समाचार
|| जुलाई में प्रारंभ हो रही हैं परीक्षाएं || प्रदेश में 2 लाख 57 हजार दावेदारों को उनकी काबिज भूमि के वन अधिकार पत्र वितरित || हायर सेकेण्डरी की शेष परीक्षाओं के नवीन प्रवेश-पत्र जारी || वर्ष 2020 के खेल पुरस्कारों के लिए ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित || उपार्जित गेहूँ का सुरक्षित भंडारण किया जा रहा, किसानों को राशि का भुगतान होगा || मुख्यमंत्री श्री चौहान ने की वीडियो कांफ्रेंस से कलेक्टर्स-कमिश्नर्स से चर्चा || संकल्प लेकर मनाया पर्यावरण दिवस || कृषि समिति की बैठक स्थगित || विश्व पर्यावरण दिवस पर किया गया वृक्षारोपण || 1609 किसानों से 27 हजार 602 क्विंटल चने की हुई खरीदी
अन्य ख़बरें
1400 मजदूरों को लेकर विशेष श्रमिक ट्रेन फरीदाबाद से दमोह पहुंची
कलेक्टर तरूण राठी और पुलिस अधीक्षक हेमंत चौहान, रेल्वे स्टेशन पर रहे मौजूद, स्वास्थ्य परीक्षण उपरांत भोजन पैकेट और पेयजल दिया गया, यहां से मजदूर अपने गंतव्य की ओर बसों से हुए रवाना
दमोह | 12-मई-2020
     मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के विशेष प्रयासों से अन्य राज्यों में फंसे प्रदेश के मजदूरों को लाने का सिलसिला तेजी से शुरू हो गया है। आज 12 मई को एक विशेष श्रमिक स्पेशल ट्रेन फरीदाबाद से प्रातः 9:30 बजे रवाना होकर शाम करीब 7.30 बजे दमोह रेलवे स्टेशन पर पहुंची। इस श्रमिक स्पेशल ट्रेन में लगभग 1400 मजदूर दमोह पहुंचे। उन्हें विशेष बसों के माध्यम से स्वास्थ्य परीक्षण उपरांत गतंव्य की ओर रवाना किया गया। इस अवसर पर कलेक्टर तरूण राठी और पुलिस अधीक्षक हेमंत चौहान मौजूद रहकर व्यवस्थाओं का जायजा लेते रहे और अधिकारियों-कर्मचारियों को दिशा निर्देश देते रहे। इस अवसर पर पुलिस और प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद रहे।
सोशल डिस्टेंस का हुआ पालन
     विशेष ट्रेन दमोह स्टेशन पहुंचते ही रेल पुलिस बल के साथ ही पुलिस और प्रशासन के अधिकारी-कर्मचारी सोशल डिस्टेंस का पालन सुनिश्चित कराते हुए दिखे। यहां पर क्रम से यात्रियों को निकासी द्वारों की ओर भेजा जा रहा था, जहां पर स्वास्थ्य विभाग की टीम प्रत्येक मजदूर का स्वास्थ्य परीक्षण कर रहा था। यहां पर कर्मचारियों को तैनात किया गया था जो बाहर निकल रहे मजदूरों को उनसे पूछकर कहां और किस जिले पर जाना है, तदानुसार उन्हें संबंधित जिलों की बसों के समीप भेजा जा रहा था।
लगभग 1400 मजदूर पहुंचे
     सतना 227, रीवा 190, टीकमगढ़ 31, नरसिंहपुर 01, छतरपुर 285, कटनी 34, दमोह 253, जबलपुर 12, पन्ना 118, सागर 29, शहडोल 44, भिंड 15, ग्वालियर 20, महोबा 01, निवाड़ी 01, मुरैना 17, अनुपपुर 04, सीधी 02, छिन्दवाड़ा 10, खजुराहो 02, भोपाल 03, हरपालपुर 06, महुआ 01, सिंगलोरी 01, उमरिया 29, खंडवा 01, और होशंगाबाद 01 शामिल है।
स्वास्थ्य परीक्षण किया गया
     दमोह रेल्वे स्टेशन पर 2 निकासी द्वारों पर स्वास्थ्य परीक्षण की व्यवस्था की गई थी, जहां आये मजदूरों का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया।
भोजन-पानी की व्यवस्था
     विशेष ट्रेन से दमोह पहुंचे ही इन मजदूरों को भोजन पैकेट मुहैया कर उनके गतंव्य की ओर रवाना किया गया। इसमें दमोह जिले के अलावा अन्य जिलों के मजदूरों के लिए उनके गृह जिले पहुंचाने बसों की व्यवस्था रही। यहां से छतरपुर के लिए 6 बसें, पन्ना के लिए 3 बसें, सतना के लिए 6 बसें, रीवा के लिए 3 बसे, शहडोल के लिए 2 बसे, जबलपुर के लिए एक बस की व्यवस्था की गई थी। इसके अलावा भी बसों की वैकल्पिक व्यवस्था रखी गई थी। यहां एसडीएम रवीन्द्र चौकसे द्वारा प्रत्येक बसों के लिए पटवारियों की ड्यूटी लगाई गई थी।
सूचना केन्द्र बनाया गया
     बाहर से आ रहे मजदूरों को समुचित जानकारी देने के लिए प्रशासन द्वारा कंट्रोल रूम (सूचना केन्द्र) स्टेशन परिसर के बाहर बनाया गया था, जहां से लगातार एनाउंस किया जा रहा था।
 
(24 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
मईजून 2020जुलाई
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
25262728293031
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
293012345

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer