समाचार
|| मास्क न पहनने पर 26 लोगो से 32 सौ रूपये का जुर्माना || मंगलवार 9 जून को होगी अमानक धान की ऑफ लाइन नीलामी || धार्मिक प्रतिष्ठानों एवं पूजा-स्थलों पर बरतनी होगी सावधानियाँ || एक ही फोरम पर उपलब्ध होंगी रोजगार लेने और देने वालों की जानकारी रोजगार सेतु पोर्टल का लोकार्पण 10 जून को || दुग्ध उत्पादकों, किसानों को के.सी.सी. देने का अभियान प्रारंभ || मानसून सीजन में खतरनाक हो सकते हैं बिजली के झटके || प्रदेश में 2 लाख 57 हजार दावेदारों को उनकी काबिज भूमि के वन अधिकार पत्र वितरित || सीएमएचओ ने की श्यामपुर विकासखण्ड की समीक्षा || जिले में स्थापित क्वांरेटाईन सेंटरों में आयुष विभाग द्वारा पिलाया गया आरोग्य कषायम्-20 का काढ़ा || फसलों में कीट व्याधि एवं कृषकों को सलाह हेतु निगरानी दल गठित
अन्य ख़बरें
जिले में लॉकडाउन-4 के संबंध में दिशा-निर्देश जारी
शाम 07 बजे से सुबह 07 बजे तक पूर्णतः बंद रहेगा आवागमन, लॉकडाउन के निर्देशानुसार व्यवसायिक गतिविधियां की जा सकेंगी संचालित
रायसेन | 19-मई-2020
 
   
    नोवेल कोरोना वायरस संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए केन्द्र सरकार द्वारा सम्पूर्ण देश में 31 मई तक लॉकडाउन लागू किया गया है। कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव के आदेशानुसार रायसेन जिले में तत्काल प्रभाव से संपूर्ण लॉकडाउन घोषित रहेगा। संपूर्ण लॉकडाउन में किसी भी व्यक्ति को अनावश्यक रूप से अपने घर से बाहर निकलने की अनुमति नहीं होगी। जिले की समस्त सीमाएँ सील कर दी गई हैं तथा किसी भी माध्यम से सड़क एवं रेल से जिले की सीमा में बाहरी लोगो का आगमन बिना वैध अनुमति के प्रतिबंधित किया गया है। जिले में निवासरत नागरिकों को भी जिले की सीमा से बाहर जाना तत्काल प्रभाव से प्रतिबंधित किया गया है।
    संपूर्ण जिले में बसो का संचालन प्रतिबंधित रहेगा। जिले में हॉट-बाजारो का आयोजन प्रतिबंधित रहेगा। अत्यावश्यक गतिविधियों को छोड़कर सांयकाल 07.00 बजे से प्रातः 07 बजे के मध्य जनसामान्य का आवागमन प्रतिबंधित (कफर्यू) रहेगा। स्वास्थ्य कारणों को छोडकर, समस्त 65 वर्ष से अधिक आयु वर्ग वाले वृद्व व्यक्तियों/बीमार व्यक्तियों/गर्भवती महिलाओं तथा 10 वर्ष से कम आयु वाले बच्चों को बाहर जाने की अनुमति नही होगी। सभी सार्वजनिक स्थलों/कार्य स्थलों पर फेस कवर (मॉस्क) पहनना अनिवार्य किया गया है। सर्वाजनिक स्थलो पर 05 से अधिक व्यक्तियों के एकत्र होने पर प्रतिबंध लगाया गया है। सार्वजनिक स्थल पर थूकना दंडनीय अपराध है तथा सार्वजनिक स्थलों पर शराब, पान, गुटका, तंबाकू आदि का सेवन प्रतिबंधित रहेगा।
जिले में यह गतिविधियाँ पूर्णतः प्रतिबंधित रहेगी  
    जिले में सभी शैक्षाणिक, प्रशिक्षण, कोचिंग संस्थान बंद रहेगें। लेकिन ऑनलाईन तथा डिसटेंस लर्निंग की अनुमति जारी रहेगी। सभी सिनेमा हॉल, शॉपिग मॉल, व्यायामशाला, स्विमिंग पूल, थियेटर, बार और ऑडिटोरियम, असेंबली हॉल बन्द रहेंगे। खेल परिसर तथा स्टेडियम मात्र खिलाड़ियों के अभ्यास हेतु खोले जा सकेगे, अन्य दर्शको का प्रवेश प्रतिबंधित रहेगा। सभी प्रकार के धार्मिक, सामाजिक, राजनैतिक, खेलकूद, मनोरंजन, एकेडमिक, सांस्कृतिक समारोह/कार्यक्रम प्रतिबंधित रहेंगे। सभी प्रकार के धार्मिक स्थल/पूजा स्थल जनमानस के लिए बंद रखे जाएंगे तथा धार्मिक सभाओं पर पूर्णतः प्रतिबंध रहेगा। सभी हेयर कटिंग सेलून, व्यूटी पार्लर, मसाज पार्लर, स्पा सेंटर, जिम एवं चूड़ियों की दुकाने पूर्णतः बंद रहेगी।
जिले में कन्टेनमेंट एरिया को छोड़कर यह गतिविधियां आवश्यक शर्तों के साथ की जा सकेगी संचालित
    जिले में सभी व्यावसायिक प्रतिष्ठान खोलने की अनुमति रहेगी। परंतु संचालक अपनी दुकान की सामग्री को दुकान की सीमा से बाहर प्रदर्शित नही करेंगे। व्यवसायिक प्रतिष्ठानों पर क्रेता एवं विक्रेता के मध्य 06 फीट ( 02 गज) की दूरी होना आवश्यक है तथा मॉस्क पहनना अनिवार्य होगा। किसी भी व्यवसायिक प्रतिष्ठान/दुकान पर एक समय में एक साथ 05 से अधिक ग्राहकों को प्रवेश की अनुमति नही रहेगी। इसके लिए संबंधित दुकान/संस्था के प्रभारी की सम्पूर्ण जिम्मेदारी होगी। रेस्टोरेंट /भोजनालय पूर्णतः बंद रहेगे लेकिन उनकी किचन संचालित होती रहेगी जिसके माध्यम से वे होम टिफिन/पार्सल सेवाएं (घर पहुंच सेवा) प्रदान कर सकेंगे। रेडी टू ईट वस्तुओं की होम डिलेवरी चालू रहेगी। रेस्टोरेट/भोजनालय पर कोई भी कुर्सी-टेबल नही रखी जाएगी और ना ही खाना आदि परोसा जाएगा। रेल्वे स्टेशन पर संचालित कैटिन को संचालन की अनुमति होगी। इनका उल्लंघन करने पर संबंधितों के विरूद्ध नियमानुसार कार्यवाही की जाएगी।
कार्यस्थल/अन्य गतिविधियो की जा सकेगी संचालित ( कन्टेनमेंट पार्ट को छोड़कर)
    जिले में समस्त शासकीय/अर्द्वशासकीय/ अशासकीय कार्यालयों (केन्द्र शासन संबंधित कार्यालयो सहित) संचालन की अनुमति रहेगी, परन्तु कनटेनमेंट जोन के अंतर्गत आने वाले स्टॉफ को कार्यालय जाने की अनुमति नही रहेगी। समस्त स्टॉफ को अरोग्य सेतु ऐप उपयोग करना अनिवार्य है। शासकीय/अर्द्वशासकीय/अशासकीय कार्यालयो में थर्मल स्कैनिंग, हैंड बॉश और सेनिटाईजर तथा कार्यस्थल पर ऐसे स्थल जो बार-बार मानव संपर्क में आते है जैसे डोर हैडल आदि को सेनेटाईज की जाने की व्यवस्था सुनिश्चित किया जाना अनिवार्य है।
   सभी प्रकार की निर्माण गतिविधियों की अनुमति रहेगी, किंतु श्रमिको को साईट के आस-पास ही निवास करना होगा। निर्माण सामग्री को कार्यस्थल पर डिलेवरी करना होगा। अंतिम संस्कार के विषय में 20 से अधिक व्यक्तियो को अनुमति नही दी जावेगी और उक्त कार्यक्रम में सोशल डिस्टेसिंग का पालन किया जाना अनिवार्य होगा। विवाह आयोजन में 50 से अधिक व्यक्तियों की उपस्थिति प्रतिबंधित रहेगी। विवाह में चल समारोह पूर्णतः प्रतिबंधित रहेगा। आयोजन के दौरान सोशल डिस्टेसिंग तथा कोविड- 19 के संबंध में स्वास्थ्य विभाग की गाईडलाईन का पालन किया जाना अनिवार्य है।
    इसी प्रकार ग्रामीण क्षेत्रों में सभी औद्योगिक गतिविधियों की अनुमति रहेगी। सभी बैंकिग एवं बीमा संस्थान खनन संबंधित समस्त संक्रियाएं (गिट्टी केशर आदि सहित), शासकीय अथवा निजी समस्त प्रकार के निर्माण एवं श्रम आधारित कार्य, कृषि से संबंधित समस्त कार्य की अनुमति रहेगी।
    शहरी क्षेत्रों में औद्योगिक प्रतिष्ठानः केवल विशेष आर्थिक क्षेत्र), निर्यात उन्मुख इकाइयां, औद्योगिक एस्टेट और औद्योगिक कस्वों में प्रवेश नियंत्रणः दवाओं, फार्मास्यूटिकल्स, चिकित्सा उपकरणों, उनके कच्चे माल और मध्यवर्ती, उत्पादन इकाइयों सहित आवश्यक वस्तुओं की विनिर्माण इकाइयां, जिन्हें निरंतर प्रक्रिया की आवश्यकता होती है और उनकी आपूर्ति श्रृंखला : आईटी हार्डवेयर, जूट उद्योग शिफ्ट अंतराल और सोशल डिस्टेंसिंग के साथ और, पैकेजिंग रागग्री की विनिर्माण इकाइयों को अनुमति है। पूर्वानुसार एमडी एकेव्हीएन भोपाल द्वारा अनुमति जारी की जा सकेगी।

जिले में परिवहन व्यवस्था इस प्रकार की जाएगी संचालित

    अगर किसी व्यक्ति को जिले से बाहर निकलना या जिले के बाहर से जिले में प्रवेश करना आवश्यक हो, तो ई-पास प्रणाली के अंतर्गत विधिवत वांछित दस्तावेज अपलोड कर पास प्राप्त करने पर ही अनुमति होगी। प्रत्येक ट्रक/मालगाडी में दो चालक व एक हेल्पर तथा प्रत्येक निजी फोर व्हीलर गाडी में चालक एवं अधिकत्तम दो व्यक्ति और प्रत्येक टू-व्हीलर पर केवल चालक हेतु अनुमति रहेगी। अस्पताल सहायता सेवा तथा एम्बूलेंस को जिले के अंदर तथा जिले के बाहर परिवहन की अनुमति होगी।
    इसी प्रकार प्रवासी श्रमिक, छात्र-छात्राओ एवं अन्य जिला/राज्य में फंसे हुए लोगो को शासन द्वारा आवागमन हेतु टेक्सी/बस/ट्रेन का परिवहन इस आदेश से मुक्त रहेगा। उपखण्ड मजिस्ट्रेट/पुलिस अधिकारी तथा कार्यपालिक मजिस्ट्रेट इस आदेश का पालन कराया जाना सुनिश्चित करेगे।
(18 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
मईजून 2020जुलाई
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
25262728293031
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
293012345

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer