समाचार
|| कोरोना हेल्‍थ बुलेटिन - 02 जून 2020 || आज का अधिकतम तापमान 34.6 डि.से. || आज 04 कोरोना पॉजिटिव मरीज स्वस्थ होकर अपने घर लौटे "खुशियों की दास्तां" || कोविड-19 के अंतर्गत बेहतर कार्य करने पर हुए सम्मानित || बीते 24 घंटे में हुई 0.4 मिलीमीटर औसत वर्षा || प्रदेश से बाहर जाने और अन्य प्रदेश से मध्यप्रदेश में यात्रा के लिए ई पास आवश्यक नहीं || मास्‍क न लगाने वाले 151 व्‍यक्तियों पर लगा अर्थदण्‍ड || डीएलसीसी की बैठक 6 जून को || शहर में वर्षा पूर्व नाले-नालियों के साफ-सफाई का कार्य प्रारंभ || जिले की तहसीलों में हुई बारिश, तो कई तहसीलों में बौछारे गिरी
अन्य ख़बरें
नाले के ऊपर अतिक्रमण कर बनाये निर्माण कार्यों को हटाये- संभागायुक्त श्री कियावत
शहर में कहीं भी जलभराव की स्थिति नहीं बने
भोपाल | 17-मई-2020
 
   
           
    पानी के प्राकृतिक बहाव के मार्ग में आने वाले नाले के ऊपर अतिक्रमण कर बने निर्माणों को हटाएँ। ये निर्देश संभागायुक्त श्री कविंद्र कियावत ने निगम अधिकारियों को दिये है। शहर में जल भराव की गंभीर स्थिति ना बनने देने के लिए आवश्यक पूर्व तैयारियों का जायजा लेने के क्रम में आज सुबह श्री कियावत चार इमली से  होशंगाबाद रोड के आस पास के क्षेत्रों में पहुंचे। उनके साथ आयुक्त नगर निगम श्री विजय दत्ता भी थे।
 चार इमली वाला नाला
           
          पत्रकार कॉलोनी, पंचशील नगर और हर्षवर्धन नगर की समस्या बने नाले की बैकवाटर की स्थिति से निपटने के लिए श्री कियावत ने उसे संभावित स्थानों पर चौड़ा करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा जिन स्थानों में पोकलेन उतार सकते है वहा पोकलेन उतारे, संकरे क्षेत्रों में मजदूर लगाकर सफाई करवाए। किसी भी स्थिति में जल भराव की स्थिति उत्पन्न होने पर संबंधित अधिकारी के विरुद्ध कार्रवाई  की जाएगी।
 आमवाली पुलिया होशंगाबाद रोड
                   होशंगाबाद रोड से जुड़े इस नाले में बारिश का पानी सीधे आएगा और इससे आसपास के क्षेत्रों में जलभराव की स्थिति बनेगी। इसे पोकलेन मशीन लगाकर साफ कराएं। इसके आसपास के क्षेत्रों में विगत वर्षों में जहां-जहां समस्या आती थी उन्हें ढूंढ ले और उसे दूर करें। जलभराव की स्थिति ना निर्मित होने दें।
 राष्ट्रीय संस्कृत संस्थान बागसेवनिया नाला
              सुरेन्द्र गार्डन और संस्कृत संस्थान इस नाले के बैकवाटर की समस्या से ग्रसित है। श्री कियावत ने संतोषपूर्वक सफाई कार्य ना होने पर नाराजगी जताई। उन्होने कहा सफाई कार्यों में नाले की सफाई के साथ आस पास उगी झाड़ियां भी साफ़ करे। नाले के आस पास के क्षेत्रों को गहरा कर पानी के बहाव के लिए जगह बनाए।
 भाभा इंस्टिट्यूट नाला
            इस नाले से गोल्डन सिटी और बाबा इंस्टिट्यूट के परिसर में जलभराव की स्थिति निर्मित होती है। श्री कियावत ने नाले के बहाव के रास्ते में बने निर्माण को देखकर  निगम के अधिकारियों से पूछा नाले के ऊपर बने अतिक्रमण को अभी तक क्यों नहीं तोड़ा गया। नाली के प्राकृतिक बहाव को को रोकने वाले सभी निर्माण कार्यों पर तत्काल रूप से कार्रवाई करें। आज ही इस नाले में पोकलेन मशीन से सफाई शुरू करें। सफाई कार्य ना होने की स्थिति में कड़ी अनुशासनात्मक कार्रवाई के लिए तैयार रहें।
 रूचि लाइफ कॉलोनी नाला, रातीबड़
                    होशंगाबाद रोड के क्षेत्रों से पानी लाता यह नाला बरसात के दिनों में इस कॉलोनी और आसपास के क्षेत्रों में जलभराव की स्थिति निर्मित करता है। श्री कियावत ने नगर निगम के अधिकारियों को जल्द से जल्द पोकलेन मशीन और मजदूरों के द्वारा इस नाले को जल्द से जल्द साफ करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा यह योजना बनाने का समय नहीं है, यह वक़्त है मैदान में जुट जाने का। आप सुबह से लेकर शाम तक कार्य करे और समयसीमा के भीतर इस कार्य को पूरा करे।
                 संभागायुक्त श्री कियावत ने नगर निगम के अधिकारियों से कहा बारिश के जलभराव से सबसे अधिक परेशान गरीब तबके के लोग होते है। उनकी गृहस्थी बह जाती है। उनकी समस्या हमारी प्राथमिकता होनी चाहिए। आप अपने कार्यों के साथ साथ इस कार्य को जिम्मेदारी और समर्पण से करे। यह एक कार्य के साथ साथ हमारा नैतिक दायित्व भी है। कर्मचारियों को सुबह-सुबह संक्षिप्त रूप से उनके दिन भर के कार्य को समझाएं और दिन में समय अंतराल पर प्रगति की रिपोर्ट लें। इस कार्य को टीम भावना के साथ समय सीमा में पूर्ण करें।
(16 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
मईजून 2020जुलाई
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
25262728293031
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
293012345

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer