समाचार
|| कलेक्टर ने किया आयुर्वेद कॉलेज और मनमोहन || 304 व्यक्तियों से वसूला गया 30 हजार 550 रुपये का जुर्माना (रोको-टोको अभियान) || कोरोना के संक्रमण से मुक्त होने पर 189 व्यक्ति डिस्चार्ज || शाजापुर जिले में आज 16 कारोना पाजीटिव मरीज मिले || प्रदेश सरकार गरीब एवं असहायों तक जल्द से जल्द सहायता पहुँचाने के लिये कटिबद्ध – गृह मंत्री डॉ. मिश्र || नारी के सम्मान में ही संस्कृति का उत्थान है - मंत्री डॉ. मिश्रा || ऊर्जा मंत्री श्री तोमर आज विभिन्न कार्यक्रमों में शामिल होंगे || सशक्त महिलायें बनाएंगी सशक्त मध्यप्रदेश || मेडिकल कॉलेज के स्वशासी अधिकारियों एवं कर्मचारियों के लिए भी शासकीय कर्मचारियों के समान || 6739 हितग्राहियों को चार करोड़ 61 लाख से अधिक की राशि का हितलाभ वितरण
अन्य ख़बरें
सभी जिलों में कोरोना इलाज की सर्वश्रेष्ठ व्यवस्था सुनिश्चित करें
संक्रमण रोकने के करें हरसंभव प्रयास, मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कोरोना की स्थिति एवं व्यवस्थाओं की समीक्षा की
नरसिंहपुर | 15-मई-2020
      मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश के सभी जिलों में कोरोना इलाज की सर्वश्रेष्ठ व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जाएं। हमें हर कोरोना मरीज को स्वस्थ कर उसके घर भिजवाना है। कोरोना अस्पतालों में सभी व्यवस्थाएं हों और पूरी तत्परता एवं सावधानी के साथ प्रोटोकॉल का पूरा पालन करते हुए इलाज किया जाए। संक्रमित क्षेत्रों में लॉकडाउन का सख्ती से पालन कराया जाए तथा संक्रमण रोकने के हरसंभव प्रयास किए जाएं।

         मुख्यमंत्री श्री चौहान आज मंत्रालय में वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रदेश में कोरोना की स्थिति एवं व्यवस्थाओं की समीक्षा कर रहे थे। इस अवसर पर स्वास्थ्य मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा, मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस, डीजीपी श्री विवेक जौहरी, एसीएस हैल्थ श्री मोहम्मद सुलेमान आदि उपस्थित थे।

इंदौर देश में आदर्श स्थापित करें

         मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इंदौर जिले की समीक्षा के दौरान कहा कि कोरोना नियंत्रण की दिशा में इंदौर में सराहनीय कार्य हुआ है। आगे भी पूरी सजगता एवं सावधानी से इसी प्रकार कार्य किया जाए, जिससे इंदौर को कोरोना मुक्त कर देश में आदर्श स्थापित कर सकें। झाबुआ जिले की समीक्षा के दौरान निर्देश दिए गए कि जिले में कोरोना संक्रमण न बढ़ने दिया जाए। प्रवासी मजदूरों का सीमा पर हैल्थ चेकअप सुनिश्चित किया जाए।

तीन लाख 12 हजार प्रवासी मजदूर प्रदेश पहुँचे

         प्रवासी मजदूरों की मध्यप्रदेश लौटने के कार्य की समीक्षा के दौरान बताया गया कि विभिन्न प्रदेशों से अभी तक कुल 3 लाख 12 हजार प्रवासी मजदूर मध्यप्रदेश लौट आए हैं। इनमें से 86 हजार मजदूर 72 ट्रेन के माध्यम से प्रदेश वापस लौंटे हैं तथा 2 लाख 26 हजार मजदूर बसों आदि के माध्यम से आए हैं। महाराष्ट्र से 68 हजार मजदूर 25 ट्रेन के माध्यम से, गुजरात से 01 लाख 58 हजार मजदूर 23 ट्रेन के माध्यम से मध्यप्रदेश आए हैं। हरियाणा से 12 तथा तेलंगाना से 05 ट्रेने आयी हैं। अभी मजदूरों का आना जारी है।

उपार्जन का उत्कृष्ट कार्य

         मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रदेश में गेहूँ उपार्जन के उत्कृष्ट कार्य के लिए सभी संबंधितों की सराहना की। बताया गया कि प्रदेश में अभी तक 79.50 लाख मीट्रिक टन गेहूँ की खरीदी 12 लाख किसानों से हो चुकी है। इनमें से 8 लाख 30 हजार किसानों को 8 हजार 500 करोड़ रूपए का भुगतान भी किया जा चुका है। मंत्री श्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि कुछ केन्द्रों पर लाईनें लगने की सूचना आयी है। इस संबंध में यह सुनिश्चित किया जाए कि कहीं भी भीड़ न हो तथा फिजिकल डिस्टेंसिंग का पूरा पालन किया जाए।

मनरेगा की मजदूरी समय पर मिले

         मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में व्यापक पैमाने पर मनरेगा के कार्य चल रहे हैं। आज की स्थिति में प्रदेश केविभिन्न स्थानों पर 18 लाख 81 हजार 666 मजदूर कार्य कर रहे हैं। उन्होंने निर्देश दिए कि मजदूरों को समय पर मजदूरी मिल जाए यह सुनिश्चित किया जाए।
 
(128 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
अगस्तसितम्बर 2020अक्तूबर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
31123456
78910111213
14151617181920
21222324252627
2829301234
567891011

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer