समाचार
|| किल कोरोना अभियान के तहत् अब तक 69 हजार 130 परिवारों का किया गया सर्वे || गंभीर कुपोषित बच्चों में कोरोना वायरस के संक्रमण के नियंत्रण एवं बचाव के दिशा-निर्देश जारी || स्वस्थ होकर घर पहुँचा कोरोना मरीज || पैरा-मेडिकल स्टाफ 24 घंटे वन स्टॉप सेंटर पर सेवाएँ देगें || पीसा में सम्मिलित होंगे मध्यप्रदेश के विद्यार्थी अन्य राज्यों ने भी सराहा मध्यप्रदेश की शैक्षिक गतिविधियों को || अमानक पाये गये बीज का क्रय-विक्रय भण्डारण एवं परिवहन प्रतिबंधित || पथ व्यवसाइयों के कल्याण के लिये योजना शुरू || बरसात में होने वाली संक्रामक बीमारी से बचने एडवाईजरी जारी || 10 पंचायतों के लिए बनेगा आइडियल इंटीग्रेटेड ट्राइवल डेव्हलपमेंट प्लान || वार्डों के आरक्षण की कार्यवाही जल्द करने के निर्देश
अन्य ख़बरें
अन्य प्रांतों से पैदल चलकर आये श्रमिकों को दें सभी सुविधाएँ
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने दिये कलेक्टर्स को निर्देश
बड़वानी | 10-मई-2020
    मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने मध्यप्रदेश होकर अन्य राज्यों में पैदल जा रहे श्रमिकों को अधिक से अधिक सुविधाएँ देने के निर्देश  जिला कलेक्टर्स को प्रदान किये। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने वीडियो कान्फ्रेंस द्वारा अन्य प्रांतों से प्रदेश के जिलों में पहुँचे पदयात्री श्रमिकों के लिये भोजन और रहवास की व्यवस्था कर आगे की यात्रा के लिये उन्हें वाहन उपलब्ध करवाने के निर्देश दिये। राज्य सरकार द्वारा इन श्रमिकों को उनके मूल प्रांतों तक सुविधाजनक ढंग से पहुँचाने के लिये संबंधित प्रांतों के अधिकारियों से चर्चा भी की गई है।
    मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि बड़ी संख्या में पैदल यात्रा कर रहे लोगों की समस्या को पूरी संवेदनशीलता के साथ समझते हुये जिलों में उनका अतिथि के रूप में स्वागत कर आवश्यक सुविधा प्रदान की जाये। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कलेक्टर्स से कहा कि संबंधित जिला प्रशासन द्वारा दी गयी राहत से  ऐसे लोगों के चेहरे पर मुस्कान आना चाहिये। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मानव सभ्यता के इतिहास में कभी-कभी ही इस तरह की सेवा के अवसर आते हैं। देश के हृदय प्रदेश में दूसरे प्रदेशों के ऐसे विवश पदयात्रियों का खुले हृदय से स्वागत होना चाहिये। श्रमिक किसी भी राज्य के हों उन्हें मानवीय दृष्टिकोंण से जरूरी सुविधा प्रदान की जाये। उन्होंने कहा कि यह भाव सभी के मन में रहना चाहिए कि हम सब भारत मां के लाल, भेदभाव का कहां सवाल।
    मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रत्येक जिले में सक्षम अधिकारी को इन श्रमिकों को सुविधाएँ देने का दायित्व सौंपा जाये। इस कार्य में स्वैच्छिक संगठन, राजनीतिक दल भी सहयोग करें। श्रमिकों को यह भी समझाईश दी जाये कि वे रेल पटरी और हाईवे या अन्य असुरक्षित स्थान पर विश्राम न करें। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बड़वानी, सीहोर, दतिया, सागर, सिवनी, बालाघाट, मुरैना, बुरहानपुर, अनूपपुर, छतरपुर कलेक्टर्स के साथ ही ग्वालियर, इंदौर, रीवा और शहडोल कमिश्नर्स से भी चर्चा की।
    इस दौरान बड़वानी कलेक्टर श्री अमित तोमर ने बताया कि महाराष्ट्र की सीमा से प्रवेश कर दूसरे राज्य जा रहे मजदूरों के लिये छाया - पानी एवं खाने की व्यवस्था की गई है। इस दौरान जो श्रमिक अपने वाहन से जिले में प्रवेश कर रहे है, उन्हें उनके वाहनो से ही जाने दिया जा रहा है। वही ऐसे श्रमिक जो पैदल जा रहे है उन्हें निकल रहे अन्य वाहनो में बैठाकर आगे भेजा जा रहा है।  इस दौरान श्री तोमर ने रतलाम एवं मेघनगर रेल्वे स्टेशन पर ट्रेन के माध्यम से आ रहे जिले के श्रमिको को बसो के माध्यम से लाकर उनकी समुचित जॉच एवं खाने - पीने की सुविधा सहित पुनः बसो के माध्यम से उनके गृह ग्राम तक पहुचाने की व्यवस्थाओं के बारे में भी विस्तार से अवगत कराया।
    इस दौरान मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस ने भी बताया कि जिलों के मध्य समन्वय बढ़ाकर श्रमिकों के परिवहन की व्यवस्था को पुख्ता किया गया है। अपर मुख्य सचिव एवं राज्य प्रभारी कोरोना कंट्रोल कक्ष श्री आईसीपी केसरी ने जानकारी दी कि रेल मंत्रालय से विभिन्न स्थानों से रेल संचालन के लिये अनुरोध किया गया है। बैठक में बताया गया कि छत्तीसगढ़, महाराष्ट्र, गुजरात, राजस्थान, उत्तरप्रदेश, बिहार और झारखंड राज्यों के साथ श्रमिकों को सुविधाएं देने के बारे में निरंतर संवाद और व्यवस्था का कार्य किया जा रहा है। वीडियो कान्फ्रेंसिंग में पुलिस महानिदेशक श्री विवेक जौहरी और अन्य अधिकारी उपस्थित थे।
(54 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
जूनजुलाई 2020अगस्त
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
293012345
6789101112
13141516171819
20212223242526
272829303112
3456789

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer