समाचार
|| मुख्यमंत्री श्री चौहान ने की वीडियो कांफ्रेंस से कलेक्टर्स-कमिश्नर्स से चर्चा || प्रदेश के विकास को मिलेगी गति || कोरोना अभी खत्म नहीं हुआ, 2 गज की दूरी रखकर संक्रमण से करें सुरक्षा || उपार्जित गेहूँ का सुरक्षित भंडारण किया जा रहा, किसानों को राशि का भुगतान होगा || वर्ष 2020 के खेल पुरस्कारों के लिए ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित || प्रदेश में 15 लाख 65 हजार तेन्दूपत्ता संग्रहित || सरकार ने गेहूँ को सुरक्षित रखने के सभी इंतजाम किये-मंत्री श्री पटेल || श्रमिकों को लेकर अब तक 137 ट्रेन आईं मध्यप्रदेश || ग्रामीण क्षेत्रों में 5 लाख 36 हजार से ज्यादा हैण्डपम्प चालू || हायर सेकेण्डरी की शेष परीक्षाओं के नवीन प्रवेश-पत्र जारी
अन्य ख़बरें
प्रदेश के कोरोना संक्रमित क्षेत्रों में आयी कमी
एक्टिव केसेस की संख्या में निरंतर कमी, मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कोरोना की स्थिति एवं व्यवस्थाओं की समीक्षा की
इन्दौर | 10-मई-2020
            मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश में संक्रमित क्षेत्रों की संख्या में कमी आयी है। पहले प्रदेश में 896 संक्रमित क्षेत्र थे जो घटकर 613 रह गए हैं। वहीं प्रदेश के बैतूल, श्योपुर, अलीराजपुर जिले भी संक्रमण से मुक्त हो गये है, इन जिलों में पिछले 21 दिनों से कोरोना का कोई भी प्रकरण नहीं पाया गया है।
            मुख्यमंत्री श्री चौहान आज मंत्रालय भोपाल में वीसी के माध्यम से प्रदेश में कोरोना की स्थिति एवं व्यवस्थाओं की समीक्षा कर रहे थे। बैठक में मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस, डीजीपी श्री विवेक जौहरी, एसीएस हैल्थ श्री मोहम्मद सुलेमान आदि उपस्थित थे।
एक्टिव केसेस की संख्या अब 1723
            एसीएस हैल्थ श्री मोहम्मद सुलेमान ने बताया कि प्रदेश में अब कोरोना के एक्टिव केसेस की संख्या 1723 रह गयी है, जो कि कुल पॉजिटिव प्रकरणों की संख्या का 48 प्रतिशत है। 10 मई को प्रदेश में 196 कोरोना मरीज स्वस्थ होकर घर गए वहीं 157 व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव पाए गए।
संक्रमित क्षेत्रों का सघन सर्वे करें
            मुख्यमंत्री श्री चौहान ने खंडवा एवं देवास जिले की समीक्षा के दौरान निर्देश दिए कि संक्रमित क्षेत्रों में सघन सर्वे करें। इन क्षेत्रों में लॉकडाउन का सख्ती से पालन हो। कहीं भी भीड़ इकट्ठी न होने दी जाए।
फिजीकल डिस्टेंसिंग आवश्यक
            मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना से बचाव के लिए फिजिकल डिस्टेंसिंग बहुत आवश्यक है। सभी जिलों में इस पर विशेष ध्यान दिया जाए। प्रत्येक जिले में क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की नियमित बैठकें हों। जनप्रतिनिधियों तथा समाज के हर वर्ग का सहयोग लें।
जम्मू से 628 मजदूर आएंगे
अपर मुख्य सचिव श्री आईसीपी केसरी ने बताया कि प्रदेश में बाहर से अभी तक 1 लाख 90 हजार श्रमिक आ गए हैं। शेष आ रहे हैं, इनके लिए प्रतिदिन 7 से 10 ट्रेने प्रदेश आ रही है। जम्मू कश्मीर में हमारे 628 मजदूर फंसे हैं, जिन्हें बस के माध्यम से वापस लाया जा रहा है।
अब कॉल सेंटर 250 सीट का
            प्रमुख सचिव श्री संजय दुबे ने बताया कि अब आने-जाने की अनुमति के लिये बनाए गए कॉल सेंटर 0755-2411180 को 250 सीट का कर दिया गया है, जिससे यह नंबर आसानी से लग जाएगा। आज 10 हजार 691 पास आने-जाने के लिए जारी किए गए।
बाहर के मजदूरों को भी भिजवाने की व्यवस्था करें
            मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि मध्यप्रदेश में फंसे मजदूरों के उनके राज्यों में जाने की व्यवस्था संबंधित राज्य के अधिकारियों से समन्वय कर की जाए। उन्हें कोई तकलीफ नहीं होनी चाहिए।
(26 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
मईजून 2020जुलाई
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
25262728293031
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
293012345

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer