिला प्रशासन भी प्रायवेट चिकित्सकों को हर संभव मदद करेगा। इसके लिए प्रायवेट चिकित्सकों एवं उनके स्टाफ को शीघ्र ही प्रशिक्षण भी दिया जायेगा।
    बैठक में बताया गया कि कोरोना संदिग्ध एवं संभावित मरीजों को आईसोलेशन में रखने के लिए जिला चिकित्सालय बालाघाट में सर्व सुविधा युक्त 24 बेड तैयार किये गये है। संदिग्ध एवं संभावित मरीजों के सेंपल की लैब में पुष्टि होने पर कोरोना वायरस COVID-19 से संक्रमित मरीज को मेडिकल कालेज छिंदवाड़ा में उपचार के लिए भेजा जायेगा। छिंदवाड़ा के मेडिकल कालेज में बेड भर जाने या खाली नहीं मिलने की स्थिति में नगरीय क्षेत्र बालाघाट के आरोग्य एवं जैन अस्पताल को Red (लाल) अस्पताल के रूप में चिन्हित कर उनमें 25-25 बैड क्वेरंटाईन में मरीजों को रखने के लिए तैयार किये गये है। इन दोनों अस्पतालों में अन्य मरीजों का उपचार बंद कर दिया गया है। अग्रवाल एवं मिताली अस्पताल को Yellow (पीले)  अस्पताल के रूप में चिन्हित किया गया है। Red (रेड) अस्पताल के सभी बेड भर जाने पर Yellow (पीले)  अस्पताल के बेड का उपयोग किया जायेगा। इसके अलावा के जिले के शेष सभी अस्पतालों को Green(हरे) अस्पताल के रूप में चिन्हित किया गया है और Yellow (पीले)  अस्पताल भर जाने पर इनका उपयोग किया जायेगा।
    बैठक में बताया गया कि कोरोना संक्रमित मरीजों का उपचार करने वाले चिकित्सक एवं स्टाफ अपने घर नहीं जा सकते है। मरीजों के उपचार के बाद उन्हें क्वेरंटाईन में रहना होता है। ऐसे चिकित्सकों एवं पेरा मेडिकल स्टाफ के क्वेरंटाईन में रहने के लिए होटल मिड डाउन, मल्लिकार्जुन एवं गुलमोहर के कक्षों को अधिग्रहित कर उन्हें क्वेरंटाईन कक्ष के रूप में उपयोग किया जायेगा।
    बैठक में सभी प्रायवेट चिकित्सकों से कहा गया कि वे अपने स्टाफ को काम पर बुलवा लें। उनके स्टाफ को लाक डाउन की स्थिति में रहने एवं भोजन आदि के लिए उत्कृष्ट विद्यालय के पीछे वाले अन्य पिछड़ा वर्ग पोस्ट मेट्रिक बालक छात्रावास, आकाशवाणी के पास स्थित अन्य पिछड़ा वर्ग पोस्ट मेट्रिक कन्या छात्रावास, अनुसूचित जाति पोस्ट मेट्रिक कन्या छात्रावास, अनुसूचित जनजाति पोस्ट मेट्रिक कन्या छात्रावास एवं गोंगलई स्थित बालक छात्रावास में व्यवस्था रहेगी।
    बैठक में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ आर सी पनिका ने बताया कि कोरोना संक्रमित मरीजों का उपचार करने वाले चिकित्सकों एवं पैरा मेडिकल स्टाफ के लिए एक हजार पीपीई (पर्सनल प्रोटेक्शन इक्विपमेंट) किट का इंतजाम भी किया गया है। जिला चिकित्सालय एवं प्रायवेट अस्पतालों के मिलाकर 16 वेंटिलेटर भी तैयार रखे गये है।
 
(63 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
मईजून 2020जुलाई
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
25262728293031
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
293012345

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer